छोटे कारोबारियों के लिए गूगल लेकर आया ये खास टूल, आसानी से फैला पाएंगे अपना बिजनेस

NewsCode | 1 July, 2018 7:43 PM
newscode-image

नई दिल्ली। गूगल ने छोटे कारोबारियों को संबंधित ग्राहकों से ऑनलाइन जुड़ने में मदद करने के लिए ‘स्मार्ट’ कैंपेन शुरू किया है, जिससे वे मिनटों में विज्ञापन बना सकते हैं। साथ ही गूगल ने ये भी कहा कि उसके एडवर्टाइजमेंट प्रोडक्ट लाइनअप ‘गूगल एडवर्ड्स’ को अब ‘गूगल एड्स’ नाम से जाना जाएगा।

गूगल के प्रोडक्ट मैनेजमेंट डायरेक्टर किम स्पैल्डिंग ने एक ब्लॉग पोस्ट में लिखा, ‘गूगल एड्स शुरू होने से छोटे कारोबारी अब स्मार्ट कैंपेन का इस्तेमाल कर सकते हैं।’ किम ने जानकारी दी है कि फिलहाल इसे अमेरिका में शुरू किया गया है और इस साल के अंत तक इसे दुनियाभर में उपलब्ध कराया जाएगा। ज्ञात हो कि गूगल ने करीब 18 साल पहले अपने विज्ञापन उत्पादों की कड़ी की शुरुआत की थी।

स्पैल्डिंग ने कहा, ‘हम छोटे कारोबारियों के लिए गूगल एड्स पर इनोवेशन और एड टेक्नोलॉजी को अपनाकर स्मार्ट कैंपेन का निर्माण करते हैं। अब आप मिनटों में विज्ञापन बना सकते हैं और उनके वास्तविक परिणाम का संचालन कर सकते हैं।’

साथ ही गूगल ने ये भी जानकारी दी कि कंपनी इस साल के अंत तक एक नया एडवर्टाइजमेंट टूल ‘इमेज पिकर’ भी लॉन्च करेगी। इस टूल से कारोबारी गूगल द्वारा दिए गए तीन इमेज का इस्तेमाल कर पाएंगे या खुद भी इमेज अपलोड कर पाएंगे।

इसके अलावा आपको बता दें हाल ही में गूगल ने कहा था कि वो पत्रकारों को फर्जी खबरों का शिकार होने से बचाने के भारत में अगले एक साल में 8,000 पत्रकारों को ट्रेनिंग देगा, जिसमें अंग्रेजी समेत 6 भारतीय भाषाओं के पत्रकार शामिल होंगे।

इसके तहत, गूगल न्यूज इनीशिएटिव इंडिया ट्रेनिंग नेटवर्क देश भर के शहरों से 200 पत्रकारों का चयन करेगा, जो पांच दिनों के प्रशिक्षण शिविर में सत्यापन और प्रशिक्षण के अपने कौशल को निखारेंगे। यह शिविर अंग्रेजी समेत छह अन्य भारतीय भाषाओं के लिए आयोजित किया जाएगा।

सर्टिफाइड ट्रेनर्स के इस नेटवर्क द्वारा पत्रकारों के लिए दो दिवसीय, एक दिवसीय और आधा दिन की वर्कशॉप का आयोजन भी किया जाएगा। गूगल इंडिया ने एक बयान में कहा कि भारत के शहरों में अंग्रेजी, हिंदी, तमिल, तेलुगू, बंगाली, मराठी और कन्नड़ में ट्रेनिंग वर्कशॉप का आयोजन किया जाएगा।

फेक न्यूज पर लगाम लगाने के लिए गूगल ने उठाया ये कदम

जानिये कब लॉन्च होगी मासेराती लेवांते जीटीएस पेट्रोल

NewsCode | 21 July, 2018 4:47 PM
newscode-image

मासेराती लेवांते का पेट्रोल वेरिएंट जीटीएस भारत में दस्तक देने के लिए तैयार है। जानकारी मिली है कि लेवांते जीटीएस पेट्रोल को 2018 की चौथी तिमाही में भारत में लॉन्च किया जाएगा।

लेवांते जीटीएस पेट्रोल में 3.8 लीटर का वी8 इंजन मिलेगा, जो 550 पीएस की पावर देगा। 0 से 100 किमी प्रति घंटा की रफ्तार पाने में इसे 4.2 सेकंड का समय लगेगा।

भारत में उपलब्ध लेवांते डीज़ल से तुलना करें तो पेट्रोल वेरिएंट ज्यादा पावरफुल और ज्यादा फुर्तिला है। डीज़ल वेरिएंट में 3.0 लीटर का वी6 डीज़ल लगा है, जो 275 पीएस की पावर देता है। 0 से 100 किमी प्रति घंटा की रफ्तार पाने में इसे 6.9 सेकंड का समय लगता है। इस मामले में पेट्रोल वेरिएंट 2.7 सेकंड तेज है।

लेवांते डीज़ल तीन वेरिएंट स्टैंडर्ड, ग्रां स्पोर्ट और ग्रां लूस्सो में उपलब्ध है। इसकी कीमत 1.45 करोड़ रूपए है। कयास लगाए जा रहे हैं कि जीटीएस पेट्रोल वेरिएंट की कीमत डीज़ल वेरिएंट से ज्यादा हो सकती है।

ये भी पढ़ें:

BMW की पहली मेड इन इंडिया बाइक लॉन्च, जानें कीमत और खासियत

एक अगस्त से महंगी होंगी होंडा की कारें, जानें कितनी बढ़ेगी कीमत

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

राँची : मुख्यमंत्री ने जूस पिलाकर तुड़वाया विधायक शिवपूजन मेहता का अनशन

NewsCode Jharkhand | 21 July, 2018 10:18 PM
newscode-image

राँची। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने विधायक शिवपूजन मेहता को जूस पिलाकर उनका अनशन तुड़वाया। मुख्यमंत्री, विधायक सुखदेव भगत के साथ सदन के बाहर पहुंचे और शिवपूजन मेहता को जूस पिलाया। आपको बता दें कि शिवपूजन मेहता जपला सीमेंट फैक्ट्री को पुनर्स्थापित करने की मांग को लेकर, झारखंड विधानसभा के मुख्य गेट पर विगत 3 दिनों से आमरण अनशन पर बैठे थे।

रांची : भाजयुमो के खेलो भारत दिल्ली में हिस्सा लेंगे झारखंड के 65 खिलाड़ी

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

धनबाद : सगे भाई-बहन ने किया रक्‍तदान, पेश की मिसाल  

NewsCode Jharkhand | 21 July, 2018 10:09 PM
newscode-image

धनबाद। पीएमसीएच के रक्त अधिकोष में सगे भाई-बहन ने थैलीसीमिया रोग से पीड़ित दो बच्चों के लिए रक्तदान कर मानवता की मिसाला पेश की। समाजसेवी शालिनी खन्ना के कहने पर पीएमसीएच के थैलीसिमिया वार्ड में भर्ती करीब 3 साल की बच्‍ची आराध्या के लिए पल्‍लवी पायल ने रक्‍तदान किया। वे बीएसएस कॉलेज की पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष रह चुकी है।

रक्‍तदान करने जैसे की वह सामाजिक कार्यकर्ता सौरभ सिंह के साथ पीएमसीएच के रक्त अधिकोष  में रक्तदान के लिए  पहुंची वहां पहले से मौजूद थैलीसीमिया से ग्रस्‍त लगभग 5 वर्ष के मोहित कुमार महतो की मां उषा देवी ने भी पल्लवी से अपने बच्चे के लिए रक्त उपलब्ध कराने का आग्रह किया।

झरिया : आजसू पार्टी की बैठक, महिला सशक्तिकरण पर जोर

पल्लवी ने उस महिला की बात सुनकर अपने बड़े भाई राकेश रंजन को फोन कर रक्‍तदान करने पीएमसीएच आने को कहा। कुछ ही समय में राकेश भी वहां पहुंच गए और दोनों भाई-बहन ने दोनों बच्‍चों के लिए रक्‍तदान किया।

रक्‍तदान करने पर शालिनी खन्‍ना ने दोनों भाई-बहन की प्रशंसा और धन्‍यवाद दिया। उन्‍होंने कहा कि पल्लवी की तरह बेटियां व महिलाएं भी रक्‍तदान करने आगे आएगी तो कई लोगों की जान बचायी जा सकेगी। सौरभ सिंह ने भी युवाओं से अपील की है कि वो अधिक से अधिक रक्तदान करें  ताकि जरूरतमंदों को समय पर खून मिल सके।

रक्त अधिकोष में रक्त की कमी को देखते हुए इस बार स्वतंत्रता दिवस पर शिविर लगाकर रक्‍तदान करने का निर्णय लिया गया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

कोलेबिरा : लचरागढ़ में संदिग्ध हालत में मिला नाबालिग बच्ची...

more-story-image

दुमका : लाभुकों के बीच मुख्य न्यायाधीश ने परिसंपति का...