घाटशिला : पुलिस ट्रेनिंग सेंटर निर्माण में लगे मजदूरों का हड़ताल टूटा

NewsCode Jharkhand | 20 February, 2018 10:27 AM
newscode-image

मजदूरी भत्ता में वृद्धि की मांग को लेकर अड़े थे मजदूर

घाटशिला। अनुमंडल के जादूगोड़ा थाना अंतर्गत साँसपुर गांव स्थित पुलिस ट्रेनिंग सेंटर निर्माण में कार्य कर रहे मजदूरों की हड़ताल आठवें दिन समाप्त हो गई ।

मजदूरों एवं जनप्रतिनिधियों व श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी के साथ आए पदाधिकारी गण के बीच वार्ता के बाद आखिरकार मजदूरों ने अपने इस हड़ताल को समाप्त कर आज से काम पर लौटने का निर्णय लिया।

यह वार्ता त्रिपक्षीय वार्ता हुई। इसमें रविवार को ठेकेदार के नहीं पहुंचने के कारण वार्ता नहीं हो पाई थी। इस कार्य में 14 ठेकेदार हैं लेकिन कल भी वार्ता में एक भी ठेकेदार नहीं पहुंचे उनके मुंशी, इंजीनियर, रामजी प्रसाद एवं हरिप्रसाद बनर्जी ने सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किया।

क्‍या है मामला

कैंप में 700 मजदूर कार्य करते हैं। मजदूरों का हड़ताल अपने वेतन में वृद्धि करने के लिए किया गया था। इससे पहले इन्हें ₹200 अकुशल मजदूरी प्रतिदिन दिया जाता था एवं कुशल मजदूर ₹300 प्रतिदिन दिया जाता था। जिसको लेकर जिला परिषद बगराई मंडी और मनोज प्रताप सिंह ने उपायुक्त कार्यालय में शिकायत की थी।

घाटशिला : निर्माणाधीन पुलिस ट्रेनिंग सेंटर के मजदूरों ने की हड़ताल

डीएलसी अरविंद कुमार को इस मामले की जानकारी दी गई। जिसके बाद वरीय अधिकारी के निर्देश पर श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी आनंद शेखर श्रम अधीक्षक शिवलाल मंडी पीएलबी न्याय संदीप कुमार पहुंचे।

वार्ता के बाद  हुआ इजाफा  

वार्ता के बाद अब मजदूरों को ₹225 अकुशल प्रतिदिन दिया जाएगा एवं मिस्त्री को 317 प्रतिदिन देने पर सहमति बनी इसके बाद असंगठित मजदूरों का रजिस्ट्रेशन किया गया। इसके तहत इन्हें सरकार की तरफ से जो लाभ मिलते हैं वह लाभ भी इन्हें मिलेगा एक बार फिर बैठक में ठेकेदारों के नहीं पहुंचने से मजदूरों के साथ जनप्रतिनिधियों में भी काफी नाराजगी देखी गई।

ठेकेदार आठ घंटे से ज्यादा कराते हैं काम- महिला समाजसेवी 

महिला समाजसेवी नियति भगत ने बताया कि वार्ता में 14 ठेकेदारों में से एक भी शामिल नहीं हुए जबकि सभी को शामिल होना था। महिला मजदूरों के सर पर 8 से 10  ईट से लेकर 4  तल्ला  तक चढ़ना पड़ता है। अगर कोई महिला मजदूर नहीं चढ़ पाती तो उसे हटाने की धमकी ठेकेदार द्वारा दी जाती है 8 घंटे से ज्यादा काम कराया जाता है वहीं महिलाओं के लिए शौचालय की कोई व्यवस्था नहीं की गई है ठेकेदार द्वारा की बात पदाधिकारियों के समक्ष रखी गई।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 

जमशेदपुर : अभिभावक संघ ने अनशन रख सौंपा उपायुक्त को मांग पत्र

NewsCode Jharkhand | 23 July, 2018 8:43 PM
newscode-image

जमशेदपुर। अभिभावक संघ ने अपनी 2 सूत्री मांगों को लेकर उपायुक्त कार्यालय के समक्ष एक दिवसीय अनशन रखा और अपनी मांगों से संबंधित मांग पत्र उपायुक्त को सौंपा। इनकी मांगों में मुख्य रुप से शहर के सभी स्कूलों में बस सेवा जल्द शुरू करने और निजी स्कूलों द्वारा आरक्षित सीटों पर अभिवंचित वर्ग के बच्चों का नामांकन नहीं लेने की मांगे शामिल थी ।

इधर अनशन का नेतृत्व कर रहे जमशेदपुर अभिभावक संघ के अध्यक्ष उमेश कुमार ने कहा कि शहर के सभी आईसीएसई  व आईसीएससी के एफिलिएशन बाइलॉज के तहत स्कूल आने जाने के लिए स्कूलों के प्रबंधकों द्वारा स्कूली बस चलवाना अनिवार्य है इसके बावजूद अधिकतर स्कूल जो आईसीएसई और सीबीएसई बोर्ड से मान्यता प्राप्त हैं उन स्कूलों द्वारा इन शर्तों का खुला उल्लंघन किया जा रहा है वही आरटीआई अधिनियम के तहत अहिता पूरी करने के बावजूद ज्यादातर निजी स्कूलों द्वारा आरक्षित सीटों पर अभिवंचित वर्ग के बच्चों का नामांकन नहीं लिया जा रहा है और उसके लिए उनके अभिभावकों को काफी परेशान भी किया जा रहा है।

हालांकि संबंध में इन लोगों ने पहले भी शिक्षा विभाग के अधिकारियों को शिकायत की थी लेकिन अब तक इस ओर कोई पहल नहीं हुई जिस कारण इन लोगों ने आज अपने आंदोलन की शुरुआत करते हुए उपायुक्त कार्यालय के समक्ष एक दिवसीय अनशन किया और अपनी मांगों के संबंध में नारेबाजी की।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर गिरिडीह हिंदी न्यूज़, गिरिडीह हिंदी सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

सिल्ली : पत्नी और मां को दिखाया कट्टा, दी जान से मारने की धमकी, दूसरी शादी का है मामला

NewsCode Jharkhand | 23 July, 2018 8:32 PM
newscode-image

सिल्ली(राँची)। दूसरी शादी का विरोध करने पर पति ने अपनी पहली पत्नीमां को ही देसी कट्टा से मारने की धमकी दे डाली। मौका पाकर मां व पहली पत्नी शीला देवी ने उसका कट्टा छीन कर पुलिस को सौप दिया। सिल्ली पुलिस ने कांड संख्या 88/17 आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस ने कट्टा जब्त कर लिया है।

रांची : बलभद्र और सुभद्रा के साथ वापस लौटे जगन्नाथ, श्रद्धालुओं ने खींचा रथ

जानकारी के मुताबिक सिल्ली थाना क्षेत्र के लाधुप सारासेरेंग निवासी बंसत कुमार ने अपनी पहली पत्नी के रहते हुए भी दूसरी शादी कर ली। दूसरी शादी का विरोध करने पर वह अपनी मां व पत्नी के  साथ उसने झगड़ा किया और कट्टा दिखाकर उन्हें जान से मारने की धमकी दी।
(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

रांची : संघ की दृष्टि में राम ही खुदा है और खुदा ही राम है- इंद्रेश कुमार

NewsCode Jharkhand | 23 July, 2018 8:24 PM
newscode-image

शशि थरूर आजाद भारत के जिन्ना- इंद्रेश

रांची। एक दिवसीय झारखंड दौरे पर आये आरएसएस के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य इंद्रेश कुमार ने मीडिया के समक्ष कहा कि, संघ की दृष्टि में राम ही खुदा है और खुदा ही राम है। राम मंदिर था, राम मंदिर है और राम मंदिर रहेगा। होटल बीएनआर में आयोजित ‘हिन्दू जागरण मंच’ के एक कार्यक्रम में शामिल होने आये थे इंद्रेश कुमार।

राँची : झारखण्ड विकास मोर्चा ने फूंका राज्य सरकार का पुतला

‘राम जन्‍मभूमि बनाम विवादित ढांचा’ के नाम से अदालती कार्यवाही

राम मंदिर निर्माण के सवाल का जवाब देते हुए इंद्रेश कुमार ने कहा कि एक साल पहले इलाहाबाद हाईकोर्ट में राम मंदिर बनाम बाबरी मस्जिद के रूप में मामला चल रहा था। पिछले एक साल से सुप्रीम कोर्ट में यह मामला नाम बदलकर ‘राम जन्‍मभूमि बनाम विवादित ढांचा’ के नाम से अदालती प्रक्रिया चल रही है।

राम का जन्‍म-स्‍थान एक ही है

इंद्रेश ने बताया कि मुस्लिम समुदाय से जुडे लोग भी उस विवादित ढांचे को बाबरी मस्जिद कहना इस्‍लाम का अपमान समझते हैं। वहीं अदालती कार्यवाही  में राम मंदिर को राम जन्‍म स्‍थान रखा गया है, क्‍योंकि राम मंदिर तो कहीं भी हो सकता है, लेकिन राम जन्‍म स्‍थान तो एक ही है।

पत्थलगड़ी आंदोलन चर्च व मिशन संस्थाओं का षड़यंत्र- RSS

खूंटी व झारखंड में सक्रिय हो रहे पत्थलगड़ी आंदोलन को चर्च व मिशन संस्थाओं का षड्यंत्र करार दिया है। मदर टेरेसा द्वारा स्थापित मिशनरीज ऑफ चैरिटी संस्था में नवजात बच्चों के बेचने की घटना को उन्होंने कलंकित करने वाली अमानवीय कृत बताया।

शशि थरूर आजाद भारत के जिन्ना

चंद्रेश कुमार ने कांग्रेस के  बड़े लीडर शशि थरूर पर सवाल उठाते हुए कहा कि शशि थरूर आजाद भारत के जिन्ना हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

रांची : झारखंड की महिला हो रही है सशक्त- सीपी...

more-story-image

निरसा : पेयजल की किल्लत दूर करने के लिए स्टेंडिंग प्‍वाइंट...