‘बर्गर किंग’ के बर्गर में निकला प्लास्टिक, खाने वाले शख्स के गले में हुआ घाव

NewsCode | 16 May, 2018 2:22 PM

पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने शिफ्ट मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया, जिसे बाद में जमानत मिल गई।

newscode-image

दिल्ली के राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर एक मशहूर अमेरिकी फास्ट फूड चेन बर्गर किंग से बर्गर खरीदना एक व्यक्ति को बहुत महंगा पड़ गया। शख्स ने आरोप लगाया है कि बर्गर किंग के बर्गर को खा कर वो बीमार हो गया और उसे अस्पताल में भर्ती होना पड़ा। दरअसल, बर्गर में प्लास्टिक का एक टुकड़ा था, जिससे उस व्यक्ति के गले में घाव हो गया। इस वजह से उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने शिफ्ट मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया, जिसे बाद में जमानत मिल गई।

जानकारी के मुताबिक, राकेश कुमार नामक एक शख्स ने रविवार को बर्गर किंग आउटलेट से चीज वेज बर्गर खरीदा था। इसको खाने के दौरान राकेश कुमार ने महसूस किया कि इसमें कुछ सख्त चीज है। इसके बाद राकेश कुमार को मिचली आने लगी। उन्होंने इस बारे में शिफ्ट मैनेजर और पुलिस को जानकारी दी। राकेश कुमार को लेडी हार्डिंग अस्पताल ले जाया गया।

पुलिस के अनुसार बर्गर में एक प्लास्टिक का टुकड़ा था, जिससे राकेश कुमार की भोजन नली में घाव हो गया। उसे अस्पातल में इलाज के बाद में छुट्टी दे दी गई। इसके बाद पीड़ित की शिकायत के आधार पर पुलिस ने बर्गर किंग और उसके शिफ्ट मैनेजर के खिलाफ आईपीसी की संबंधित धाराओं में केस दर्ज किया। पुलिस ने शिफ्ट मैनेजर को गिरफ्तार भी कर लिया था।

बता दें कि बर्गर किंग कंपनी 1954 में बनाया गया था। ये अमेरिका के फ्लोरिडा में स्थापित है। मैक्डॉन्ल्ड्स को टक्कर देने में ये कंपनी सबसे आगे है। दुनिया के 95 देशों में 13,667 आउटलेट्स के साथ ये कंपनी बेहद तेजी से आगे बढ़ रही है।

चिली बर्गर खाने से फटा पेट

बता दें कि अभी कुछ महीने पहले चिली बर्गर खाने से दिल्ली के एक युवक के पेट का अंदरूनी हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया था। युवक को अस्पताल में दाखिल होना पड़ा। पीड़ित युवक ने एक रेस्त्रां में चिली बर्गर खाने की प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था। जीतने वाले को एक महीने तक रेस्त्रां में फ्री खाने का मौका मिलने वाला था।

युवक सबसे ज्यादा चिली बर्गर खाकर विजेता तो बना, लेकिन अगले दिन उसे खून की उल्टियां हुई। बिगड़ती हालत को देखकर घरवालों ने युवक को अस्पताल में दाखिल कराया। डॉक्टरों ने युवक का इंडोस्कोपी कराया तो पता चला कि उसके पेट का अंदरूनी हिस्सा फट गया। डॉक्टरों को पेट की सर्जरी करनी पड़ी। उसे तरल पदार्थ के सहारे रहना पड़ा।

VIDEO: पहली बार स्पेस में हुई पिज्जा पार्टी, आपने देखी क्या ?

रांची : धनिया-मिर्च ने खराब किया जायका, खुखड़ी दोहरे शतक पर, हरी सब्जियों के लिए तरस रहे लोग

NewsCode Jharkhand | 17 August, 2018 9:04 PM
newscode-image

रांची। झारखंड की राजधानी रांची के सब्‍जी मंडियों में हरी सब्जियों की कीमत बढ़ गई है. सावन आते ही करीब सभी सब्जियों की कीमतों में 10-15 रुपये तक बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। मार्केट में धनिया 100 के पार चली गई है।

मौसमी सब्‍जी खुखडी और रूगडा तो डबल रेट पर बिक रहे हैं। सावन आने के साथ सब्जियों की मांग बढ़ गयी है, क्योंकि इस पावन माह में बहुत सारे लोग मांसाहार से दूरी बनाये रखते हैं। लोगों का झुकाव भी एक महीने तक ताजे शाक-सब्जियों की ओर ही रहता है। वहीं दूसरी ओर चिकन सौ रूपये से नीचे गिर कर 80-90 रुपये प्रतिकिलो बिक रहे हैं।

रांची : झाविमो केंद्रीय कार्यालय में शोक सभा का आयोजन, अटल को दी श्रद्धांजलि

परवल, भिंडी, धनिया पत्ती, गोभी जैसी सब्जियां उम्मीद से ज्यादा महंगा होकर आम लोगों की पॉकेट पर भारी पड़ रही हैं। राजधानी रांची के अधिकांश घरों की रसोई से ये तमाम सब्जियां दूर होने लगी हैं। इसके कारण लोग इसके विकल्प की ओर ध्यान देने लगे हैं। करीब हर हरी सब्जियों की कीमत 40-50 रुपये प्रति किलो है।

सब्जी के दरों में वृद्धि की वजह बारिश का सीजन भी है। बरसात के इस मौसम में हरी सब्जियां जल्दी सड़ने लगती हैं। इस कारण इसकी आवक पर भी असर पड़ता है। मंडी में सब्जियों के स्टॉक कम रखे जा रहे हैं। डिमांड बढ़ने से सब्जियों की कीमत बढ़ गई है।

हरी सब्जियों के बने ये विकल्‍प

सब्जियों की कीमत बढ़ने से इनके विकल्प की ओर लोगों का रूझान होने लगा है। विकल्प के रूप में बेसन की सब्जी, चने की सब्जी, सोयाबीन, रुगड़ा, मशरूम आदि की मांग बढ़ गई है। पनीर और मशरूम पर भी काफी जोर है।

सब्जियों की प्रति किलो कीमत

नेनुआ 30 रुपये, परवल 40 रुपये, झिंगी 30 रुपये, गोभी 60 रुपये, कद्दू 20 रुपये, बिन्स 80 रुपये, भिंडी 30 रुपये, कचू 30 रुपये, मूली 40 रुपये, प्याज 20 रुपये, आलू 20 रुपये, टमाटर 60 रुपये, नींबू 10 रुपये में तीन पीस, खीरा 60 रुपये, गाजर 60 रुपये, कच्चा केला 40 रुपये, करेला 40 रुपये, कुंदरी 30 रुपये, बैंगन 40 रुपये, बोदी 40 रुपये, हरी मिर्च 100 रुपये, अदरख 200 रुपये, धनिया पत्ता 100 रुपये और खेक्सा 40 रुपये।

सब्‍जी मंडियों में हरी सब्जियों की कीमत

झारखंड की राजधानी रांची के सब्‍जी मंडियों में हरी सब्जियों की कीमत बढ़़ गई है। सावन आते ही करीब सभी सब्जियों की कीमतों में 10-15 रुपये तक बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। मार्केट में धनिया 100 के पार चली गई है। मौसमी सब्‍जी खुखडी और रूगडा तो दोहरे शतक की दर पर बिक रहे हैं।

परवल, भिंडी, धनिया पत्ती, गोभी जैसी सब्जियां उम्मीद से ज्यादा महंगा होकर आम लोगों की पॉकेट पर भारी पड़ रही हैं. राजधानी रांची के अधिकांश घरों की रसोई में ये तमाम सब्जियां दूर होने लगी हैं। इसके कारण लोग इसके विकल्प की ओर ध्यान देने लगे हैं। करीब हर हरी सब्जियों की कीमत 40-50 रुपये प्रति किलो है।

सब्जी के दरों में वृद्धि की वजह बारिश का सीजन भी है। बरसात के इस मौसम में हरी सब्जियां जल्दी सड़ने लगती हैं।  इस कारण इसकी आवक पर भी असर पड़ता है। मंडी में सब्जियों के स्टॉक कम रखा जा रहा है, डिमांड बढने से सब्जियों की कीमत बढ़ गई है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

बोकारो : भाई-बहन को बंधक बनाए रखने के मामले में चिकित्सक पर मामला दर्ज

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 8:22 AM
newscode-image

बोकारो । को-ऑपरेटिव कॉलोनी के प्लांट संख्या 229 के मालिक दीपू घोष व उनकी बहन मंजूश्री घोष को कैद रखने के मामले में नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. डीके गुप्ता पर पूर्णेन्दू सिंह के बयान पर सिटी पुलिस ने हत्या के प्रयास की धारा में मामला दर्ज किया है। दीपू घोष व उसकी बहन मंजूश्री का इलाज फिलहाल बोकारो जेनरल अस्पताल में चल रहा है। दीपू की हालत में काफी सुधार है जबकि मंजूश्री शारीरिक रूप से स्वस्थ्य होने के बावजूद मानसिक यातना के कारण हालत ठीक नहीं है।

 धनबाद : डायरियां से एक व्यक्ति की मौत, दर्जनों लोग बीमार

विदित हो कि पुलिस कप्तान कार्तिक एस ने गुरूवार को स्वयं अस्पताल पहुंचकर भाई-बहन से जानकारी ली थी। मंजू श्री ने एसपी को जो बताया उससे स्पष्ट हुआ कि उसको प्रताड़ित किया गया है। इधर मुकदमा दर्ज होने के बाद डॉ. डीके गुप्ता की मुश्किलें बढ़ गई है। सरकारी चिकित्सक होते हुए किस परिस्थिति में वे बाहर के क्लिनिक में इलाज कर रहे थे ये सवाल उठ रहे हैं। डॉ. गुप्ता चास अनुमंडलीय अस्पताल में पदस्थापित हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

रांची : भारी मात्रा में अवैध शराब बरामद

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 7:59 AM
newscode-image

रांची। आयुक्त उत्पाद को गुप्त सूचना मिली थी कि कतरपा, नगड़ी में भारी मात्रा में अवैध शराब का निर्माण किया जा रहा है। जिसको होटलों और ढाबों में अवैध ढंग से खपाया जा रहा है। अनुमंडल पदाधिकारी, रांची और रांची जिला के सहायक उत्पाद आयुक्त व विभाग के अन्य पदाधिकारियों द्वारा संयुक्त रुप से छापेमारी की गई ।

छापेमारी के क्रम में पाया गया कि कतरपा में एक नया बड़ा सेड बनाकर भारी मात्रा में अवैध शराब का निर्माण किया जा रहा है।  मौके से करीब 200 लीटर स्प्रिट हजारों बोतल खाली और हजारों बोतल शराब भरी हुई मिली । यह जगह मुख्य रूप से  सुंदरा महतो, जटलू महतो और सुनीता महतो द्वारा छोटू  उर्फ देवेंद्र उराव द्वारा  अन्य  कर्मचारियों के साथ मिलकर संचालन किया जा रहा था। वहां पर भारी मात्रा में नकली स्टिकर, नकली होलोग्राम और पैकेजिंग का सामान जब्त किया गया। वहां पर टैंकर और टाटा सफारी गाड़ी के माध्यम से स्प्रिट, पानी और तैयार माल ट्रांसपोर्ट किया जाता है।

कोडरमा : पुलिस दल को देखकर अवैध शराब कारोबार हुए फरार

बताया गया कि इस प्रकार से जानबूझकर  खतरनाक शराब  तैयार कर  बाजार में बेचा जाना  घातक हो सकता है।  क्योंकि  ये सभी लोग बिना किसी विशेषज्ञ और बिना किसी रासायनिक परीक्षण के यह कार्य करते हैं। ऐसी शराब जहरीली भी हो सकती है। इन सभी व्यक्तियों और वाहन मालिकों के खिलाफ नगड़ी थाने में संबंधित उत्पाद अधिनियम और आईपीसी के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई।

सूत्रों के मुताबिक नगड़ी बाजार में स्थित कोयल लाइन होटल जो कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित है यही नकली शराब बेचे जाने की शिकायत मिली थी। वहां पर छापेमारी में भारी मात्रा में शराब की खाली बोतलें, रिसीविंग बिल, शराब बेचने के बिल और शराब बेचे जाने कि सीसीटीवी फुटेज की डीवीआर जब्त की गई।  इस प्रकार के अवैध कार्य संचालित किए जाने के क्रम में होटल को सील कर दिया गया है। होटल के संचालक बालकरन महतो व अन्य के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

रांची : मुख्यमंत्री ने अटलजी के सपनों का झारखंड बनाने...

more-story-image

लोहरदगा : दो नाबालिग के साथ गैंगरेप, आरोपी फरार