धनबाद : इंजीनियरिंग के छात्र ने लगाई फांसी, डिप्रेशन में था युवक

NewsCode Jharkhand | 13 June, 2018 6:22 PM
newscode-image

धनबाद। हाउसिंग कॉलोनी के रहने वाले इंजीनियरिंग पास छात्र 27 वर्षीय बिंबलेश कुमार सिंह ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। युवक के पिता अनुग्रह नारायण सिंह सरकारी स्कूल में शिक्षक है।

डिप्रेशन में था छात्र

परिजनों के मुताबिक विगत चार साल पहले 2014 में ही बिंबलेश इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की। इस बीच वह सफ़ेद दाग की बीमारी से पीड़ित हो गया। शुरुवात के एक वर्षो में उसने नौकरी के लिए खूब दौड़ धूप भी किया। बीमारी बढ़ने से वह घर से बाहर निकलना कम कर दिया। अपने मुहल्ले के बाहर भी जाना छोड़ दिया। धीरे धीरे बिंबलेश डिप्रेशन में चला गया।

Read More:- दुमका : पोते की परवरिश में बूढ़े दादा ने दिखाई असमर्थता, भेजा गया चाइल्ड होम

सफेद दाग से था पीड़ित

सफेद दाग चेहरे पर भी दिखने लगा था। परिजनों के मुताबिक बुधवार की सुबह बिंबलेश अपने कमरे में था। घर के सदस्यों ने जब पुकार लगाई तो अंदर से दरवाजा नहीं खुला। दरवाजा पीटने के बाद भी जब दरवाजा नहीं खुला तो सभी हैरान पड़ गए। खिड़की से जब कमरे में झाँका गया तो बिंबलेश फंदे से लटकता मिला। फिलवक्त पुलिस बिंदेश के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इधर बिंबलेश के परिवार में मातम पसरा है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोहरदगा : दो नाबालिग के साथ गैंगरेप, आरोपी फरार

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 6:58 AM
newscode-image

लोहरदगा । दो नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है। डीएसपी के नेतृत्व में व्यापक छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है। दुष्कर्म के इस मामले में शामिल आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर सदर पुलिस संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है।

वहीं दुष्कर्म की शिकार दोनों नाबालिगों का मेडिकल परीक्षण भी कराया गया है। जानकारी के अनुसार एक मोटरसाइकिल में दो युवकों के साथ दोनों नाबालिग सदर थाना क्षेत्र में घूम रही थी। इसी बीच कुछ मनचले लड़कों की नजर नाबालिगों पर पड़ी। उन्होंने  दोनों नाबालिगों के साथ जबरन सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया।

बोकारो : हत्याकांड का खुलासा, छह आरोपी गिरफ्तार, कुल्हाड़ी बरामद

घटना के बाद पीड़ित नाबालिग ने किसी तरह घर पहुंचकर परिवार वालों को आपबीती सुनाई जानकारी के बाद  दोनो नाबालिग के  परिजनों द्वारा सदर थाने को घटना की जानकारी दी गई । वहीं नाबालिग के साथ घूम रहे युवक फरार बताये जा रहे हैं। फिलवक्त पुलिस मामले की पड़ताल करते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी को ले कर संभावित ठिकानों में छापेमारी कर रही है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

बोकारो : भाई-बहन को बंधक बनाए रखने के मामले में चिकित्सक पर मामला दर्ज

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 8:22 AM
newscode-image

बोकारो । को-ऑपरेटिव कॉलोनी के प्लांट संख्या 229 के मालिक दीपू घोष व उनकी बहन मंजूश्री घोष को कैद रखने के मामले में नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. डीके गुप्ता पर पूर्णेन्दू सिंह के बयान पर सिटी पुलिस ने हत्या के प्रयास की धारा में मामला दर्ज किया है। दीपू घोष व उसकी बहन मंजूश्री का इलाज फिलहाल बोकारो जेनरल अस्पताल में चल रहा है। दीपू की हालत में काफी सुधार है जबकि मंजूश्री शारीरिक रूप से स्वस्थ्य होने के बावजूद मानसिक यातना के कारण हालत ठीक नहीं है।

 धनबाद : डायरियां से एक व्यक्ति की मौत, दर्जनों लोग बीमार

विदित हो कि पुलिस कप्तान कार्तिक एस ने गुरूवार को स्वयं अस्पताल पहुंचकर भाई-बहन से जानकारी ली थी। मंजू श्री ने एसपी को जो बताया उससे स्पष्ट हुआ कि उसको प्रताड़ित किया गया है। इधर मुकदमा दर्ज होने के बाद डॉ. डीके गुप्ता की मुश्किलें बढ़ गई है। सरकारी चिकित्सक होते हुए किस परिस्थिति में वे बाहर के क्लिनिक में इलाज कर रहे थे ये सवाल उठ रहे हैं। डॉ. गुप्ता चास अनुमंडलीय अस्पताल में पदस्थापित हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

रांची : भारी मात्रा में अवैध शराब बरामद

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 7:59 AM
newscode-image

रांची। आयुक्त उत्पाद को गुप्त सूचना मिली थी कि कतरपा, नगड़ी में भारी मात्रा में अवैध शराब का निर्माण किया जा रहा है। जिसको होटलों और ढाबों में अवैध ढंग से खपाया जा रहा है। अनुमंडल पदाधिकारी, रांची और रांची जिला के सहायक उत्पाद आयुक्त व विभाग के अन्य पदाधिकारियों द्वारा संयुक्त रुप से छापेमारी की गई ।

छापेमारी के क्रम में पाया गया कि कतरपा में एक नया बड़ा सेड बनाकर भारी मात्रा में अवैध शराब का निर्माण किया जा रहा है।  मौके से करीब 200 लीटर स्प्रिट हजारों बोतल खाली और हजारों बोतल शराब भरी हुई मिली । यह जगह मुख्य रूप से  सुंदरा महतो, जटलू महतो और सुनीता महतो द्वारा छोटू  उर्फ देवेंद्र उराव द्वारा  अन्य  कर्मचारियों के साथ मिलकर संचालन किया जा रहा था। वहां पर भारी मात्रा में नकली स्टिकर, नकली होलोग्राम और पैकेजिंग का सामान जब्त किया गया। वहां पर टैंकर और टाटा सफारी गाड़ी के माध्यम से स्प्रिट, पानी और तैयार माल ट्रांसपोर्ट किया जाता है।

कोडरमा : पुलिस दल को देखकर अवैध शराब कारोबार हुए फरार

बताया गया कि इस प्रकार से जानबूझकर  खतरनाक शराब  तैयार कर  बाजार में बेचा जाना  घातक हो सकता है।  क्योंकि  ये सभी लोग बिना किसी विशेषज्ञ और बिना किसी रासायनिक परीक्षण के यह कार्य करते हैं। ऐसी शराब जहरीली भी हो सकती है। इन सभी व्यक्तियों और वाहन मालिकों के खिलाफ नगड़ी थाने में संबंधित उत्पाद अधिनियम और आईपीसी के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई।

सूत्रों के मुताबिक नगड़ी बाजार में स्थित कोयल लाइन होटल जो कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित है यही नकली शराब बेचे जाने की शिकायत मिली थी। वहां पर छापेमारी में भारी मात्रा में शराब की खाली बोतलें, रिसीविंग बिल, शराब बेचने के बिल और शराब बेचे जाने कि सीसीटीवी फुटेज की डीवीआर जब्त की गई।  इस प्रकार के अवैध कार्य संचालित किए जाने के क्रम में होटल को सील कर दिया गया है। होटल के संचालक बालकरन महतो व अन्य के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

रांची : मुख्यमंत्री ने अटलजी के सपनों का झारखंड बनाने...

more-story-image

रांची : चेंबर भवन में व्यवसाय जगत ने अटल को...