गिरिडीह : आदिवासी बहुल इलाकों में योग की बयार, सिखाया जा रहा योग प्राणायाम

NewsCode Jharkhand | 27 April, 2018 5:54 PM
newscode-image

गिरिडीह । पतंजलि हरिद्वार में प्रशिक्षण प्राप्त महिला पतंजलि की योग शिक्षिका पुष्पा शक्ति के  द्वारा पीरटॉड कन्या उच्च विद्यालय में छात्र-छात्राओं को योग अभ्यास कराया जा रहा है। योग शिक्षिका मंजू इस काम में इनका हाथ बटा रही है।

बताया गया कि उक्त विद्यालय में फरवरी माह से योग सेवा बच्चों को दी जा रही है। यहाँ के बच्चें बहुत ही आनंद के साथ योग सिख रहे हैं। शिक्षिका द्वारा योग के साथ-साथ आयुर्वेद व स्वदेशी की भी जानकारियां दी जाती है।

दी जा रही  है कई जानकारीयाँ

इस बाबत पुष्प शक्ति ने कहा कि अगर बच्चे प्रत्येक दिन गिलोय का काढ़ा बनाकर सेवन करेंगे तो कभी बीमार नहीं पड़ेंगे। खून की कमी दूर होगी, शरीर मे ताजगी के साथ एनर्जी भी मिलेगा, मलेरिया, डेंगू ,टायफाइड  आदि बीमारी नहीं होगी।

नमक, हल्दी और सरसों तेल से दाँत साफ करने से पैरिया ठीक हो जाता है, इसी प्रकार से कई आयुर्वेदिक जानकारियां दी जा रही है। इसके अलावे यौगिक जौगिंग के बारह पोज, सूक्ष्म व्यायाम, भस्त्रिका प्राणायाम, कपाल भांति प्रणायाम, उज्जयी प्रणायाम, अनुलोम विलोम, भ्रामरी, उद्गीत, प्रणव प्रणायाम आदि के साथ-साथ विभिन्न प्रकार के आसन भी बताये जा रहे हैं।

गिरिडीह : कृपया ध्यान दें, गिरिडीह-मधुपुर सवारी रेल गाड़ी के समय में होगा फेरबदल

कपाल भांति प्रणायाम को प्रत्येक दिन करने से पेट की समस्या नहीं होती है, पेट दर्द, पथरी की समस्या, किडनी, यूट्रस, गैस आदि की समस्याओं में लाभ मिलता है। भस्त्रिका और अनुलोम विलोम करने से हृदय घात, ट्यूमर, माईग्रेन, सिर दर्द, ब्लॉकेज आदि की समस्याओं में लाभ मिलता है। डिप्रेसन तनाव आदि से बचते है।

गिरिडीह : आदिवासी बहुल इलाकों में योग की बयार, सिखाया जा रहा योग प्राणायाम

उज्जयी करने से थायरॉइड, टॉन्सिल, हकलाना तुतलाना, खराटे लेना आदि से छुटकारा मिलता है। पढ़ाई में भी मन लगता है, याददास्त शक्ति मजबूत होती है। योग करने से तन और मन दोनों ही स्वस्थ्य रहता है। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को कम से कम एक घण्टा योग जरूर करना चाहिए।

शिक्षिका द्वारा पीरटांड़ के अलावे उत्क्रमित उच्च विद्यालय बन्दरकुप्पी, उत्क्रमित कन्या उर्दू उच्च विद्यालय पतरोडीह आदि विद्यालय में भी योग सेवा दी जा रही है। बताया गया कि पतंजलि योगपीठ द्वारा हजारों लोगों पर इसका प्रयोग किया गया है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

चतरा : राष्ट्रीय कृमि उन्मूलन को लेकर निकाली गई जागरूकता रैली

Ramdin Kumar | 16 August, 2018 6:00 PM
newscode-image

चतराराष्ट्रीय कृमि उन्मूलन को लेकर गुरुवार को स्काउट गाइड के छात्र-छात्राओं ने जागरूकता रैली निकाली। स्थानीय प्लस टू हाई स्कूल के प्रधानाध्यापक देव कुमार मिश्रा ने हरी झंडी दिखाकर रैली रवाना किया। मौके पर उनके साथ स्काउट गाइड के देवजीत सिंह व अन्य उपस्थित थे। रैली शहर के मुख्य मार्ग से होते हुए सदर अस्पताल पहुंची। जहां स्काउट गाइड के छात्र-छात्राओं को सिविल सर्जन डॉ. एसपी सिंह ने बच्चों को कृमि से संबंधित जानकारियां दी।

चतरा : मां मनसा की पूजा, भक्तों ने निकाली कलश यात्रा

उसके बाद रैली शहर के पोस्ट ऑफिस होते हुए काली मंदिर, गुदरी बाजार, केशरी चौक, पुराना पेट्रोल पंप, मारवाड़ी मोहल्ला होते हुए रैली वापस स्कूल आई। इस दौरान स्काउट गाइड के छात्र-छात्राओं द्वारा कृमि उन्मूलन के नारे लगाये गए। साथ ही शहर वासियों से 1 से 19 वर्ष के युवक-युवती को एल्बेंडाजोल टेबलेट खिलाने का आग्रह किया।

प्रधानाध्यापक ने बताया कि रैली में प्लस टू हाई स्कूल व बालिका उच्च विद्यालय के 85 स्काउट गाइड के छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। बताया कि रैली निकालकर शहरवासियों को कृमि उन्मूलन के प्रति जागरूक किया गया। साथ ही नजदीकी स्कूल में 17 अगस्त को अपने बच्चों को कृमि नाशक दवा खिलाने का आग्रह भी किया गया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

बोकारो : भाई-बहन को बंधक बनाए रखने के मामले में चिकित्सक पर मामला दर्ज

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 8:22 AM
newscode-image

बोकारो । को-ऑपरेटिव कॉलोनी के प्लांट संख्या 229 के मालिक दीपू घोष व उनकी बहन मंजूश्री घोष को कैद रखने के मामले में नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. डीके गुप्ता पर पूर्णेन्दू सिंह के बयान पर सिटी पुलिस ने हत्या के प्रयास की धारा में मामला दर्ज किया है। दीपू घोष व उसकी बहन मंजूश्री का इलाज फिलहाल बोकारो जेनरल अस्पताल में चल रहा है। दीपू की हालत में काफी सुधार है जबकि मंजूश्री शारीरिक रूप से स्वस्थ्य होने के बावजूद मानसिक यातना के कारण हालत ठीक नहीं है।

 धनबाद : डायरियां से एक व्यक्ति की मौत, दर्जनों लोग बीमार

विदित हो कि पुलिस कप्तान कार्तिक एस ने गुरूवार को स्वयं अस्पताल पहुंचकर भाई-बहन से जानकारी ली थी। मंजू श्री ने एसपी को जो बताया उससे स्पष्ट हुआ कि उसको प्रताड़ित किया गया है। इधर मुकदमा दर्ज होने के बाद डॉ. डीके गुप्ता की मुश्किलें बढ़ गई है। सरकारी चिकित्सक होते हुए किस परिस्थिति में वे बाहर के क्लिनिक में इलाज कर रहे थे ये सवाल उठ रहे हैं। डॉ. गुप्ता चास अनुमंडलीय अस्पताल में पदस्थापित हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

रांची : भारी मात्रा में अवैध शराब बरामद

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 7:59 AM
newscode-image

रांची। आयुक्त उत्पाद को गुप्त सूचना मिली थी कि कतरपा, नगड़ी में भारी मात्रा में अवैध शराब का निर्माण किया जा रहा है। जिसको होटलों और ढाबों में अवैध ढंग से खपाया जा रहा है। अनुमंडल पदाधिकारी, रांची और रांची जिला के सहायक उत्पाद आयुक्त व विभाग के अन्य पदाधिकारियों द्वारा संयुक्त रुप से छापेमारी की गई ।

छापेमारी के क्रम में पाया गया कि कतरपा में एक नया बड़ा सेड बनाकर भारी मात्रा में अवैध शराब का निर्माण किया जा रहा है।  मौके से करीब 200 लीटर स्प्रिट हजारों बोतल खाली और हजारों बोतल शराब भरी हुई मिली । यह जगह मुख्य रूप से  सुंदरा महतो, जटलू महतो और सुनीता महतो द्वारा छोटू  उर्फ देवेंद्र उराव द्वारा  अन्य  कर्मचारियों के साथ मिलकर संचालन किया जा रहा था। वहां पर भारी मात्रा में नकली स्टिकर, नकली होलोग्राम और पैकेजिंग का सामान जब्त किया गया। वहां पर टैंकर और टाटा सफारी गाड़ी के माध्यम से स्प्रिट, पानी और तैयार माल ट्रांसपोर्ट किया जाता है।

कोडरमा : पुलिस दल को देखकर अवैध शराब कारोबार हुए फरार

बताया गया कि इस प्रकार से जानबूझकर  खतरनाक शराब  तैयार कर  बाजार में बेचा जाना  घातक हो सकता है।  क्योंकि  ये सभी लोग बिना किसी विशेषज्ञ और बिना किसी रासायनिक परीक्षण के यह कार्य करते हैं। ऐसी शराब जहरीली भी हो सकती है। इन सभी व्यक्तियों और वाहन मालिकों के खिलाफ नगड़ी थाने में संबंधित उत्पाद अधिनियम और आईपीसी के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई।

सूत्रों के मुताबिक नगड़ी बाजार में स्थित कोयल लाइन होटल जो कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित है यही नकली शराब बेचे जाने की शिकायत मिली थी। वहां पर छापेमारी में भारी मात्रा में शराब की खाली बोतलें, रिसीविंग बिल, शराब बेचने के बिल और शराब बेचे जाने कि सीसीटीवी फुटेज की डीवीआर जब्त की गई।  इस प्रकार के अवैध कार्य संचालित किए जाने के क्रम में होटल को सील कर दिया गया है। होटल के संचालक बालकरन महतो व अन्य के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

रांची : मुख्यमंत्री ने अटलजी के सपनों का झारखंड बनाने...

more-story-image

लोहरदगा : दो नाबालिग के साथ गैंगरेप, आरोपी फरार