दुमका : सीएम ने विपक्ष पर लगाया लोकतंत्र के महापंचायत में चर्चा से भागने का आरोप 

NewsCode Jharkhand | 5 December, 2017 7:54 PM

दुमका : सीएम ने विपक्ष पर लगाया लोकतंत्र के महापंचायत में चर्चा से भागने का आरोप 

शीतकालीन सत्र छोटा होने के आरोप को सिरे से किया खारिज

दुमका। झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने विपक्ष के शीतकालीन सत्र छोटा होने के आरोप को सिरे से खारिज करते हुए विपक्ष दलों पर पलट वार किया कि सदन का छोटा सत्र होने का बहाना बना कर विपक्ष राज्य की जनता के विकास से महत्वपूर्ण मसले पर चर्चा से हमेशा भागता रहा है।

दास ने आज दुमका राजभवन में संवाददाता सम्मेलन में पूछे जाने पर कहा कि लोकतंत्र में सदन सबसे बड़ी पंचायत होती है। जहां सता और विपक्ष के सदस्य चर्चा में शामिल होकर जनमुद्धों पर सकारात्मक निर्णय ले सकते हैं,लेकिन विपक्ष दलों ने कभी सदन की इस गरिमा का ख्याल नहीं रखा। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि झारखंड विधानसभा में मुख्य विपक्षी पार्टी झामुमो के विधायकों का झारखंड स्थापना दिवस से महत्वपूर्ण मौके पर नदारद रहना काफी दुखद है।

झारखण्ड की जनता को झामुमो की जरुरत नहीं

दास ने झामुमो पर हमला करते हुए कहा कि कामरेड ए.के.राय, बिनोद बिहारी महतो व शिबू सोरेन जैसे नेताओं ने झारखंड निर्माण के लिए झामुमो बनाया था और तात्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी ने झारखंड अलग राज्य  का गठन कर दिया। अब यहां की जनता को झामुमो की कोई जरूरत नहीं है।

उन्होंनें कहा कि झामुमो स्थानीयता के नाम पर गंदी राजनीति कर यहां के बेरोजगार युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है। उन्होंनें कहा कि राज्य में विद्वेष फैलाने वालों के खिलाफ सरकार कड़ी कार्रवाई करेगी। संवाददाता सम्मेलन में राज्य की समाज कल्याण मंत्री डा लुईस मरांडी, जिलाध्यक्ष निवास मंडल आदि उपस्थित थे। इस मौके पर जिला प्रशासन की ओर से मुख्यमंत्री को मलूटी व बासुकीनाथ का एलबम भेंट किया गया।

गिरिडीह : सरकार के चार साल पर कांग्रेस का विश्वासघात दिवस, दिया धरना

NewsCode Jharkhand | 26 May, 2018 6:35 PM

गिरिडीह : सरकार के चार साल पर कांग्रेस का विश्वासघात दिवस, दिया धरना

गिरिडीहमोदी सरकार के चार साल पूरे होने पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटि के निर्देश पर जिले में कांग्रेसियों ने विश्वासघात दिवस के रूप में मनाया। इसको लेकर शनिवार को पार्टी नेताओं ने एक दिवसीय धरना दिया।

वादों को पूरी नहीं कर पाई सरकार

धरने को संबोधित करते हुए पूर्व सांसद डॉ. सरफ़राज़ अहमद ने कहा कि चार साल पहले जो विश्वास जनता ने मोदी सरकार पर जताया था, वह पूरी तरह से गलत साबित हुआ है। कहा कि भाजपा सरकार ने जो भी वादे अपने घोषणा पत्र में किये थे, उनमें से किन्ही वादों को सरकार पूरा नहीं कर पाई।

बेंगाबाद : ससुराल में युवक की संदेहास्पद मौत, परिजनों ने जतायी हत्या की आशंका

सर चढ़ कर बोल रही महंगाई

जिला मीडिया प्रभारी सतीश केडिया ने कहा कि यह सरकार पूरी तरह से विश्वासघाती है। जिस लोकलुभावन वादों के बदौलत भाजपा ने जनता का समर्थन हासिल किया था उसे एक भी पूरा नहीं कर पाई है। कहा कि जिस महंगाई का रोना रोकर बीजेपी नेताओं ने किया, आज चार सालों में वह महंगाई सर चढ़कर बोल रही है।

धरने को जिलाध्यक्ष नरेश वर्मा, नरेंद्र सिन्हा (छोटन), डॉ. आजाद ने भी संबोधित करते हुए सरकार के इस चार साल के कार्यकाल को जनता से विश्वासघात बताया।

इस मौके पर शेखर सिंह, चंद्रशेखर सिंह, सब्बन खान, समीर राज चौधरी, धनंजय सिंह, उमेश तिवारी, महमूद अली खान, आलमगीर आलम, जैनुल अंसारी, गोकलदास, वरुण सिंह, संतोष  चौधरी, शमीम अंसारी, सहदेव तिवारी समेत कई पार्टी नेता व कार्यकर्ता शामिल हुए।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

सरायकेला : सर्वे रिपोर्ट से खुलासा, दलमा वाइल्डलाइफ सेंचुरी में जानवरों की कमी

NewsCode Jharkhand | 26 May, 2018 6:24 PM

सरायकेला : सर्वे रिपोर्ट से खुलासा, दलमा वाइल्डलाइफ सेंचुरी में जानवरों की कमी

सरायकेला। नेशनल वाइल्डलाइफ सर्वे 2018 की अगर मानें तो झारखंड के सरायकेला-खरसांवा जिला स्थित दलमा वन्य प्राणी अभ्यारण्य में बेहद ही चौंकाने वाले परिणाम सामने आए हैं। बता दें पिछले दिनों राष्ट्रीय वन्य पशु जनगणना का काम पूरा हुआ, जिसमें दलमा सेंचुरी में निवास करने वाले जानवरों में कमी देखी गई। वही दलमा सेंचुरी को हाथियों के लिए अनुकूल माना जाता है। यहां बंगाल और उड़ीसा से भी हाथी आकर प्रवास करते हैं।

सरायकेला : निपाह वायरस का खौफ, लेकिन अंजान है यहाँ के लोग

जानकारी के अनुसार हाल के दिनों में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ के बाद लगातार हाथियों का जाना शुरू हो गया है। एक समय हुआ करता था जब दलमा सेंचुरी में 100 से भी ज्यादा हाथी और जंगली जानवर प्रवास करते थे, वही अब महज 25 से 30 की संख्या में हाथी बचे हैं। आशंका यह जताई जा रही है कि बारुद के गंध से पूरा दलमा अभयारण्य दमक रहा है। जिसकी भनक हाथियों को लगते ही हाथियों ने दलमा से जाना शुरू कर दिए है।

इधर राष्ट्रीय वाइल्डलाइफ सर्वे के अनुसार दूसरे जंगली जानवर भी धीरे-धीरे दलमा सेंचुरी से जा रहे हैं। राष्ट्रीय पशु सुरक्षा सर्वेक्षण की दृष्टिकोण से यह एक बेहद ही गंभीर मामला माना जा रहा है। वही पिछले कुछ दिनों दलमा के कांकादशा और बिजली घाटी में लगातार नक्सलियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ जारी है। रुक-रुक कर दोनों ओर से फायरिंग की जा रही है, जिससे दलमा में जंगली जानवरों के लिए खतरा बढ़ गया है। वही वन विभाग इसको लेकर काफी चिंतित है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोहरदगा : सत्ता की राजनीति करती है भाजपा- आलोक साहू

NewsCode Jharkhand | 26 May, 2018 6:08 PM

लोहरदगा : सत्ता की राजनीति करती है भाजपा- आलोक साहू

लोहरदगा। केंद्र सरकार के 4 साल पूरे होने पर कांग्रेस पार्टी ने विभिन्न मुद्दों को लेकर समाहरणालय के समक्ष धरना देते हुए भाजपा और केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि भाजपा झूठ के 4 साल होने पर उत्सव मना रही है। आम जनता जिस हालत में है उससे भाजपा को कोई लेना देना नहीं है।

भाजपा तो बस सत्ता की राजनीति करना चाहती है। कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि यहां पर आम जनता पानी, बिजली सड़क, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि सुविधाओं से महरूम है और दूसरी ओर भाजपा के बड़े नेताओं को खुश करने को लेकर करोड़ों रुपए फुके जा रहे हैं। कांग्रेस के कार्यवाहक जिलाध्यक्ष आलोक कुमार साहू ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि पेट्रोल और डीजल की महंगाई आसमान छू रही है।

रांची : मोदी सरकार के चार वर्ष होने पर कांग्रेस ने मनाया विश्‍वासघात दिवस

गरीब आदमी को दो वक्त के लिए खाना नहीं मिल पा रहा है। जीएसटी के बहाने व्यवसायियों को परेशान किया जा रहा है। शिक्षा और स्वास्थ्य का वही हाल है। इसके विपरीत भाजपा सरकार बस अपना ही राग अलाप रही है। जनता सब कुछ समझ चुकी है। आने वाले समय में जनता भाजपा को जवाब देगी। कांग्रेसी नेताओं ने धरना प्रदर्शन के उपरांत विभिन्न मुद्दों को लेकर राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन डीसी को सौंपा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

X

अपना जिला चुने