देवघर : श्रावणी मेला की तैयारी को लेकर पदाधिकारियों की बैठक

NewsCode Jharkhand | 11 May, 2018 11:16 AM
newscode-image

देवघर। आज समाहरणालय सभागार में उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में आगामी श्रावणी मेला, 2018 की तैयारियों को लेकर मेले से संबंधित सभी विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की गयी।

फुट ओवर ब्रिज की मरम्मति का कार्य

सर्वप्रथम उपायुक्त द्वारा फुट ओवर ब्रिज की मरम्मति का कार्य जल्द से जल्द पूरा करने का भी निदेश दिया गया। बैठक में उपायुक्त द्वारा निदेशित किया कि बाबा मंदिर परिसर के टूटे फर्श पर टाईल्सों का प्रतिष्ठापन, मरम्मति एवं सभी ड्रेनेज की मरम्मति का कार्य गुणवतापूर्ण तरीके से श्रावणी मेले से पूर्व कर लिया जाय ताकि श्रद्धालुओं को मेले के दौरान किसी प्रकार की कठिनाईयों का सामना न करना पड़े।

सड़कों की मरम्‍मती

बैठक के क्रम मे पथ निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए उपायुक्त द्वारा निर्देशित किया गया कि श्रावणी मेला से जुड़े सभी सड़कों का कार्य मेले से पहले दुरुस्त कर लिया जाय एवं सड़कों के किनारे पेवर्स एवं सौंदर्यीकरण के कार्य को भी पूर्ण लिया जाय ताकि वाहन से आने वाले श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की कठिनाई न हो।

ट्रैफिक हवलदारों की नियुक्ति

इन सड़कों के निर्माण से शहर में लगने वाले जाम से भी निजात पाया जा सके। ट्रैफिक व्यवस्था को दुरूस्त करने के लिए पार्किंग की समुचित व्यवस्था एवं मेला क्षेत्र में ट्रैफिक हवलदारों की नियुक्ति पर भी विशेष ध्यान देने को कहा, जिससे ट्रैफिक व्यवस्था को भी सुदृढ़ किया जा सके।

भवन निर्माण के कार्यों की समीक्षा

बैठक के दौरान उपायुक्त द्वारा राष्ट्रीय उच्च पथ प्रमण्डल को निदेशित किया गया कि श्रावणी मेला क्षेत्र सें जुड़ी सभी सड़कों को दुरूस्त कर लें एवं मरम्मतिकरण के साथ-साथ सड़क के सौंदर्यीकरण एवं रोड साईनेज पर भी विशेष ध्यान देने की बात कही एवं मेले से पहले सभी कार्य को ससमय पूर्ण कर लेने का निदेश उपायुक्त द्वारा दिया गया।

साथ हीं भवन निर्माण के कार्यों की समीक्षा करते हुए उपायुक्त द्वारा कहा गया कि कांवरिया रूटलाईन के सभी यात्री शेड और सरकारी भवनों की मरम्मति एवं सौंदर्यीकरण का कार्य भी मेले से पहले पूर्ण कर लिया जाय।

श्रावणी मेले में बनने वाले अस्थाई ओपी हेतु उपलब्ध जमीन वाले स्थलों पर ओपी0 हेतु भवन निर्माण तथा पुलिस फोर्स के ठहराव के लिए देवघर कॉलेज, डाबरग्राम एवं अन्य जगहों पर फोर्स के आवासन की व्यवस्था सुनिश्चित की जाय। साथ हीं मेले में अन्य विभाग से भी आये हुए अधिकारी और कर्मचारियों के ठहराव की समुचित व्यवस्था सुदृढ़ तरीके से करने का निदेश दिया गया।

शिवगंगा के चारों तरफ शेड का निर्माण

इसके अलावा श्रावणी मेले के कार्यों की समीक्षा के दौरान उपायुक्त द्वारा शिवगंगा के चारों तरफ कपड़े बदलने के लिए शेड का निर्माण एवं शिवगंगा के चारों और सौंदर्यीकरण का कार्य भी जल्द से जल्द करा लिया जाय। मेले के दौरान विद्युत व्यवस्था को सुदृढ़ करने के साथ-साथ चैबिसों घंटे बिजली उपलब्ध कराने हेतु सभी पुराने संयंत्रों का नवीनीकरण एवं दुम्मा से देवघर रूटलाईन में स्ट्रीट लाईट की व्यवस्था एवं पूरे कांवरिया पथ में एलटी लाईन की व्यवस्था करने की बात भी कही गयी तथा कहा गया कि सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में बिजली व्यवस्था के साथ लाईटिंग की समुचित व्यवस्था भी की जाय एवं सभी पोल, तार आदि के मरम्मतिकरण के कार्य को पूरा करें एवं पोल सिफ्टींग के साथ-साथ बिजली की व्यवस्था को मेले से पहले सुदृढ़ करने का निदेश उपायुक्त श्री राहुल कुमार सिन्हा द्वारा दिया गया।

घोरमारा में भी वाहनों के ठहराव की व्यवस्था

वहीं नगर निगम के कार्यों की समीक्षा के दौरान उपायुक्त द्वारा निदेश दिया गया कि शिवगंगा पथ एवं इसके आस-पास पेवर्स बिछाने के कार्य तथा बाघमारा बस स्टैंड के साथ-साथ घोरमारा में भी वाहनों के ठहराव की व्यवस्था करने की बात कही गयी।

साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था

नन्दन पहाड़ तलाब के सौंदर्यीकरण का कार्य मेले से पहले पूर्ण कर लिया जाय तथा सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था चैबिसों घंटे रहे इस बात का खासा ख्याल रखा जाय, जिससे आने वाले श्रद्धालुओं को एक नई अनुभूति प्राप्त हो।

तत्पश्चात् स्वास्थ्य विभाग के कार्यों की समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने कहा कि सदर अस्पताल के पुराने भवन में ट्रॉमा सेंटर की जगह मंदिर समीप सुविधा केन्द्र में ट्रॉमा सेंटर की व्यवस्था की जाय। इससे श्रद्धालुओं को समुचित सुविधा मंदिर समीप हीं मिलेगी।

मौके पर मौजूद सिविल सर्जन को उपायुक्त द्वारा निदेशित किया गया कि ट्रॉमा सेंटर में विद्युत व्यवस्था की सुदृढ़ता एवं जलापूर्ति की व्यवस्था के साथ-साथ आईसीयू से संबंधित वेंटीलेटर, मशीन उपकरण, दवाईयां आदि की उपलब्धता सुनिश्चित करायी जाय; ताकि किसी भी स्वास्थ्य से संबंधित आपातकालीन स्थिति से तत्काल निपटा जा सके। इसके अलावा मेले के  दौरान सदर अस्पताल में एम्बुलेंसो की संख्या में वृद्धि करने की बात भी कही गयी।

Read more;-

तत्पश्चात उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा द्वारा संबंधित विभाग के सभी अधिकारियों को निदेशित किया गया कि अभी से हीं श्रावणी मेले की तैयारियों में जुट जायें, ताकि मेले की व्यवस्था में किसी प्रकार की कमी न रह जाय। साथ हीं उन्होंने कहा कि सभी अपने-अपने विभाग को अभी से हीं पत्राचार कर मेले से जुड़ी आवंटन राशि की कमी को पूरा कर लें। उन्होंने सभी विभागों को आपसी सामंजश बिठाकर कार्य करने का निदेश दिया गया, जिससे कि श्रावणी मेले में आए हुए सभी श्रद्धालुओं को देवनगरी आने की एक अच्छी अनुभूति मिल सके।

रूटलाईन में बालू बिछाव पर विशेष ध्यान

साथ हीं उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा ने पूरे कांवरिया रूटलाईन की वस्तुस्थिति की जानकारी लेते हुए रूटलाईन में बालू बिछाव पर विशेष ध्यान देने का निदेश दिया एवं मेहिन बालू का हीं प्रयोग पूरे रूटलाईन में करने का निदेश दिया गया, उन्होंने कहा कि पैदल आने वाले श्रद्धालुओं को ज्यादा तकलीफों का सामना न करना पड़े।

मौके पर मौजूद अधिकारी

बैठक में पुलिस अधीक्षक नरेन्द्र कुमार सिंह, उपविकास आयुक्त सुशांत गौरव, नगर आयुक्त संजय कुमार सिंह, अपर समाहर्ता अंजनी कुमार दूबे, अनुमंडल पदाधिकारी रामनिवास यादव, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी दीपक पांडेय, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी रवि कुमार, जिला नजारत उप-समाहर्ता देवलाल उरांव, जिला परिवहन पदाधिकारी, जिला शिक्षा अधीक्षक, सीसीआर डीएसपी, कार्यपालक अभियन्ता, पेयजल एवं स्वच्छता प्रमण्डल, देवघर, कार्यपालक अभियन्ता, पथ प्रमण्डल, कार्यपालक अभियन्ता, विद्युत प्रमंडल के साथ-साथ संबंधित विभाग के सभी आलाधिकारी बैठक में उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बोकारो : सीसीएल कथारा वाशरी के कोल स्टॉक में लगी आग

NewsCode Jharkhand | 16 November, 2018 4:22 PM
newscode-image

बोकारो। सीसीएल कथारा प्रक्षेत्र अंतर्गत कथारा वाशरी के कोल स्टॉक नंबर 12 में लगी आग पर काबू पाने को लेकर सीसीएल के अधिकारी कितने सजग है यह तो कैमरे की नजर से देखने को मिला और जब मीडियाकर्मियों ने अधिकारियों से सवाल पूछा तो अपने को बचाने के लिए उल्टे मीडियाकर्मियों पर ही अपना गुस्सा इजहार करने में जुट गए सीसीएल के अधिकारी।

बीते बुधवार को कोयले के स्ट़ॉक में लगी आग की सूचना से सीसीएल के अधिकारियों में हड़कंप मच गया है औऱ तीन दिन से अधिकारियों की गतिविधियां कोल स्टॉक की ओर बढ़ गयी है।

सीसीएल के अधिकारियों की उपस्थिति में आग बुझाने का काम तो जारी है लेकिन उंट के मुंह में जीरा के सामान आग औऱ धुंए ने इस इलाके को अपने चपेट में ले लिया है लेकिन अधिकारी है कि यह मानने को तैयार नहीं औऱ कह रहे है कि जल्द ही आग पर काबू पा लिया जाएगा।

वहीं आग बुझाने वाले जो कर्मी लगे है वे भी खतरे में काम कर रहे है न ही किसी मानको का ख्याल रखा जा रहा है। अधिकारी कह रहे है कि जहां आग लगी है वहां 20 हजार टन कोयला रखा है।

बताया जा रहा है कि आग लगे स्थल पर वाशरी के पूर्व पीओ आर के मिश्रा, चीफ इंजीनियर मुरली बाबू समेत अन्य अधिकारी अपने नेतृत्व में आग बुझाने में कर्मियों के साथ लगे हैं। कहा जा रहा है कि आग लगने की मुख्य वजह सीसीएल के अधिकारियों की लापरवाही और बड़े पैमाने पर होने वाले कोयले की चोरी है।

बताया जा रहा है कि जिस जगह पर कोल स्टॉक बनाया गया था उस वाशरी का पूरा क्षेत्र भूमिगत आग से प्रभावित है और हर वर्ष इस तरह की घटनाएं घटती है। यह भी कहा जा रहा है कि हर वर्ष नवबंर माह में कोल स्टॉक में आग लगा दी जाती है ओवर रिपोर्टिंग छिपाने के लिए।

मौके पर मौजूद अधिकारी मीडिया कर्मियों को देखकर भागने लगे लेकिन जो धराए व मीडिया कर्मियों  से ही बदतमीजी शुरु कर दी। प्रभारी महाप्रबंधक एम के पासी तो मीडियाकर्मियो से ही उलझ गए औऱ कहा कि आप को दिख नहीं रहा है यह आग नहीं है सिर्फ धुँआ है और जल्द ही उसपर काबू पा लिया जाएगा आप इमसे सवाल कर रह है आप ऑफिस आईए हम भी आपसे पांच सवाल करेंगे।

वहीं कथारा वाशरी के मैनेजर भी यहां कह रहे हैं कि आग पर जल्द काबू पा लिया जाएगा। सीसीएल के कथारा प्रक्षेत्र के जीएम प्रकाश चंद्रा कहते है कि इस तरह की समास्या आती है इसका एक मात्र विल्प है पानी से आग को ठंडा कर वाशरी को फिट कर लिया जाएगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

sun

320C

Clear

Jara Hatke

Read Also

रांची : डी ए वी कपिलदेव पब्लिक स्कूल में रक्तदान शिविर का आयोजन 

NewsCode Jharkhand | 16 November, 2018 9:43 PM
newscode-image

रांची । डी ए वी कपिलदेव पब्लिक स्कूल, कडरू, में आज झारखंड,मध्यप्रदेश, सिक्किम, प0 बंगाल, उड़ीसा, उत्तर प्रदेश नेपाल और बिहार में एक सौ अस्सी से ज्यादा संख्या में डी ए वी संस्थानों की स्थापना करनेवाले भूतपूर्व निदेशक स्वर्गीय एन डी ग्रोवर जी के जन्म दिवस के अवसर पर रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर कार्यक्रम की शुरुआत अतिथियों को पुष्पगुच्छ प्रदान करने से हुई। बाद में अतिथियों ने कार्यक्रम के मुख्य अतिथि झारखंड सरकार के अतिरिक्त प्रधान सचिव के. के खंडेलवाल की उपस्थिति में दीप प्रज्वलन कार्यक्रम में भाग लिया। इस अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए विद्यालय के प्राचार्य एम के सिन्हा ने अपने स्वागत भाषण में स्वर्गीय एन डी ग्रोवर को याद करते कहा कि श्री ग्रोवर महिला शिक्षा के विशेष रूप से समर्थक थे। वे ग़रीब तथा जरूरत मंद लोगों की सेवा के लिए हमेशा तत्पर रहते थे। प्राचार्य ने कहा कि एन डी ग्रोवर जी ने झारखंड , बिहार , पश्चिम बंगाल, उड़ीसा, सिक्किम, मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश में शिक्षा की क्रांति पैदा कर दी। उन्होंने बताया कि गरीब छात्राओं को शिक्षा प्रदान करने में वे हमेशा तत्पर रहते थे। क्षेत्र में विशेषकर सारुबेड़ा में उन्होंने ग़रीब और अशिक्षित महिलाओं के लिए अनौपचारिक शिक्षा केंद्र खुलवाए ताकि वे आत्मनिर्भर बन सकें । प्राकृतिक विपदाओं में उन्होंने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। विशेष रूप से उड़ीसा में आए चक्रवात में चालीस दिनों तक अनवरत बाढ़ पीड़ितों की सेवा में लगे रहे और उन्हें भोजन, कंबल, वस्त्र जैसी आवश्यक चीजें उपलब्ध करायीं। उन्होंने कहा कि उनके आदर्शों पर चलना ही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

रक्तदान शिविर के मुख्य अतिथि झारखंड सरकार के अतिरिक्त प्रधान सचिव के. के. खंडेलवाल ने स्वर्गीय एन डी ग्रोवर को याद करते हुए उन्हें सामान्य और अति साधारण रहन सहन वाला समाजसेवी बताया। उन्होंने बच्चों का आह्वान करते हुए कहा कि वे अपने मन में स्वप्न रखें और दृढ़ इच्छाशक्ति से उसे पूर्ण करें। उन्होंने कहा कि मनुष्य अगर ठान ले तो कोई भी चीज असंभव नहीं है। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्राचार्य एम.के. सिन्हा के नेतृत्व में विद्यालय नयी उपलब्धियों और ऊँचाइयों को प्राप्त करेगा। बाद में मुख्य अतिथि के. के. खंडेलवाल और प्राचार्य एम के सिन्हा ने सम्मिलित रूप से ब्लड डोनेशन शिविर का  फीता काटकर उद्घाटन किया। रक्तदान शिविर में पचास से ज्यादा शिक्षक-शिक्षिका और शिक्षकेतर कर्मचारियों ने रक्तदान किया।

मौके पर विद्यालय के छात्र छात्राओं ,वरीय शिक्षकों और रिम्स की चिकित्सीय जाँच टीम के अलावा डॉ. वी. के. वर्मा, डॉ. सुहाष तेतरवे, एलएमसी सदस्य आर. के. मिश्रा, बी. डी. तिवारी, डीएवी गांधीनगर के प्राचार्य एस के सिन्हा, डीएवी नीरजा सहाय के प्राचार्य एस. के. मिश्रा, डीएवी हेहल के प्राचार्य एम.के सिन्हा,  समाजसेवी मुकेश तनेजा, विद्यालय के जीवविज्ञान शिक्षक डॉ. एन.के. पाण्डेय, डॉ. आर.बी. शर्मा तथा पी. एन. झा भी उपस्थित थे।

रांची: विस चुनाव को लेकर कांग्रेस की बैठक, प्रत्येक बूथ पर कमेटी बनाने का निर्णय

NewsCode Jharkhand | 16 November, 2018 9:36 PM
newscode-image

रांची । प्रदेश कांग्रेस कमिटी की बैठक आज झारखण्ड विधानसभा स्थित सभागार, धुर्वा, रॉंची में प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डा0 अजय कुमार की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में पार्टी द्वारा चलाये जाने वाले जन-सम्पर्क अभियान की शुरूआत की गयी। बैठक में अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी की ओर से जन-सम्पर्क अभियान के लिए नियुक्त राज्य के पर्यवेक्षक अजय शर्मा एवं कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम मुख्य रूप से शामिल हुए।

बैठक में जन-सम्पर्क अभियान के उद्देश्यों की चर्चा करते हुए प्रदेश अध्यक्ष डा0 अजय कुमार ने कहा कि मिशन 2019 के तहत पार्टी द्वारा बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं को जिम्मेवारी देने के लिए एक व्यापक तैयारी की गयी है, जिसके तहत हम जन-सम्पर्क कर गांव-गांव तक मतदान केन्द्रों पर आम लोगों की बैठक करेंगे और पार्टी की ओर से प्रत्येक बूथ में कम से कम पॉंच सदस्यों की कमिटी तैयार की जायेगी। कांग्रेस के सभी इकाईयों को इस अभियान से जोड़ा जायेगा तथा सभी को महत्वपूर्ण जिम्मेवारी सौंपी जायेगी।

कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने कहा कि समय-समय पर आवश्यकतानुसार पार्टी अपने संगठन को मजबूत करने का निर्णय लेती रही है। यह जन-सम्पर्क अभियान पार्टी और संगठन को मजबूत करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय नेतृत्व के निर्देश पर चलाया जा रहा है, जिसमें हम जनता का सहयोग और समर्थन दोनों लेंगे तथा सभी को पार्टी से जोड़ा जायेगा।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के पर्यवेक्षक अजय शर्मा ने कहा कि पार्टी के कार्यकर्ता मतदान केन्द्रों तक जायें, गांवों का भ्रमण करें और साथियों को पार्टी से जोड़ें। इस कार्यक्रम में किसी भी तरह की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। एक बड़े उद्देश्य के तहत कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जी ने आम लोगों के बीच संगठन को जाने का निर्देश दिया है। उन्होंने जन-सम्पर्क अभियान समिति के सदस्यों को भी आवश्यक दिशा-निर्देश दिया।  कार्यक्रम का संचालन प्रदेश कांग्रेस जन-सम्पर्क अभियान समिति के चेयरमेन रविन्द्र सिंह ने किया, अतिथियों का स्वागत महानगर कांग्रेस अध्यक्ष संजय पाण्डें तथा धन्यवाद ज्ञापन ग्रामीण अध्यक्ष सुरेश बैठा ने किया।  बैठक में मुख्य रूप से पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय, डा0 रामेश्वर उरांव, पूर्व सांसद फुरकान अंसारी, कामेश्वर बैठा, के. एन. त्रिपाठी, के. एन. झा, अजय दूबे, रमा खलखो, अशोक चौधरी, सुल्तान अहमद, भीम कुमार, राजेश ठाकुर, राजीव रंजन प्रसाद, लाल किशोरनाथ शाहदेव, शमशेर आलम, गुंजन सिंह, कुमार गौरव, नेली नाथन, शकील अख्तर अंसारी, फैयाज कैशर, रणविजय सिंह, जवाहर लाल सिन्हा, रवीन्द्र कुमार झा, मानस, अजय शाहदेव, ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह, साजिद अहमद, रौशन बरूआ, अनूप केशरी, देवकुमार राज, रामकृष्ण चौधरी, नरेश वर्मा, मुन्ना पासवान, इमदाद हुसैन, रविन्द्र कुमार वर्मा, मंजूर अंसारी, मनोज सहाय पिंकू, जयेश रंजन पाठक, अरविन्द कुमार तूफानी, मुनेश्वर उरॉंव, विजय खां, सन्नी सिंकू, श्यामल किशोर सिंह, छोटेराय किस्कु, अनुकूल मिश्रा, दिनेश यादव, उदय लखानी, मुक्ता मंडल, मनोज कुमार, सुनील सिंह, केदार पासवान, विशु हेम्ब्रम, शकील अंसारी, दिनेश सिंह राठौर, सुमित शर्मा, सुखेर भगत, चन्द्रभान सिंह आदि मुख्य रूप से उपस्थित थे।

 

 

 

More Story

more-story-image

रांची: कांग्रेस ने शुरू की मिशन 2019 की तैयारी, चुनाव...

more-story-image

रांची: भाजपा ने झामुमो और झाविमो पर साधा निशाना

X

अपना जिला चुने