गिरिडीह : ईवीएम में कैद हुई प्रत्याशियों की किस्मत, 76,418 मतदाताओं ने किया मताधिकार का प्रयोग

NewsCode Jharkhand | 16 April, 2018 8:38 PM
newscode-image

सुरक्षा के रहे पुख्ता इन्तेजाम

गिरिडीहनगर निगम चुनाव में विभिन्न पदों पर प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला हो चुका है। 284 उम्मीदवारों की किस्मत पर मतदाताओं ने खूब उत्साह से मुहर लगाई है। पहली बार हो रहे निगम चुनाव को लेकर यहाँ लोगों में खास उत्साह दिखा। सुबह से ही काफी मतदाता वोट डालने के लिए मतदान केंद्र पर पहुचे। करीब सवा लाख मतदाता शहर की सरकार बनाने के लिए अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए नामित थे, लेकिन इनमें से 76, 418 मतदाता ही अपने घरों से निकले और अपने उंगली की ताकत का अहसास करवाया।

धनवार : एटीएम की हेराफेरी कर पैसा निकालने वाले गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार

बता दें कि गिरिडीह को नगर पार्षद से नगर निकाय का दर्जा मिलने के बाद पहली बार यह चुनाव हो रहा है, जिसमें कुल 284 प्रत्याशी अपना भाग्य आजमा रहे थे। उम्मीदवारों में वार्ड पार्षद के 253, डिप्टी मेयर के 12 और मेयर के 19 प्रत्याशी शामिल थे। दलीय आधार पर चुनाव होने के कारण मेयर और डिप्टी मेयर के लिए भाजपा, कांग्रेस, झामुमो, झाविमो सहित अन्य राजनीतिक दलों ने प्रत्याशी दिए थे। इसके अलावा कई निर्दलीय प्रत्याशी भी इन पदों पर कब्जा जमाने के लिए ताल ठोक रहे थे। अब तमाम उम्मीदवारों की किस्मत एवीएम में बंद होकर वज्रगृह में कैद हो गई है।

चुनाव को लेकर सुरक्षा की कड़ी बंदोबस्ती देखी गई थी। सुरक्षा की कमान पैरामिलिट्री फोर्स और जिला बल के जिम्मे थी। वही उपायुक्त मनोज कुमार, एसपी सुरेन्द्र झा, एसडीएम विजया जाघव, एसडीपीओ मनीष टोप्पो, डीएसपी जितवाहन उरांव, पीके मिश्र समेत अन्य कई अधिकारी दिन भर घूम-घूम कर स्थिति पर नजर बनाए हुये थे। असल में चुनाव के लिए यहां 118 बूथ बनाये गए थे जिनमें से 117 बूथ संवेदनशील व अतिसंवेदनशील श्रेणी में रखे गए थे। हालांकि छिट-पुट घटनाओं को छोड़ दे तो यह चुनाव बेहत अच्छे माहौल में सम्पन्न हुआ।

बताया गया कि मतदान का प्रतिशत 61.48 रहा है। जिनमें से 81.86% पुरुष तो 61.01% महिलाओं ने मतदान किया है। कुल मिलाकर कड़ी सुरक्षा बंदोबस्ती, जिला व पुलिस प्रशासन के बेहतर समन्वय की वजह से यहां मतदान शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न हुआ। अब 20 अप्रैल को निर्णय निकलेगा ।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

चक्रधरपुर : महादेवशाल धाम के श्रावणी मेला  को लेकर हुई बैठक

NewsCode Jharkhand | 23 July, 2018 4:57 PM
newscode-image

चक्रधरपुर। चक्रधरपुर अनुमंडल के महादेवशाल धाम में श्रावणी मेला को लेकर प्रशासन व मेला समिति की महत्व पूर्ण बैठक  प्रखंड कार्यालय में हुई। मेले को सफलतापूर्वक संचालन करने के अलावे विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा हुई ।

विशेषकर बैठक में पुराने कमेटी के कोषाध्यक्ष मादरु अंगारिया द्वारा हिसाब के बाद राशी लगभग ढाई लाख जो व्यक्तिगत कार्य के लिए खर्च की गई है। उस राशि को एक माह के अंदर जमा करने की बात कही।

इसके अलावे मेले में विभिन्न प्रकार की समस्याओं को लेकर भी चर्चा किया गया। जिसमें मेले को सफल संचालन के लिए अनुमंडल पदाधिकारी प्रदीप प्रसाद अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सकलदेव नाम में दिशा निर्देश दिए।

जमशेदपुर : स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 के तहत अव्वल आने वाले राज्य और जिले को प्रधानमंत्री करेंगे सम्मानित :- अमित कुमार उपायुक्त

 

बैठक में मुख्य रूप से अनुमंडल पदाधिकारी प्रदीप प्रसाद, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सकलदेव राम के अलावे प्रखंड विकास पदाधिकारी  हरि उरांव थाना प्रभारी, आलोक रंजन सिंह ,सतीश बाजपेयी,मादरु अंगारिया ,मनोज सिंह राजेश चौरासिया व  महादेव सेवा समिति के सदस्य मौजूद थे।

बैठक के पश्चात अनुमंडल पदाधिकारी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी एवं संचालन समिति के सदस्यों ने महादेवशाल धाम का दौरा किया एवं स्थल निरीक्षण कर दुकान एवं भंडारा आदि लगाने का स्थल चयन किया गया

मेला संचालन के लिए कमेटी का हुआ गठन कमेटी में मुख्य रुप से आलोक रंजन सिंह ,रामचंद्र प्रसाद, मादरु  अंगारिया  सतीश बाजपेई ,दिनेश गुप्ता राजेश चौरसिया मनोज सिंह श्रीमती पायो बेसरा मुखिया, दौराई लुगुन गोमा अंगारिया मुंडा, लम्बोरा  मेराल मानकी समिति में शामिल है

प्रखंड विकास पदाधिकारी समेत तीन सदस्यों का नाम से संचालन समिति के खाता होगी संचालन बैठक में निर्णय लिया गया कि प्रखंड विकास पदाधिकारी गोइलकेरा  समिति के कोषाध्यक्ष मांदरू अंगारिया रामचंद्र प्रसाद के संयुक्त खाते  से संचालन होगी महादेवशाल धाम श्रावणी मेला।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

रांची : आदिवासी सम्मेलन में भोपाल प्रदेश कांग्रेस के रखे सुझावों का झारखंड कांग्रेस का मिला समर्थन

NewsCode Jharkhand | 23 July, 2018 5:09 PM
newscode-image

रांची। झारखंड कांग्रेस ने, भोपाल में आयोजित प्रदेश-स्तरीय कांग्रेस के आदिवासी सम्मेलन में आदिवासी समाज और किसानों के लिए स्थानीय विधायक उमंग सिंगर द्वारा रखे सुझावों का समर्थन किया है, जिसमें कई सुझाव शामिल हैं।

रांची : रिम्स के कैदी वार्ड में सुरक्षा के नए प्रबंध, फरार होना होगा मुश्किल

विधायक उमंग ने अपने सुझावों में, केंद्र सरकार द्वारा किसानों के लिये घोषित समर्थन मूल्य के आधार पर किसानों को दी जाने वाली फसल खरीद की गारंटी की मांग की है। आदिवासी सम्मेलन में आदिवासी धर्म को मान्यता दी जाने एवं 9 अगस्त को कांग्रेस पार्टी की ओर से विश्व आदिवासी दिवस मनाये जाने का भी विधायक ने सुझाव दिया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

निरसा : स्वास्थ्य केंद्र ने निकाली जागरूकता रैली

NewsCode Jharkhand | 23 July, 2018 5:07 PM
newscode-image

मिजल्स व रूबेला टीकाकरण के बारे में लोगों को कराया अवगत

निरसा (धनबाद)। निरसा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ने सोमवार को मिजल्स व रूबेला टीकाकरण को लेकर जागरूकता रैली निकाली। रैली में स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों ने मिजल्स व रूबेला टीकाकरण की जानकारी देते हुए लोगों को बताया कि इसका नौ महीने के बच्चों से लेकर पंद्रह साल तक के बच्चों को दिया जाता है। यह एक संक्रामक बीमारी है। सही समय पर टीका लगाकर इससे बचाव किया जा सकता है।

धनबाद : नियोजन की मांग को लेकर जमसं का 25 जुलाई को आंदोलन

इस रोग का लक्षण शरीर में बुखार, मांसपेशी में खिंचाव, नाक का बहना है। लक्षण महसूस होने पर तुरंत चिकित्‍सक से परामर्श लेना चाहिए।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

गिरिडीह : आदिवासी छात्रा के साथ गैंगरेप मामला सुलझा

more-story-image

लोहरदगा : छात्रा के साथ छेड़खानी पड़ी मंहगी, आरोपी दर्जी...