दुमका : पुलिस की पहल पर विधवा मां को मिला दो जून की रोटी और आशियाना

NewsCode Jharkhand | 16 May, 2018 7:32 PM
newscode-image

दुमका। जिले के मुफसिल पुलिस मानवता का मिशाल पेश की है। दर-दर भटक रही विधवा मां को आसियाना और दो जून की रोटी परिवार से मिले, इसका आपसी सुलह के आधार पर व्यवस्था की है। यह मामला है शहर से सटे लखीकुंडी गांव का। जहां एक वृद्ध विधवा मां अपने सगे दो बेटों एवं बहु से तंग आकर मुहल्ले में भीख मांग कर अपनी भूख मिटाया करती थी।

जहां एक ओर शहर के लोग पाश्चात संस्कृति पर मदर्स डे के खास अवसर पर अपनी मां के प्रति स्नेह जता कर अपनी जिम्मेवारी की खानापूर्ति करते दिखे। वृद्धा अपने पेट के आग को शांत करने के लिए मुहल्ले से दो वक्त की रोटी मांग भूख मिटाती रही। जब बर्दाश्त की हदे पार हो गई, तो पड़ोस के युवक सचिन को तकलीफ बयां कर बैठी। बोली अब बर्दास्त नहीं होता, समाज पहल करे, स्थायी व्यस्था करवा दे, अन्यथा कुछ कर लुंगी।

सचिन ने अपने साथी निशांत मिश्रा को गंभीरता से अवगत करवाया। समाज के सहयोग से 14 मई को मामला थाना पहुंचा। जहां वृद्धा ने शारिरीक एवं मानसिक पताड़ना का लिखित शिकायत की। जहां अमुनन ऐसे मामले में पुलिस खानापूर्ति कर जिम्मेवारियों से पलड़ा झाड़ लेती है।

वहीं मामले में अनुसंधानकर्ता एसआई मनोज कुमार मिश्रा ने मानवता एवं कर्तव्यनिष्ठा का बेमिसाल उदाहरण प्रस्तुत करते हुए दोनों बेटों को सामाजिक पहल एवं कानून का भय दिखा सुलह कर एक मां के आंखों का आंसू पोछा। बेटे और बहु सुलहनामा में किसी प्रकार के कोई तनाव नहीं देने की बात स्वीकारी।

एक पुलिस पदाधिकारी के द्वारा सराहनीय प्रयास को मुहल्लेवासियों ने भी खूब सराहा। यहां बता दें कि वृद्धा के बेटे संजय साह छोटा-मोटा व्यवसाय चलता है। वहीं छोटा बेटा अजय साह शहर के निजी कंपनी में नौकरी करता है।

सामाजिक स्तर पर सुलह के बावजूद प्रताड़ित हो रही थी वृद्धा

सामाजिक स्तर पर इससे पहले भी छह बार मुखिया दिनेश मुर्मू के अध्यक्षता में बैठक कर सुलह करवाया जा चुका था। पिछले तीन वर्षो से बेटों के प्रताड़ना का दंश वृद्धा झेल रही थी। असहाय स्थिति पिछले करीब 3 माह से हो चुकी थी। जहां वृद्धा रहने को इधर-उधर आसियाना एवं रोटी की तलाश में मुहल्ले भर भटकती रहती थी। सामाजिक स्तर पर दबाब डालने पर वृद्धा के बेटों ने झूठा मुकदमा में फंसा देने का धमकी देता था।

समाज के लोगों ने भी पुलिस के प्रयासों को सराहा

वृद्ध मां के रखने में आमदनी कम और खर्च अधिक होने की असमर्थता बेटे और बहु ने जाहिर किया। जहां मौके पर एसआई मनोज कुमार मिश्रा ने मां तुल्य बताते हुए 2500 रूपये देकर किसी प्रकार के दिक्कत होने पर सूचना देने की बात कही। वहीं प्रतिमाह वृद्धा के लिए 500 रूपये जिले में पदस्थापित होने तक खर्च भुगतान करने का आश्वासन देकर पुलिस और लोगों के बीच बढ़ रही दूरी को भी पाटने का संदेश दिया।

बुधवार को हिरामुनी देवी के चेहरें पर जीने की फिर उम्मीद जगी। वह एएसआई मिश्रा को दुआएं देते दिखी। वहीं उसके बेटे और बहुओं ने अपनी गलती पर पश्चाताप करते हुए मां से माफी मांग अब किसी प्रकार के शिकायत का मौका नहीं देने का बात कही।

पाकुड़ : प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान का सीएस ने किया औचक निरीक्षण

वहीं पंचायत मुखिया दिनेश मुर्मू, निशांत मिश्रा, सचिन, राजा, अभिषेक, कुणाल, शुभम, कैशु आदि का समाजिक स्तर पर सरानीय प्रयास रहा। उन्होंने ने पुलिस विभाग के सकारात्मक कार्यो का सराहना किया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बोकारो : फायरिंग में दो लोग हुए घायल, आपसी रंजिश में चली थी गोली

NewsCode Jharkhand | 20 August, 2018 9:17 AM
newscode-image

पिंड्राजोरा के घटियाली की घटना, पुलिस कर रही है मामले की पड़ताल

बोकारो । मां मनसा की मूर्ति विसर्जन के दौरान देर शाम अचानक अंधाधुध फायरिंग करने से दो लोगों को गोली लग गयी । दोनों घायलों को इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया । समाचार लिखे जाने तक दोनों खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं। घटना पिंड्राजोरा थाना क्षेत्र के घटियाली की है। घटना की जानकारी मिलते ही एसपी कार्तिक एस,एसडीओ चास सतीश चंद्र,एसडीपीओ चास महेश कुमार सिंह, जिला परिषद सदस्य संजय कुमार व संबंधित थाना मौके पर पहुंच कर घायलों की स्थिति की जानकारी ली ।

बताया जा रहा है कि घटियाली के पूर्व मुखिया व कुख्यात अपराधी निरंजन कपरदार ने गांव के कुछ लोगों के द्वारा कोर्ट में उनके खिलाफ गवाही देने को लेकर मतभेद चल रहा था। कल देर शाम इसी बात को लेकर मां मनसा की मूर्ति विसर्जन के समय निरंजन कपरदार एक बार फिर गुस्से में आकर गवाही देने वालों से उलझ गया औऱ इसी दौरान उसने अपने पास रखे बंदूक से फायरिंग शुरु कर दी। अचानक हुए फायरिंग से दो लोगों को गोली लग गयी वहीं मूर्ति विसर्जन में शामिल लोगों के बीच भगदड़ मच गयी। राकेश सेन को हाथ में और राम किकंर को पैर में गोली लगी है।

बोकारो : पेट्रोल पंप में लूट, ग्राहकों के भी मोबाइल व रुपए लेकर हुए फरार

बताया जा रहा है कि निरंजन कपरदार की ओर से पांच से छह रांउड फायरिंग की गयी। जिस तरह फायरिंग की गई कोई बड़ा हादसा भी हो सकता था। घटना के बाद से पुलिस पूर्व मुखिया व कुख्यात अपराधी निरंजन कपरदार की गिरफ्तारी को लेकर विभिन्न जगहों पर छापेमारी कर रही है। दोनों घायलों को सदर अस्पताल में इलाज के बाद जिला परिषद सदस्य संजय कुमार ने बोकारो जेनरल अस्पताल में भर्ती कराया है। घटना के बाद स्थानीय लोगों ने अपराधी के बाइक को आग के हवाले कर दिया। देर रात पुलिस गांव में कैम्प कर आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी कर रही थी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

बुंडू : वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार दो व्यक्ति घायल

NewsCode Jharkhand | 20 August, 2018 10:31 AM
newscode-image

बुंडू (रांची) । टाटा-रांची मुख्य मार्ग एनएच-33 बुंडू प्रखंड के तैमारा घाटी में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार दो व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को बुंडू अनुमंडल अस्पताल पहुंचाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद रिम्स रेफर कर दिया गया।

धनबाद :  सड़क पर टकरायी दो स्कूटी , एक ने दूसरे की कर दी जमकर पिटाई

एक बाइक पर सवार होकर दोनों व्यक्ति रांची की ओर जा रहे थे। घायलों में बलराम ताती कुम्हार टोली बुंडू, दूसरा अजीत कुमार बोकारो के रूप में पहचान हुई है। अजीत कुमार का बायां पैर फ्रैक्चर हुआ है वही बलराम तांती के सिर में चोट आई है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

लोहरदगा : सड़क दुर्घटना में एक महिला की मौत, तीन लोग घायल

NewsCode Jharkhand | 20 August, 2018 9:41 AM
newscode-image

लोहरदगा । जिले के सेन्हा थाना क्षेत्र के झालजमीरा-कोरांबे पथ में मुरपा डीपरा के समीप ऑटो पलटने के कारण एक महिला की मौत हो गई जबकि तीन महिला मजदूर घायल हो गए। सभी घायलों को इलाज के लिए लोहरदगा सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया।

जानकारी के अनुसार  मुरपा गांव से ऑटो में बैठ कर 9 मजदूर हर रोज की तरह मजदूरी के लिए लोहरदगा आ रहे थे। मुरपा डीपरा के समीप ऑटो चालक झालजमीरा गांव निवासी मनसूल अंसारी ऑटो पर अपना नियंत्रण खो बैठा और  ऑटो  अनियंत्रित हो कर पलट गई।

चतरा : बस-ऑटो की टक्कर, सात यात्री घायल, तीन RIMS रेफर

इस घटना में मुरपा गांव निवासी  महिला मजदूर कुंती उरांव, हीरा उरांव, सुनिता उरांव और फुलमन उरांव गंभीर रूप से घायल हो गए। स्थानीय लोगों की सहायता से सभी घायलों को इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया। जहां कुंती को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। शेष घायलों का सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

रांची : रंग-बिरंगी राखियों से गुलजार है बाजार, रक्षाबंधन है...

more-story-image

देवघर : बाबा भोले पर जलार्पण करने से सभी मनोकामना...