चतरा : मनचले युवकों ने युवती के साथ की छेड़छाड़, मामला दर्ज

NewsCode Jharkhand | 8 July, 2018 8:03 PM
newscode-image

चतरा। सदर थाना क्षेत्र के हेरू नदी के समीप शनिवार की शाम अपने घर जा रही एक युवती के साथ छेड़छाड़ करने का मामला प्रकाश में आया है। इस बाबत पीड़िता ने सदर थाना में आवेदन देकर दो अज्ञात लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज कराई है।

चतरा : इस पुल से गुजरने से पहले हो जाये सावधान! हो सकती है दुर्घटना…

पीड़िता ने कहा है कि वह सदर प्रखंड के तुड़ाग गांव की रहने वाली है। वह शहर के मेन रोड स्थित एक कपड़ा दुकान में काम करती है। वापस लौटने के क्रम में हेरू नदी के समीप मोटरसाइकिल से जा रहे दो युवक जबरन उठाकर वाहन पर बिठाकर ले जा रहा था। चिल्लाने पर आस-पास ये लोग इक्कठा हो गए। जिसे देख दोनों युवक मोटरसाइकिल छोड़कर भाग गए।

थाना प्रभारी ने बताया कि मोटरसाइकिल को अपने कब्जे में लेते हुए उसे थाना लाया गया है। बताया कि चालक की शिनाख्त हो गई है। चालक सदर थाना क्षेत्र के संघरी गांव निवासी मो. खलिद का पुत्र मो. जफर है जबकि दूसरे की पहचान नही हो सकी है। उन्होंने बताया कि युवक की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस छापेमारी अभियान चला रही  है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

दुमका : मामूली विवाद को लेकर शिक्षक ने छात्र को बेहरमी से पीटा

NewsCode Jharkhand | 20 July, 2018 9:37 PM
newscode-image

दुमका। शहर के डॉन बास्को स्कूल में एक छात्र का पीटाई करने का मामला नगर थाना पहुंचा। जहां स्कूल के वर्ग-6 में पढ़ाई करने वाले कृष्ण कुमार वर्मा और उसके पिता विजय कुमार वर्मा ने आरोपी शिक्षक के विरूद्ध लिखित शिकायत किया है।

दुमका : सहकारिता सह प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी को घूस लेते ACB ने दबोचा

मामले में पीड़ित छात्र के पिता और छात्र ने बताया कि एक सहपाठी से मामूली विवाद को लेकर सहपाठी के शिकायत पर शिक्षक प्रकाश मुर्मू ने बेहरमी से पीटाई कर दिया है। शिक्षक रूल टूटने तक पिटाई करते रहा। जब इसकी जानकारी पिता विजय वर्मा को छात्र के दोस्तों ने दी।

दुमका : हंसडीहा थाना का छत जर्जर होकर गिरा, हवलदार गंभीर रूप से घायल

 

मामले में अभिभावक द्वारा प्राचार्य रोज मेरी हेम्ब्रम ने कार्रवाई का आश्वासन दिया। इसके बाद पीड़ित छात्र घर पहुंचा। जहां स्कूल ड्रेस चेंज करते समय उसकी मां और दादी देख मामले में आरोपी छात्र को सजा दिलाने को लेकर नगर थाना पहुंचे। नगर थाना पुलिस देवव्रत पोद्दार ने अभिभावक के शिकायत पर आरोपी शिक्षक को बुलाने का निर्देश दिया।

समाचार लिखे जानते तक प्राथमिकी दर्ज नहीं हो पायी है। इधर मामले में प्राचार्या रोज मेरी हेम्ब्रम ने सफाई देते हुए कहा कि यह पहली घटना है, शिक्षक के विरूद्ध आवश्यक कार्रवाई की जायेगी। शिक्षक की वैसे कोई मंशा नहीं थी, जिससे छात्र और उसके परिवार को किसी प्रकार की क्षति पहुंचे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

अविश्वास प्रस्ताव LIVE: पीएम मोदी ने कहा- खड़ा भी हूं, अड़ा भी हूं, विपक्ष का नारेबाजी- ‘वी वांट जस्टिस’

NewsCode | 20 July, 2018 9:39 PM
newscode-image

संसद के मॉनसून सत्र का तीसरा दिन है और आज लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ पहले अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग कराई जाएगी. बुधवार को टीडीपी सांसद की ओर से लाए गए अविश्वास प्रस्ताव को लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने मंजूर किया था, जिसके बाद उस पर चर्चा के लिए शुक्रवार का दिन तय हुआ था.

संसद के मॉनसून सत्र का तीसरा दिन है और आज लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ पहले अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग कराई जाएगी. बुधवार को टीडीपी सांसद की ओर से लाए गए अविश्वास प्रस्ताव को लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने मंजूर किया था, जिसके बाद उस पर चर्चा के लिए शुक्रवार का दिन तय हुआ था.

अविश्‍वास प्रस्‍ताव पर कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने भी भाषण दिया. राहुल गांधी अपना भाषण खत्‍म करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास गए और उनके गले लगकर हाथ मिलाया.

LIVE UPDATES:

पीएम मोदी ने बोलना शुरू किया-

प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान लोकसभा में जमकर हंगामा,  विपक्षी नेताओं लगा रहे वी वांट जस्टिस के नारे

पिछले दो वर्ष में पांच करोड़ लोग गरीबी से बाहर आए : अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

– किसानों की आय 2022 तक दोगुनी कर देंगे : अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा में कहा, ”हम ‘सबका साथ, सबका विकास’ के मंत्र पर काम करते रहे.”

– अविश्‍वास प्रस्‍ताव पर चर्चा : प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान लोकसभा में जमकर हंगामा

– लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं पर भरोसा ज़रूरी, सवा सौ करोड़ देशवासियों पर अविश्वास न करें : अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

– साथियों की परीक्षा लेने के लिए अविश्वास प्रस्ताव नहीं लाया जाना चाहिए : लोकसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

– न मांझी, न रहबर, न हक में हवाएं, है कश्ती भी जर्जर, यह कैसा सफर है : अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

– न संख्या है, न बहुमत, फिर भी अविश्वास प्रस्ताव लाया गया, देश देख रहा है, कैसी नकारात्मकता है : अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

– अविश्‍वास प्रस्‍ताव के बहाने अपने कुनबे को जमाने की कोशिश की गई है.

– राहुल गांधी के गले मिलने पर पीएम मोदी बोले- कुर्सी पर पहुंचने की जल्‍दबाजी है.

– पीएम मोदी ने कहा , संसद में बहुमत नहीं फिर भी अविश्‍वास प्रस्‍ताव लाया गया है.

 -तृणमूल कांग्रेस के दिनेश त्रिवेदी ने कहा, “आप राम पर भी अपनी मनॉपली (एकाधिकार) करना चाहते हैं.”

-हमें रूस-अमेरिका नहीं, हिन्दू-मुस्लिम के बीच फैल रही नफरत मारेगी : नेशनल कॉन्फ्रेंस के सांसद फारुक अब्दुल्ला

– मॉब लिंचिंग सिर्फ 1984 में नहीं हुई थी, वह 2002 में भी हुई : AIMIM के सांसद असदुद्दीन ओवैसी

 पलामू : भू-माफियाओं से परेशान ग्रामीण अनिश्चितकालीन आमरण अनशन पर

NewsCode Jharkhand | 20 July, 2018 9:34 PM
newscode-image

पलामू। सरकार द्वारा भूमिहीनों को  जमीन दिया गया था मगर भूमाफियाओं द्वारा गलत तरीके से जमीन को हड़पने का काम किया गया है जिसके विरोध में पाटन प्रखंड के सोले गांव के 20 दलित परिवार पिछले 17 जुलाई से कचहरी परिसर में आमरण अनशन पर हैं। ग्रामीणों की  मांग है कि प्रशासन भूमाफियाओं से उनके जमीन को मुक्त कराएं। दरअसल 1987 में भूमिहीन परिवारों को सरकार ने ही भूदान दिया था जिसका ग्रामीण लगातार लगान भी जमा कर रहे थे।

पाटन प्रखंड के सोले गांव के 20 दलित परिवार को 31 साल पहले 40 एकड़ जमीन सरकार ने भूमिहीन होने के नाते दिया था मगर बाद में सीओ कार्यालय के कर्मियों की मिलीभगत से भूमाफियाओं ने इनकी जमीन को फर्जी कागज बनाकर हड़प लिया, जिसका विरोध में यह ग्रामीणअनिश्चितकालीन आमरण अनशन पर हैं।

पलामू : लूट का 4 लाख 75 हजार रुपये बरामद

इनके समर्थन में मजदूर संगठन के नेताओं ने भी साथ दिया है।उनका कहना है कि पिछले कई सालों से यहां के दलित परिवार प्रखंड और जिला मुख्यालय का चक्कर काट कर थक चुके हैं मगर इनको न्याय नहीं मिला। इधर धरना पर बैठे पीड़ित ग्रामीणों का भी कहना है कि जान दे देंगे मगर जब तक सरकार व प्रशासन मांग पूरी नहीं करेगी तब तक आमरण अनशन जारी रहेगा ।वहीं इधर आमरण अनशन पर बैठे परिवारों से मिलने आये सदर सीओ शिव शंकर पांडे का कहना है कि जल्द ही इन ग्रामीणों की समस्याएं प्रशासन दूर करेगी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

कोडरमा : मुनगा के पत्ते का करें सेवन, ब्लड प्रेशर...

more-story-image

लोहरदगा : भूमि विवाद में वृद्ध को मारी गोली, हालत...