गिरिडीह : चोरों को पकड़ने में विफल साबित हो रही है धनवार पुलिस

NewsCode Jharkhand | 7 December, 2017 8:07 PM

गिरिडीह : चोरों को पकड़ने में विफल साबित हो रही है धनवार पुलिस

राजधनवार (गिरिडीह)। धनवार थाना क्षेत्र में लगातार हो रही चोरी की घटना के उद्भेदन में धनवार पुलिस विफल साबित हो रही है। हाल के दिनों में ही धनवार थाना क्षेत्र के विभिन्न इलाकों में दर्जन भर से ज्यादा चोरी की घटनाएं हो चूकी है, लेकिन एक भी मामले का उद्भेदन धनवार पुलिस से नहीं हुई है। इससे चोरों का हौसला बुलंद है। वहीं आम लोग चिंतित नजर आ रहे हैं।

Read Moreगिरिडीह : विधायक ने छात्र-छात्राओं के बीच किया पोषाक व पुस्तक का वितरण

 

बता दें कि डेढ महीने के अंदर धनवार थाना झेत्र में कई चोरी की घटनाएं घट चूकी है, जिसमें धनवार एल आई सी ऑफिस के सामने से एक पत्रकार की हीरो होन्डा मोटर साईकिल की चोरी, धनवार बैंक के सामने से डीक्की तोड हजारों की चोरी, धोडथम्भा बाजार स्थित अरमान मोबाइल सेन्टर से लाखों की चोरी, आयुष मोबाईल से एक सप्ताह में हुई लाखों की चोरी, दो दिन पहले धान क्रय कर रहे व्यापारी के गल्ले में रखे रूपये को गल्ला सहित उचक्के ले उडे। बावजूद पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है।

धनवार पुलिस की इस शिथिलता को टीएमसी नेता मनोज कुमार पांडेय पुलिस की नाकामी बता रहे हैं। उन्होनें कहा कि अगर चोरी की घटनाओं पर शीध्र लगाम लगा कर पूर्व में हुए चोरी की घटनाओं का उद्भेदन नहीं किया गया तो टीएमसी धनवार पुलिस के खिलाफ आन्दोलन करने पर बाध्य होगी।

गिरिडीह : दंपत्ति की हत्या से दहल उठा पारसनाथ प्रक्षेत्र, इलाके में सनसनी

NewsCode Jharkhand | 25 May, 2018 10:04 AM

गिरिडीह : दंपत्ति की हत्या से दहल उठा पारसनाथ प्रक्षेत्र, इलाके में सनसनी

गिरिडीह। दो लोगों की जघन्य हत्या से दहल उठा गिरिडीह का नक्सल प्रभावित पारसनाथ प्रक्षेत्र। यहां मधुबन और निमियाघाट की सीमावर्ती क्षेत्र में दो लोगों की गला काट कर निर्मम हत्या कर दी गई। मृतक की पहचान मधुबन थाना क्षेत्र के डोक्वाटाण्ड निवासी किशुन राय और उसकी पत्नी के रूप में की गई है।

घटना से इलाके में सनसनी फैल गई। कोई इसे नक्सली घटना बता रहा था तो कोई इसे आपसी रंजिश से जोड़कर देख रहा था। घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

गिरिडीह : दंपत्ति की हत्या से दहल उठा पारसनाथ प्रक्षेत्र, इलाके में सनसनी

लातेहार : सड़क किनारे झाड़ी में मिला महिला का शव

हालांकि पुलिस ने इसे नक्सली घटना मानने से इनकार कर दिया है। पुलिस का कहना आपसी रंजिश में दम्पति की हत्या कर उसे नक्सली कार्रवाई का रूप दिया गया है। जांच की जा रही है जल्द ही इसका खुलासा कर लिया जाएगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Read Also

चतरा : अंतर्राज्यीय अफीम माफियाओं को अफीम सप्लाई करने वाला तस्कर गिरफ्तार

NewsCode Jharkhand | 24 May, 2018 9:35 PM

चतरा : अंतर्राज्यीय अफीम माफियाओं को अफीम सप्लाई करने वाला तस्कर गिरफ्तार

पुलिस ने अफीम तस्कर राजस्थान पुलिस को सौँपा

चतरा। प्रतापपुर  थाना क्षेत्र के बरुरा शरीफ गांव से अंतर्राज्यीय अफीम तस्करों को अफीम मुहैया कराने वाले युवक को गुरुवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर राजस्थान पुलिस को सौँप दिया। गिरफ्तार युवक बरुरा शरीफ गांव निवासी नंदलाल साव का पुत्र बिनोद साव है। थाना प्रभारी डोमन रजक ने बताया कि 18 मई को राजस्थान पुलिस ने जयपुर टिकरिया टोल प्लाजा कज के पास से एक क्विंटल अफीम के साथ तीन तस्करों को गिरफ्तार किया था।

चतरा : पुरैनी में आयोजित होगा वन महोत्सव : क्षेत्रीय वन संरक्षक

गिरफ्तार तस्करों ने राजस्थान पुलिस को बताया था कि उन्होने अफीम झारखंड के चतरा जिला के प्रतापपुर थाना क्षेत्र के बरुरा शरीफ गांव निवासी बिनोद साव से खरीदा था। गिरफ्तार तस्करों ने यह भी बताया कि अफीम की यह सेटिंग शेरघाटी के मदनपुर स्थित मानसरोवर होटल में 16 मई को हुआ। एक क्विंटल अफीम के बदले बिनोद साव को तीस लाख रुपया दिया गया।

पूर्व में विनोद को दो ट्रैक्टर तथा कुछ पैसे भी दिया गया था। अफीम खरीद कर लौटते वक्त तीनों अफीम तस्कर टिकरिया टोल प्लाजा के पास पुलिस के हत्थे चढ़ गये थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

सिमडेगा : मानव तस्करी के आरोप में दो गिरफ्तार

NewsCode Jharkhand | 24 May, 2018 9:32 PM

सिमडेगा : मानव तस्करी के आरोप में दो गिरफ्तार

सिमडेगा। पुलिस ने मानव तस्करी के आरोप में एक महिला सहित दो लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। साथ ही उनके द्वारा बेचे गये युवती को भी बरामद कर लिया गया।

इस संबंध में जानकारी देते हुए एसपी संजीव कुमार ने बताया कि मौसीबाड़ी जगन्नापुर निवासी शांति देवी एवं भंडारा लोहरदगा निवासी शनिचरवा उरांव ने बानो सोय निवासी रंजीता देवी को बहला फुसला कर कानपुर ले जा कर बेच दिया था।

रांची : शिक्षा विभाग में कम किए जाएंगे निकासी-व्‍ययन पदाधिकारी

अभिभावकों द्वारा बानो थाना में मामला दर्ज कराया गया था। इसके बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए युवती को कानपुर से बरामद करते हुए शांति देवी एवं शनिचरवा उरांव को गिरफ्तार कर लिया गया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

X

अपना जिला चुने