धनबाद : राज्य स्तरीय स्विमिंग चैंपियनशिप में 22 बच्‍चों का हुआ चयन

NewsCode Jharkhand | 8 June, 2018 3:22 PM
newscode-image

सभी खिलाड़ियों ने जमकर की तैयारी

धनबाद। रांची में होने जा रहे राज्य स्तरीय स्विमिंग चैंपियनशिप में धनबाद के 22 बच्चों का चयन हुआ है। सभी अंडर 9 से अंडर 17 के खिलाड़ी हैं। इन बच्चों में ज्यादातर यूनियन क्लब के सदस्यों के बच्चे हैं। कुछ बच्चों को सुदृढ़ ग्रामीण क्षेत्र से भी चयन किया गया है। जो लगातार तालाबों में प्रैक्टिस कर रहे हैं।

इनके प्रशिक्षक पप्पू सिंह को पूरी उम्मीद है कि बच्चे राज्य स्तरीय स्विमिंग प्रतियोगिता में बेहतर प्रदर्शन के साथ राष्ट्रीय स्तरीय प्रतियोगिता में अपनी जगह बना पाएंगे। सभी खिलाड़ियों को आज रांची भेजा जा रहा है।

रांची : मौसम में बदलाव की संभावना, बारिश के साथ वज्रपात की आशंका    

इससे पूर्व यूनियन क्लब में प्रशिक्षक की उपस्थिति में प्रतिभागियों ने स्विमिंग की रिहल्सल कर सभी का उत्साह बढ़ाया। प्रतिभागी आयुष राज के मुताबिक स्विमिंग में बेहतर करने के लिए कड़ी मेहनत की जरूरत पड़ती है। दो हजार, पांच हजार मीटर की प्रैक्टिस रोजाना करनी होती है। आयुष अभी तक स्टेट के अलावे तीन तीन बार नेशनल गेम्स जीत चूका है। अब रांची में होने जा रही प्रतियोगिता में भी बेहतर करने का भरोसा दिया है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

चक्रधरपुर : तीन दिवसीय फुटबॉल प्रतियोगिता में चोंगासाई की टीम बनी विजेता

Ramgopal Jena | 20 September, 2018 3:02 PM
newscode-image

 12 टीम किए गये  पुरस्‍कृत
चक्रधरपुर।रीला मिला चांदनी चौक फुलकानी  की ओर से तीन दिवसीय फुटबॉल  प्रतियोगिता का समापन समारोह  सफलता पूर्वक सम्पन्न हुआ। चक्रधरपुर विधानसभा क्षेत्र में इन दिनों आजसू के विधानसभा प्रभारी रामलाल मुंडा के द्वारा खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने के लिए लगातार सहयोग किए जा रहेे हैं।

इसी क्रम में उन्हें अधिकतर स्थानों में मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया जा रहा है। बतौर मुख्य अतिथि  उन्होंने खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने के लिए हर संभव सहयोग करने का कार्य लगातार कर रहे हैं ।

चक्रधरपुर : 292 बच्चों का भविष्य अंधकारमय, उग्र आंदोलन की दी चेतावनी

इसी कड़ी के तहत चांदनी चौक में आयोजित प्रतियोगिता में मुख्य अतिथि के रुप में आजसू पार्टी के विधानसभा प्रभारी रामलाल मुंडा उपस्थित पहुंचे, जबकि  विशिष्ट अतिथि के रुप में पंचायत समिति सदस्य जय कुमार सिंह देव उपस्थित थे ।

साथ में प्रवीर प्रताप सिंह देव, बुलवा खान, पार्टी नेता दिनेश महतो उपस्थित थे। इस अवसर पर सभी अतिथियों द्वारा खिलाडियों से परिचय प्राप्त किया गया।
प्रतियोगिता में फाइनल खेल का शुभारंभ खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर मुख्य अतिथि के द्वारा किया गया।
प्रथम पुररस्‍कार चोंगासाई व द्वित्‍‍‍य पुुुुरस्‍कार पीके कल्ब धनबाद  और तृतीय पुररस्‍कार अर्जुन ग्रुप  को मिला। पुररस्‍कार राशि के रूप में इन्‍हेें क्रमश: 14, 11  व नौ हजार प्ररदान किए गये।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

गावां : कागजों पर ही सीमित रहा कानून, बगैर लैब, लाइब्रेरी और शिक्षक के पढ़ रहे छात्र

NewsCode Jharkhand | 21 September, 2018 5:47 PM
newscode-image

गावां (गिरिडीह)। राज्य सरकार ने पिछले कुछ सालों के भीतर प्राइमरी-मिडिल स्कूलों का उत्क्रमित कर उन्हें हाई और हाई स्कूलों को उपग्रेड कर हायर सेकंडरी में तब्दील कर के सिर्फ वाहवाही लूटी है।

स्कूलों को अपग्रेड कर सरकार ने कागजी तौर पर सूबे में उच्च शिक्षा के नाम पर जनता को बेवकूफ बनाया है। कागजी रिकॉर्ड में सरकार ने हर पांच किमी के दायरे में हाई स्कूल की व्यवस्था कर दी। लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही बयां कर रही है।

स्कूलों के अपग्रेड होने के वर्षो बाद भी आज तक हाई और हायर सेकंडरी के लिए ना तो भवन बनाया और न ही लैब और लाइब्रेरी की व्यवस्था की गई है। इतना ही नहीं कई स्कूलों में तो अब तक एक भी शिक्षक की नियुक्ती नही की गई है।

ऐसे में प्राईमरी और मीडिल स्कूल के शिक्षकों के भरोसे ही हाई और सेकंडरी स्कूलों के बच्चों के भविष्य का जिम्मा है।

राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के तहत गावां प्रखंड के छह प्राईमरी-मीडिल स्कूल को अपग्रेड कर हाई स्कूल में और दो हाई स्कूल को अपग्रेड कर हायर सेकंडरी में तब्दिल किया गया है। परंतु अपग्रेशन के चार-पांच वर्ष बाद भी अब तक इन न्यू अपग्रेड हायर सेकंडरी स्कूलों में ना तो भवन, ना ही लाइब्रेरी और ना लैब की व्यवस्था की गई है।

इतना ही नहीं गावां के नौ हाई स्कूल और दो प्लस टू स्कूल में से पांच हाई स्कूल और एक प्लस टू स्कूल शिक्षक विहीन है। ऐसे में प्रखंड की माध्यमिक शिक्षा की बदतर व्यवस्था का सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है।

प्रखंड के नौ हाई स्कूलों में उत्क्रमित हाई स्कूल जमडार को छोड़कर बाकी के आठ हाई स्कूल और दो प्लस टू स्कूल में ना तो लैब और ना ही लाईब्रेरी की मुक्कमल व्यवस्था।

बगैर लैब के इन स्कूलों में अध्ययनरत्त नौवीं से बारहवीं के साईंस के छात्र-छात्राओं को कैसी शिक्षा मिल रही है इसका अंदाजा सहज लगाया जा सकता है। जबकि आलाधिकारी यहां के स्कूलों के संसाधनों से वाकिफ है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोहरदगा : जंगल छोड़ गांव में पहुंचे गजराज, ग्रामीणों में भय के साथ कौतूहल

NewsCode Jharkhand | 21 September, 2018 5:37 PM
newscode-image

लोहरदगा। पिछले एक सप्ताह से जंगली हाथियों का दल जिले के विभिन्‍न क्षेत्रों में विचरण कर रहा है जिससे ग्रामीणों के बीच भय का वातावरण बना हुआ है। भंडरा थाना क्षेत्र के कचमची महुआटोली में शुक्रवार की सुबह हाथियों का दल पहुँच गया है। इस दल में करीब 18 हाथी हैं जिनमें कई बच्‍चे भी शामिल हैं।

जंगली हाथियों से जहां स्थानीय लोग भयभीत हैं वहीं उन्‍हें अपने आसपास विचरते देख उनके मन में कौतूहल भी उत्‍पन्‍न हो रहा है। हाथियों के झुंड को देखने के लिए भीठा, भंडरा, कचमची, चट्टी, कोटा, नागजुआ सहित दर्जनों गांव के ग्रामीण कचमची महुआटोली पहुंच रहे हैं। वहीं हाथियों के झुंड के साथ सेल्फी लेने की युवाओं में होड़ लगी है। भंडरा थाना की पुलिस ने मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों को वहाँ से हटा दिया ताकि किसी तरह की अप्रिय घटना को रोका जा सके।

इधर हाथियों के झुंड ने कई किसानों के खेत मे लगे मक्का व धान की फसल को क्षति पहुंचाई है। मामले की जानकारी मिलने के बाद भी, अभी तक वन विभाग की ओर से हाथियों को जंगल की ओर ले जाने का कोई प्रयास नहीं किया गया है जिससे ग्रामीणों में नाराजगी है।

लोहरदगा : करमा पूजा धूमधाम से संपन्‍न, सुखदेव भगत ने बजाया मांदर

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

UGC का फरमान- 29 सितंबर को यूनिवर्सिटी मनाएं ‘सर्जिकल स्ट्राइक...

more-story-image

बेंगाबाद :  या अली या हुसैन के नारों से गूंज...