धनबाद : दिव्‍यांग शिक्षिका बसंती के जज्‍बे को सलाम

NewsCode Jharkhand | 8 March, 2018 7:56 PM
newscode-image

धनबाद । दिव्‍यांग होने के बाद इसे बेबसी नहीं समझ कर इससे लड़ने का जज्‍बा झरिया की बसंती में कुट-कुट कर भरा हुआ है। बसंती हाथ से दिव्‍यांग है लेकिन इस पर आंसू बहाने के बजाए उन्‍होंने पैरो के सहारे शिक्षा ग्रहण की। आज अनुबंध पर प्राथमिक व माध्यमिक विद्यालय में बसंती शिक्षा का अलख जगा रही है। वह सैकड़ो बच्चों का भविष्य उज्जवल कर रही है।

बोकारो : धूमल गिरोह का सरगना अशोक राय कोलकाता से गिरफ्तार

बसंती आज उन तमाम महिलाओं के लिए एक  मिशाल है जो किसी न किसी कारणों से अपने आप को कमजोर समझती हैं। बसंती से पढ़ने वाले छात्र भी  इनकी प्रशंसा करते हुए थकते नहीं हैं। सिंदरी के रोड़ाबांध स्कुल में पारा टीचर के रूप में बच्चों की शिक्षा देने वाली बसंती बचपन से ही दिव्‍यांग है। ईश्वर ने बसंती को दो पैर तो दिए लेकिन हाथ बनाने में शायद ईश्वर ने भूल कर दी। इस भूल के बावजूद बसंती ने कभी हार नहीं मानी।

बचपन से उसे पढाई का शौक रहा। जमीन पर बैठकर वह बचपन में लकड़ी के सहारे लिखा करती थी। एक दिन उसने अपने पिता से पढ़ने की इच्छा जाहिर की। पहले तो उसके पिता ने इसे गंभीरतापूर्वक नहीं लिया लेकिन जब वह जिद मचाई तो पिता ने उसका एडमिशन स्कुल में करवा दिया। बसंती अपने पैरों के सहारे ही पढ़ना शुरू किया।

वर्ष 1993 में उसने राजेन्द्र मध्य विद्यालय सिंदरी से दसवीं की की परीक्षा पास किया। 1999 में सिंदरी कॉलेज सिंदरी से बीए की परीक्षा द्वितीय श्रेणी से पास किया। वर्ष 2005 में बसंती पारा टीचर के रूप में सिंदरी रोड़ाबांध स्कूल में अपना योगदान दिया।  अपनी दिव्‍यांगता को हथियार बना समाज को आईना दिखाने वाली बसंती इस उपलब्धि का श्रेय अपने माता -पिता और स्कूल के शिक्षको देती हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

10वीं पास उम्मीदवारों के लिए कांस्टेबल की 55000 वैकेंसी, ऐसे करें आवेदन

NewsCode | 23 July, 2018 4:45 PM
newscode-image

नई दिल्ली। कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) ने कांस्टेबल (जनरल ड्यूटी) के पद पर 54,953 भर्तियां निकाली हैं। ये वैकेंसी सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ), केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी), सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी), राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) और सेक्रेटेरिएट सिक्योरिटी फोर्स (एसएसएफ) और असम राइफल्स में कांस्टेबल (जनरल ड्यूटी) के लिए निकली हैं। इच्छुक उम्मीदवार 24 जुलाई से 24 अगस्त, 2018 तक इन पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं।

योग्यता

– 10वीं पास युवा इस वैकेंसी के लिए आवेदन कर सकते हैं।
– उम्र की न्यूनतम सीमा 18 वर्ष और अधिकतम 23 वर्ष तय की गई है। एससी/एसटी उम्मीदवारों को उम्र में पांच वर्ष व ओबीसी उम्मीदवारों को तीन वर्ष की छूट दी जाएगी। उम्र की गणना 1 अगस्त, 2018 से की जाएगी।

चयन

– सबसे पहले कंप्यूटर आधारित लिखित परीक्षा होगी। परीक्षा तिथि अभी निर्धारित नहीं की गई है।
लिखित परीक्षा में पास होने वाले उम्मीदवारों को शारीरिक दक्षता परीक्षा के लिए बुलाया जाएगा।

लिखित परीक्षा में जनरल इंटेलिजेंस व रीजनिंग, जनरल नॉलेज व जनरल अवेयरनेस, इलिमेंट्री मैथ्स व इंग्लिश/हिन्दी विषय से जुड़े प्रश्न पूछे जाएंगे।

शारीरिक योग्यता संबंधी नियम

लंबाई
पुरुष उम्मीदवार – 170 सेमी.
महिला उम्मीदवार – 157 सेमी.

सीना

पुरुष उम्मीदवार – 80 सेमी. (फुलाकर – 85 सेमी.)

ऐसे करें आवेदन

योग्य व इच्छुक उम्मीदवार एसएससी की आधिकारिक वेबसाइट ssconline.nic पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। अनारक्षित उम्मीदवारों को 100 रुपये की एग्जामिनेशन फीस देनी होगी। ये फीस एसबीआई चालान/एसबीआई नेट बैंकिंग या मास्टर कार्ड, क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड के जरिए जमा कराई जा सकती है। महिला उम्मीदवारों व एससी, एसटी उम्मीदवारों को इस फीस से छूट है।

9 अगस्त से शुरू होगी रेलवे की सबसे बड़ी भर्ती परीक्षा, 26 जुलाई से मॉक लिंक होगा एक्टिव

साइंस के छात्रों के लिए KVPY फेलोशिप का ऑनलाइन रजि‍स्‍ट्रेशन शुरू, जानें कैसें करें आवेदन

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

लोहरदगा : छात्रा के साथ छेड़खानी पड़ी मंहगी, आरोपी दर्जी गिरफ्तार

NewsCode Jharkhand | 23 July, 2018 4:53 PM
newscode-image

लोहरदगा। शहरी क्षेत्र के अपर बाजार में छात्रा के साथ छेड़खानी का मामला प्रकाश में आया है। छात्रा ने इस बात की लिखित शिकायत सदर थाना में की है। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है। छात्रा के बयान पर मामला दर्ज किया गया है। बताया जाता है कि छात्रा ने अपर बाजार में चुन्नीलाल के समीप स्थित मिलन टेलर में 15 दिन पहले अपनी एक ड्रेस सिलने के लिए दिया था। सोमवार को छात्रा पैसे लेकर ड्रेस लाने के लिए दर्जी के पास गई हुई थी। जहां दर्जी निजाम अंसारी ने दुकान का पर्दा गिराते हुए, छात्रा से दोबारा नाप लेने की बात कही। इसके बाद वह छात्रा से छेड़खानी करने लगा।

रांची : मिजिल्स रूबेला अभियान 26 से 1.17करोड़ बच्चों को टीकाकरण का मिलेगा फायदा

छात्रा रोते हुए अपने घर चली गई। छात्रा ने पूरे मामले की जानकारी अपने परिजनों को दी। जिसके बाद परिजन दर्जी की दुकान पर पहुंच गए। परिजनों ने दर्जी को पकड़कर सदर थाना पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस आगे की कार्रवाई में जुटी है। इस मामले में एसडीपीओ अरविंद कुमार वर्मा का कहना है कि छात्रा के बयान पर पोक्सो एक्ट, छेड़खानी और एससी-एसटी एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। आरोपी की गिरफ्तारी हो चुकी है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

 धनबाद : चोरों ने किया हाथ साफ़, मालिक के उड़े होश

NewsCode Jharkhand | 23 July, 2018 4:43 PM
newscode-image

धनबाद। कोयलांचल में चोरों के हौसले लगातार बुलंदी पर है। झरिया थाना क्षेत्र के बस्ताकोला में बंद पड़े कपड़ा मिल को चोरों ने अपना निशाना बनाया। चोरों ने खिड़की उखाड़ मिल में पड़े सारे सामानों पर हांथ साफ कर दिया।

संचालक उमेश कुमार ने बताया कि तीन से चार बार चोरी की घटना पूर्व में हो चुकी है। बीती रात भी चोरों ने मिल की खिड़की को उखाड़ यहां पड़े सामानों को उठा कर ले गए हैं। मिल में पड़े मशीनों की कीमत लाखों में बतायी जा रही है।कितने की चोरी हुई है इसका आकलन अबतक नही किया जा सका है। फिलहाल संचालक द्वारा मामले की सूचना पुलिस को दी गई है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

तेनुघाट : झारखंड यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट की बैठक संपन्न

more-story-image

धनबाद : जीएम ने रेलवे अस्‍पताल का किया निरीक्षण, डासलिसिस...