नोटबंदी काले धन को सफेद बनाने वाली योजना थी : राहुल गांधी

NewsCode | 30 November, 2017 3:30 PM
newscode-image

अमरेली | कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को नोटबंदी को काले धन को सफेद बनाने वाली योजना करार दिया और साथ ही उन्होंने राजग के सत्ता में आने के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह की कंपनी को बड़े पैमाने पर हुए फायदे का मुद्दा उठाया।

गांधी ने यहां एक चुनावी रैली में कहा, “नोटबंदी को अचानक लागू किया गया था, शायद उन्हें 500 और 1,000 रुपये के नोट पसंद नहीं आए। आठ नवंबर को पूरे देश कतार में खड़ा था.. लेकिन क्या आपने बैंक के बाहर कतार में गुजरात के किसी भी बड़े उद्योगपति को देखा था? क्या आपने किसी मर्सिडीज कार वाले को कतार में खड़े देखा?”

राहुल ने कहा, “जो मर्सिडीज चलाते हैं, वे पीछे के दरवाजे से बैंक में गए और उन्होंने अपने काले धन को बदलवा लिया।”

कांग्रेस नेता ने आगे कहा, “यह नोटबंदी की वास्तविकता है। चोरों ने अपने काले धन को सफेद कर लिया और आप कतार में खड़े रहे।”

उन्होंने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह की कंपनी का भी मुद्दा उठाया।

राहुल ने कहा, “जादुई रूप से अमित शाह के बेटे की कंपनी ने तीन महीने में 50,000 रुपये से 80 करोड़ रुपये कमा लिए.. लेकिन मुनाफा कमाने वाली कंपनी तीन महीने में बंद हो गई।

राहुल गांधी ने आगे कहा कि मोदी सरकार ने गुजरात चुनाव से पहले संसद के शीतकालीन सत्र को टाल दिया, क्योंकि वह जय शाह की कंपनी और राफेल सौदे जैसे मुद्दों से डरती है।

(आईएएनएस)

UGC का फरमान- 29 सितंबर को यूनिवर्सिटी मनाएं ‘सर्जिकल स्ट्राइक दिवस’, कांग्रेस ने की आलोचना

NewsCode | 21 September, 2018 5:34 PM
newscode-image

नई दिल्ली। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने देशभर के विश्वविद्यालयों और उच्च शिक्षण संस्थानों को 29 सितंबर को ‘सर्जिकल स्ट्राइक दिवस’ के तौर पर मनाने का आदेश दिया है। UGC ने सर्जिकल स्ट्राइक डे मनाने के लिए सशस्त्र बलों के बलिदान के बारे में पूर्व सैनिकों से संवाद सत्र, विशेष परेड, प्रदर्शनियों का आयोजन और सशस्त्र बलों को अपना समर्थन देने के लिए उन्हें ग्रीटिंग कार्ड भेजने समेत अन्य गतिविधियां आयोजित करने का सुझाव भी दिया है।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक आयोग ने सभी कुलपतियों को गुरुवार को भेजे एक लेटर में कहा, ‘सभी विश्वविद्यालयों की एनसीसी की इकाइयों को 29 सितंबर को विशेष परेड का आयोजन करना चाहिए जिसके बाद एनसीसी के कमांडर सरहद की रक्षा के तौर-तरीकों के बारे में उन्हें संबोधित करें।’

यूजीसी ने कहा कि विश्वविद्यालय सशस्त्र बलों के बलिदान के बारे में छात्रों को संवेदनशील करने के लिए पूर्व सैनिकों को शामिल करके संवाद सत्र का आयोजन कर सकते हैं।

पत्र में कहा गया है, ‘इंडिया गेट के पास 29 सितंबर को एक मल्टीमीडिया प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा। इसी तरह की प्रदर्शनियों का आयोजन राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों, अहम शहरों, समूचे देश की छावनियों में किया जा सकता है। इन संस्थानों को छात्रों को प्रेरित करना चाहिए और संकाय सदस्यों को इन प्रदर्शनियों में जाना चाहिए।’

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने की आलोचना

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने ट्विटर पर यूजीसी के इस निर्णय की आलोचना की है। उन्होंने लिखा है, ‘यूजीसी ने सभी यूनिवर्सिटीज को 29 सितंबर को सर्जिकल स्ट्राइक डे के रूप में मनाने का आदेश दिया है। यह लोगों को शिक्षित करने के लिए बना है या बीजेपी के राजनीतिक हित साधने के लिए? क्या यूजीसी 8 नवंबर (नोटबंदी) को गरीबों का निवाला छीनने के सर्जिकल स्ट्राइक दिवस के रूप में मनाने की हिम्मत कर पाएगा? यह एक और जुमला है!

वहीं, मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि यूनिवर्सिटीज सर्जिकल स्ट्राइक दिवस को मनाने के लिए बाध्य नहीं हैं। जावड़ेकर ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक को समर्पित इस कार्यक्रम को मनाने का सुझाव हमें कई शिक्षकों और विद्यार्थियों से मिला था, इसलिए हमने इसके आयोजन का फैसला किया है।

गौरतलब है कि भारत ने 29 सितंबर 2016 को PoK में नियंत्रण रेखा के पार आतंकवादियों के सात अड्डों पर लक्षित कर हमले किए थे। सेना ने कहा था कि विशेष बलों ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से घुसपैठ की तैयारी में जुटे आतंकवादियों को भारी नुकसान पहुंचाया है।

18 सितंबर 2016 को पाकिस्तान से आए आतंकियों ने भारत के उरी कैंप पर हमला किया और भारत के 19 जवान शहीद हुए थे। उरी हमले के करीब दस दिन बाद 28-29 सितंबर 2016 की रात भारतीय सेना ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में घुसकर आतंकियों के ठिकानों को तहस-नहस कर दिया था।


सर्जिकल स्ट्राइक के नए वीडियो पर भड़की कांग्रेस, कहा-बलिदान को वोट में बदलने की कोशिश कर रही BJP

अब झूठ नहीं बोल पाएगा पाकिस्तान, पहली बार सामने आया PoK में टेरर कैंपों पर सर्जिकल स्ट्राइक का Video

जम्मू-कश्मीर: 3 पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद 7 SPO का इस्तीफा, गृह मंत्रालय ने बताया- अफवाह

इमरान के खत पर बदला भारत का रुख, UN बैठक के दौरान पाक विदेश मंत्री से मिलेंगी सुषमा

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

चांडिल : पारगामा मेंं इंद मेला का आयोजन

NewsCode Jharkhand | 21 September, 2018 9:28 PM
newscode-image

चांडिल। शुक्रवार को कुकड़ू प्रखंड के पारगामा मेंं इंद मेला का आयोजन किया गया।कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि सिल्ली के पूूर्व विधायक  अमित महतो व विशिष्ट अतिथि झामुमो नेता लालटु महतो उपस्थित  हुए।

मौके पर उपस्थित हजारो हजार की संख्या महिला- पुरुषोंं को अमित महतो ने संबोधित किया। इस अवसर पर   मेला अध्यक्ष स्वपन महतो, युवा छात्र मोर्चा जिलाध्यक्ष नेता सुदामा हेम्ब्रम, चाण्डिल युवा  प्रखण्ड अध्यक्ष राहुल वर्मा, छात्र नेता सुमित टुडू, दीनबंधु महतो, रुपेश वर्मा, सतीश हासदा, सुकेन्दर हेम्ब्रम आदि उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

लातेहार : पीएलएफआइ उग्रवादी गुड्डन गंझू गिरफ्तार, गया जेल

NewsCode Jharkhand | 21 September, 2018 9:20 PM
newscode-image

 लातेहार। चंदवा पुलिस द्वारा छापेमारी अभियान चलाकर पीएलएफआइ उग्रवादी गुड्डन  गंझू को गिरफ्तार कर लिया गया। थाने  में पूछताछ  के बाद उसे लातेहार जेल भेज दिया गया है।

इस बात की जानकारी थाना प्रभारी मोहन पांडेय ने दिया। उन्होंने बताया कि   11 दिसम्बर 2017 की देर रात चंदवा थाना से लगभग 10 किलोमीटर दूर महुआमिलान गांव में पीएलएफआइ उग्रवादियों ने महुआमिलान से देवनदिया तक प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना निर्माण कार्य में लगे जेसीबी व ट्रैक्टर को फूंक दिया था।

इस घटना में गंझू का सबसे बड़ा हाथ था। गिरफ्तार उग्रवादी पर चंदवा के अलावा बालूमाथ थाना में भी मामला दर्ज है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

सरायकेला : मुहर्रम जुलूस में अखाड़ा कमिटियों ने दिखाये हैरतंगेज...

more-story-image

रांची : फेडरेशन चेम्बर पर्यावरण सुरक्षा उप समिति ने किया...