धनबाद : पारा शिक्षक समेत कई संगठन हुए एकजुट, किया जोरदार प्रदर्शन

NewsCode Jharkhand | 24 February, 2018 5:53 PM
newscode-image

सरकारी स्कूलों के शिक्षक और पारा शिक्षक में कोई भिन्‍नता नहीं- अशोक सिंह

धनबादपारा शिक्षक, रसोईया, शिक्षा मित्र, संयोजिका, पंचायत प्रतिनिधियों ने भाजपा सरकार की नीति के विरोध में शनिवार को सड़क पर उतरे। रणधीर वर्मा चौक पर इनका जन सैलाब उमड़ा। इनके आंदोलन की अगुवाई जिप सदस्य अशोक सिंह ने किया। मौके पर अशोक सिंह ने कहा कि प्रदर्शन करने वाले पारा शिक्षक बच्चों का भविष्य संवारते हैं। सरकारी स्कूलों के शिक्षक और इनमें कोई भिन्‍नता नहीं है। बावजूद इन्हें मानदेय के रूप में एक छोटी सी राशि दी जाती है। वहीं सरकारी शिक्षकों का वेतन 40 हजार तक दिया जाता है। पारा शिक्षकों को आठ हजार की राशि मिलना यह राशि न्यूनतम मजदूरी के बराबर भी नहीं है। ये शिक्षक आदर्श भारत बनाने में सेवा दे रहे हैं। जिन्हें अपने हक़ के लिए सड़कों पर आना पड़ा है।

चंदनकियारी : किसी भी सरकार ने पारा शिक्षकों के मानदेय पर नहीं किया विचार- मोर्चा

अशोक सिंह ने कहा सवाल उठाते हुए कहा कि दूसरी तरफ जिले में संचालित करीब 1800 विद्यालयों को मर्ज करने की योजना सरकार बना रही है। इस परस्थिति में रसोईया बहनों का भविष्य क्‍या होगा। उनके रोजगार की सुद कौन लेगा। मर्ज होने के उपरांत उन भवनों का क्या होगा। निश्चित ही वह गर्क मे जायेंगी।

सरकार की नीति न्‍याय संगत नहीं

उन्‍होंने कहा कि कहीं न कहीं उन भवनों को बनाने में जनता का ही पैसा लगा है। सरकार की यह नीति न्याय संगत नहीं है। सरकार को इसपर गम्भीरता पूर्ण विचार करने की जरुरत है। अन्यथा एक जोरदार आंदोलन झेलने के लिए सरकार को तैयार रहना चाहिए। सरकार कुछ बेहतर करने के बजाय लगातार नई-नई घोषणाएं कर रही है।

गांव में अपने तरीके से समिति गठित करने का निर्णय लेकर गांव के जनप्रतिनिधियों के अधिकारों को कुचलने का प्रयास किया जा रहा है। ऐसे में चुनकर आने वाले उन जनप्रतिनिधियों का फिर औचित्य क्या रह जायेगा। पारा शिक्षकों की मांगें वर्षों पुरानी है, जो आज तक पूरी नहीं हुई। यह भी समझ से परे है।

स्कूल मर्ज के निर्णय को निरस्त किया जाना चाहिए- जिप सदस्‍य

जाहिर है वर्तमान सरकार एवं पूर्व की सरकारों में इच्छा शक्ति की कमी रही होगी। समान काम का समान वेतन देने की इनकी मांग जायज है। स्कूल मर्ज के निर्णय को निरस्त किया जाना चाहिए ताकि रसोईया बहनों का रोजगार यथावत बना रहे।

भाजपा सरकार में ही पारा शिक्षकों का हुआ शोषण- जिलाध्‍यक्ष

मौके पर पारा शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष ने कहा कि राज्य भर में 70 हजार पारा शिक्षक हैं जिन्हें लुप्त करने का प्रयास यह भाजपा सरकार कर रही है। इस भाजपा सरकार में ही सबसे ज्यादा शोषण पारा शिक्षकों का हुआ है। सभी 7 सूत्री मांगों पर सरकार विचार नहीं करती है तो इस बार आरपार की लड़ाई होगी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

चक्रधरपुर : रैयतो को जल्द मिले मुआवजा की राशि- आजसू

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 2:22 PM
newscode-image

चक्रधरपुर। भरनिया पंचायत के ग्राम सायतोपा में आजसू पार्टी की बैठक हुआ, बांझी कुशुम से लेकर टोकलो तक पीडब्ल्यूडी द्वारा निर्मित सड़क निर्माण में रैयतो को मुआवजा राशि नहीं मिलने से लोग आक्रोशति है। आजसू पार्टी के विधानसभा प्रभारी रामलाल मुंडा ने कहा कि सड़क निर्माण में जो भी रैयतो का भूमि आधिग्रहण किया गया है उनको मुआवजा मिलना चाहिए।

चक्रधरपुर : थाना प्रभारी ने चलाया स्वच्छता अभियान

रैयतो को मुआवजा राशी नहीं मिली तो आजसू पार्टी उग्र आंदोलन करेगी। सड़क निर्माण कार्य 1 वर्ष पूर्ण होने के बाद भी भू-अर्जन विभाग द्वारा किसी प्रकार का अभी तक माफी नहीं किया गया, जिसे रैयत को कापी आक्रोश  है। इस अवसर पर कई लोगों ने आजसू पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इस मौके पर नेता सोमेश्वर सोय, देव महतो, सोनाराम गोप, सुनील तांती, कालीचरण गोप, रामेश्वर गोप समेत सैकड़ों लोग मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

सिमडेगा : महाराष्‍ट्र टीम को हराकर फाइनल में पहुंची झारखंड टीम

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 2:34 PM
newscode-image

सिमडेगा। हॉकी इंडिया द्वारा बेंगलुरु में आयोजित 3rd 5A साइड हॉकी इंडिया सीनियर नेशनल चैम्पियनशिप में झारखण्ड महिला हॉकी टीम महाराष्‍ट्र हॉकी टीम को 3-2से पराजित कर फाइनल में प्रवेश की।

झारखण्ड टीम का फाइनल आज शाम सात बजे चिरप्रतिद्वन्दी हॉकी हरियाणा के साथ होगा। झारखण्ड टीम की ओर से प्रमिला सोरेंग,पिंकी एक्का एवम बिरजनी एक्का  ने 1-1 गोल की।

झारखण्ड टीम से सोनल मिंज,बिरजनी एक्का, अल्का डुंगडुंग, पिंकी एक्का, सीमा कुमारी, सिमता मिंज, रीमा बखला, वेतन डुंगडुंग, प्रमिला सोरेंग,कोच-बिगन सोय, मैनेजर-अल्का डुंगडुंग है।

सेमिफाइनल में विजयी होने पर हॉकी सिमडेगा के अध्यक्ष असुंता लकड़ा, संयुक्त सह वरिष्ठ उपाध्यक्ष शशिकान्त प्रसाद, रजनीस कुमार सहित सिमडेगा के  समस्त पदाधिकारियों की ओर से शुभकामनाएं दी गई।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बड़कागांव : ईमानदारी का परिचय देते हुए पाया हुआ एटीएम कार्ड किया वापस  

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 2:17 PM
newscode-image

बड़कागांव (हजारीबाग)। तुरी मोहल्ला निवासी मुनेश कुमार राम बड़कागांव मुख्य चौक पर अपने मोबाइल दुकान के पास एटीएम कार्ड पाया। एटीएम से ₹40000 निकासी भी कर लिया परंतु पैसे निकालने के बाद मनीष के दिमाग में एक सकारात्मक सोच आया। जिस व्यक्ति का खोया हुआ एटीएम था उसे वापस करने का शीघ्र निर्णय लिया।

उसने तुरंत बड़कागांव राजधानी वस्त्रालय पहुंचकर प्रोपराइटर मनोज गुप्ता एवं समाजसेवी पूर्व पंचायत समिति सदस्य राजीव रंजन से सारी बात बताई और विचार-विमर्श करने के बाद रुपए और एसडीपीओ अनिल कुमार सिंह के पास पहुंचकर सारी बात बताई।

रांची : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का झारखंड दौरा, राज्‍यपाल व सीएम ने किया स्‍वागत 

जिस व्यक्ति का एटीएम गुम हुआ था उसे एचडीपी आवास बुलाकर उसे नगद और एटीएम कार्ड मुनेश ने सौंप दिया। इस दौरान एसडीपीओ अनिल कुमार सिंह ने मुनेश के ईमानदारी की तारिफ की।

एटीएम बड़कागांव शिरडी एनटीपीसी के लिए कार्यरत पुलिसकर्मी नवल किशोर पांडेय का था। जिन्हें खोई हुई एटीएम कार्ड निकासी की गई 40,000 रूपए  डीएसपी के समक्ष वापस दी गई।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

चक्रधरपुर : थाना प्रभारी ने चलाया स्वच्छता अभियान

more-story-image

बोकारो :  पीएम नरेंद्र मोदी ने हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर...