गिरिडीह : विस्फोट में शहीद हुए चौकीदार को श्रद्धाजंली, पुलिस लाइन में दिया गया शस्त्र सम्मान

NewsCode Jharkhand | 21 November, 2017 1:13 PM

गिरिडीह : विस्फोट में शहीद हुए चौकीदार को श्रद्धाजंली, पुलिस लाइन में दिया गया शस्त्र सम्मान

गिरिडीह। गिरिडीह के सरिया थाने में हुये विस्‍फोट में शहीद हुए चौकीदार महेंद्र तुरी के पार्थिव शरीर को गिरिडीह पुलिस लाइन में शस्त्र सम्मान के साथ श्रद्धाजंली दी गई।

मौके पर पुलिस अधीक्षक अखिलेश बी वारियर, एएसपी अभियान दीपक कुमार, डीएसपी1 पीके मिश्र, डीएसपी2 जितवाहन उरांव समेत कई पुलिस अधिकारी व जवान मौजूद थे।

दरअसल सोमवार रात शहीद चौकीदार के शव को सरिया से लाकर सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम कराया गया। वहीं मंगलवार सुबह को उन्हें भावभिनी श्रंद्धाजली दी गई। यहाँ शास्त्र झुकाकर मृतक को पुलिस सम्मान दिया गया। बाद में शव को परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया।

इस दौरान वरीय अधिकारियों ने कहा कि महेंद्र अपने कर्तव्य को निभाते हुये मृत्यु को प्राप्त हुये हैं। उनके परिवार को जो भी सहायता आवश्यक होगी पुलिस विभाग पूरा करने में तत्पर रहेगी।

Read More : धनबाद : बम निष्क्रिय करने के दौरान घायल जवान की स्थिति गंभीर

चतरा : पुरैनी में आयोजित होगा वन महोत्सव : क्षेत्रीय वन संरक्षक

NewsCode Jharkhand | 24 May, 2018 1:34 PM

चतरा : पुरैनी में आयोजित होगा वन महोत्सव : क्षेत्रीय वन संरक्षक

चतरा । उत्तरी छोटानागपुर प्रमंडल के क्षेत्रीय मुख्य वन संरक्षक संजीत कुमार ने गुरुवार को मयूरहंड प्रखंड के हुसिया पंचायत के पुरैनी गांव में होने वाले वनरोपण को लेकर कई स्थानो का निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में उन्होंने उत्क्रमित मध्य विद्यालय पुरैनी का जायजा लिया।

विद्यालय परिसर में लगे दर्जनों फल व औषधि पौधे के हरियाली को देख काफी प्रसन्न हुए। उन्होंने विद्यालय में किए गए जंगली जानवरों के दर्जनों पेंटिंग,जंगल बचाव संबंधी चित्रकारी को देख कर कहा कि जो कार्य वन विभाग को करना चाहिए था वह कार्य विद्यालय ने कर दिखाया है।

टुण्डी : जंगली भालू ने ग्रामीणों पर किया हमला, पीएमसीएच में इलाजरत

ऐसे विद्यालय पूरे क्षेत्र में नही हैं। उन्होंने कहा कि यह विद्यालय को मॉडर्न विद्यालय बनाना चाहिए। श्री कुमार ने विद्यालय की सजावट को देखकर आगामी जुलाई माह में विद्यालय में ही वन महोत्सव का उत्सव आयोजित करने की घोषणा की।

वही उन्होंने विद्यालय के प्रधानध्यापक विकास कुमार सिंह को इस कार्य के लिए शाबासी दी। उन्होंने कहा कि विद्यालय में पढ़ने वाले सभी छात्र व छात्राओ को पेंटिंग सामग्री भी उपलब्ध कराई जाएगी ताकि विद्यालय के सभी बच्चे चित्रकारी में अपनी रुचि बना सके।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Read Also

हजारीबाग : एसपी अनीश गुप्ता ने जिले के कई थाना प्रभारी का किया ट्रांसफर – पोस्टिंग

NewsCode Jharkhand | 24 May, 2018 1:16 PM

हजारीबाग : एसपी अनीश गुप्ता ने जिले के कई थाना प्रभारी का किया ट्रांसफर – पोस्टिंग

हजारीबाग । एसपी अनीश गुप्ता ने जिले के कई थानेदारों को स्थांतरित कर किया है ट्रांसफर-पोस्टिंग । इस संबंध में बुधवार को देर शाम आदेश जारी कर दिया गया है।

लोहरदगा : फिल्म फेस्टिवल का शुभारंभ होगा फीचर फिल्म लोहरदगा से

स्थानांतरित थाना प्रभारी  में मुफस्सिल थाना प्रभारी सुमन कुमार को बड़कागांव थाना,कटकमदाग के थाना प्रभारी समीर तिर्की को पेलावल थाना, पेलावल थाना के थाना प्रभारी अजीत कुमार को कटकमदाग, बड़कागांव थाना प्रभारी अकील अहमद को ईचाक थाना, ईचाक के थाना प्रभारी सुरेश राम को गिद्दी थाना, गिद्दी थाना प्रभारी राजीव कुमार सिंह को बदली करते हुए मुफस्सिल थाना का प्रभारी बनाया गया है ।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

केरल के बाद हिमाचल में निपाह वायरस की आशंका, स्कूल में मरे मिले कई चमगादड़

NewsCode | 24 May, 2018 1:01 PM

केरल के बाद हिमाचल में निपाह वायरस की आशंका, स्कूल में मरे मिले कई चमगादड़

नाहन। केरल में निपाह वायरस से 11 से ज्यादा लोगों की मौत होने के बाद केरल समेत पूरे देश में ‘निपाह वायरस’ को लेकर भय बना हुआ है। नीपाह वायरस को लेकर दिल्ली-एनसीआर समेत जम्मू-कश्मीर, गोवा, राजस्थान, गुजरात और तेलंगाना में अलर्ट जारी कर दिया गया है। वहीं अब हिमाचल प्रदेश में एक दर्जन से ज्यादा मरे हुए चमगादड़ मिलने से सनसनी मच गई है।

खबर है कि हिमाचल के नाहन की पंचायत बर्मापापड़ी के एक सीनियर सेकंडरी स्कूल के प्रांगण में 18 चमगादड़ मरे हुए पाए गए हैं, बताया जा रहा है कि ये चमगादड़ बीते काफी सालों से यहां के पेड़ों पर रहते थे, ये कभी किसी को परेशान नहीं करते थे लेकिन अचानक से बुधवार को यहां डेढ़ दर्जन चमगादड़ों की मौत हो गई, जिसे देखकर लोग भयभीत हो गए।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक, पशुपालन विभाग और वन विभाग की टीम ने मृतक चमगादड़ों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिए गए हैं। इनकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत की वजह का खुलासा हो पाएगा।

जिला मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी संजय शर्मा ने कहा, हर साल इस इलाके में बड़ी संख्या में चमगादड़ दिखते हैं. वैसे इस बार इनकी संख्या कुछ ज्यादा ही थी। उन्होंने कहा, स्कूल के प्रिंसिपल और छात्रों ने बताया कि हर साल चमगादड़ आते हैं और इस तरह की घटना भी हर साल ही होती है. हालांकि, इस साल उनकी संख्या काफी ज्यादा है।

उन्होंने आगे कहा, हमने स्कूल के टीचर और छात्रों को वायरस के बारे में जानकारी दे दी है। हमने किसी भी तरह के फिजिकल कॉन्टेक्ट से उन्हें स्पष्ट मना कर दिया है। स्कूल की प्रिंसिपल सुपर्णा भारद्वाज ने कहा, निपाह वायरस की वजह से इस पूरे मामले में लोग डर गए थे। छात्रों को निपाह वायरस के बारे में पूरी जानकारी दे दी गई है।

तूतीकोरिन में प्लांट ठप होने से 32,500 कामगारों पर संकट, इंटरनेट बंद, धारा 144 लागू

लोगों के दहशत को देखते हुए वन विभाग के डीसी ललित जैन ने लोगों से अपील की वो परेशान या भयभीत ना हो क्योंकि चमगादड़ों की मौत के बाद इस क्षेत्र में ‘निपाह वायरस’ के फैलने की संभावना ना के बराबर है क्योंकि चमगादड़ों के मरने के बाद संक्रमण फैलने की संभावना नहीं पाई गई है। उन्होंने कहा कि हो सकता है कि गर्मी के कारण चमागादड़ों की मौत हुई हो।

पत्थरबाज को जीप पर बांधकर घुमाने वाले मेजर गोगोई नाबालिग लड़की समेत हिरासत में लिए गए

X

अपना जिला चुने