चतरा: उग्रवादियों ने फहराया तिरंगा झंडा, लगाया ‘वंदे मातरम’ का नारा

NewsCode Jharkhand | 16 August, 2017 12:25 AM
newscode-image

चतरा। झारखंड के अलग-अलग क्षेत्रों में उग्रवादी संगठन जेपीसी के सरगनाओं के द्वारा राष्‍ट्र ध्‍वज तिरंगा झंडा फहराने की खबर है। इस बीच जेपीसी के जोनल कमांडर करण ने भी तिरंगा झंडा फहराया। यह तिरंगा चतरा हजारीबाग के सीमा क्षेत्र के अंतर्गत इतिज सिरमा जंगल में राष्ट्रीय ध्‍वज तिरंगा झंडा फहराया। इस दौरान उग्रवादियों ने राष्‍ट्र गान गाया और वंदे मातरम के नारे लगाये।

जेपीसी के जोनल कमांडर करण ने बताया के जब से जेपीसी का संगठन बना है तब से देश की आजादी के प्रतीक राष्ट्रीय ध्वज को फहराते आ रहे हैं और फहराते रहेंगे। सरकार की सिलेंडर निति पर सवाल करने पर उन्होंने कहा कि हम लोग टीपीसी और माओवादी को मार भगाने का संकल्प लिया है।

ये सभी उग्रवादी संगठन हमारे क्षेत्र पर बंदूक के बल पर सभी कोल कंपनियों से लेकर ऑफिस तक कब्जा जमाये हुए हैं। इलाके के लोग लाल आंतक से ग्रसित हैं। जब तक पुलिस और जेपीसी के संगठन की ओर से यह आतंक खत्म नहीं करते तब तक हम लोग आत्म समर्पण नहीं करेंगे।

जिस दिन यह दोनों संगठन खत्म कर देंगे, उस दिन सरकार के सामने सरेंडर कर मुख्य धारा में जुट जाएंगे। आगे उन्होंने बताया कि हमारा संगठन हजारीबाग जिला के अंतर्गत राजडेरवा जंगल में कमांडर निर्भय जी ने भी राष्ट्रीय झंडा को सलामी देते हुए राष्ट्रीय ध्वज को फहराया झंडोतोलन में संगठन के 35 से  40 के संख्या में लोग मौजूद थे।

बेंगाबाद : दो पक्षों में उत्पन्न विवाद सुलझाने को लेकर शांति समिति की बैठक

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 8:04 PM
newscode-image

बेंगाबाद(गिरिडीह)। बेंगाबाद थाना क्षेत्र के ताराटांड़ पंचायत स्थित बंदियाबाद में शनिवार को थाना प्रभारी फ़ैज़ रब्बानी की अध्यक्षता में शांति समिति की बैठक आयोजित की गई।

बैठक में स्थानीय मुखिया सोमर दास समेत कई गणमान्य लोग उपस्थित थे। बंदियाबाद गावँ में एक ही समुदाय के दो पक्षों के बीच बीते एक वर्ष से ईदगाह में नमाज अदा करने की बात को लेकर विवाद चल रहा था, जिससे दोनों पक्षों में तनातनी की स्थिति बनी हुई थी।

बकरीद के मद्देनजर थाना में आयोजित शांति समिति की बैठक में इस मामले को लेकर चर्चा हुई थी, जिसके बाद मामले को गंभीरता से लेते हुए थाना प्रभारी ने गांव में दोनों पक्षों के लोगों के साथ बैठक की और दोनों पक्षों की बातों को सुनकर सुलह करने का निर्णय लिया गया।

मिलकर बकरीद की नमाज अदा करने का निर्देश

उक्त गांव में एक पक्ष के लोगों द्वारा अंजुमन का खर्चा आदि नही देने के कारण दूसरे पक्ष द्वारा उन्हें अंजुमन से अलग कर दिया गया था।

बैठक में थाना प्रभारी ने दोनों पक्षों को समझाते हुए एक साथ मिलकर बकरीद की नमाज अदा करने का निर्देश दिया और आपसी भाईचारे के साथ शांति पूर्वक त्योहार मनाने की हिदायत दी।

थाना प्रभारी एवम अन्य गणमान्य लोगों ने एक पक्ष को अंजुमन के बकाए रकम को अदा करने की नसीहत दी और दूसरे पक्ष को सभी को साथ लेकर अंजुमन चलाने का निर्देश दिया।

शांति और सौहाद्र को भंग करने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई 

थाना प्रभारी ने सभी को सख्त निर्देश दिया कि त्योहार के दौरान किसी प्रकार की अप्रिय घटना नही होनी चाहिए।

अगर किसी भी पक्ष के द्वारा किसी प्रकार से शांति और सौहाद्र को भंग करने की कोशिश की जाएगी तो उनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

बैठक में अंजुमन के सदर हमीद अंसारी, सेक्रेटरी गुलाम रसूल, मुमताज अंसारी, करामात अंसारी, रमजान मियां, नासिर अंसारी, अकबर अंसारी, गयासुद्दीन, यूनुस अंसारी, होरील मियां, समीर अंसारी, जनाब अंसारी एवम दूसरे पक्ष के रहमान मियां, गफूर मियां, इस्लाम मियां, इशहाक मियां, निजाम मियां समेत अन्य लोग उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

गुमला : कुएं में डूबने से युवक की मौत, हसुआ बनाने के दौरान हुआ हादसा

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 8:08 PM
newscode-image

गुमला। घाघरा थाना क्षेत्र के कुंदो ग्राम में एक युवक की कुएं में डूबने से मौत हो गई। सुबोध भुईयां (28 वर्ष) अपने घर से कुछ दूरी पर, बारी में पशुओं के लिए घास काट रहा था। इसी दौरान हसुआ खराब हो गया जिसे बनाने के लिए वह, पास के कुआँ पर जा कर हसुआ को बनाने लगा। इसी दौरान पैर फिसल जाने से वह कुएं मे जा गिरा। कुएं मे गिरने से उसके सिर व अन्य जगहों पर गंभीर चोट आई। जब तक उसे कुएं से बाहर निकला गया, उसकी मौत हो चुकी थी। मृतक हिंडाल्को कंपनी बिमला में दैनिक मजदूरी पर काम करता था। घटना के बाद घाघरा थाना को इसकी सूचना दी गई। पुलिस ने घटनास्थल से शव को कब्जे में कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

गुमला : ज्‍यादा वृक्षारोपण से ही होगा ग्रामीणों का विकास – अशोक भगत

 (अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

रांची : सलमान, शाहरुख और अक्षय बिकने को तैयार, बाजारों में लग रही है बोली

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 8:01 PM
newscode-image

रांची। राजधानी के बाजारों में इन दिनों बॉलीवुड के तीनों खान के साथ अक्षय कुमार की भी बोली लग रही है। जरा रुकिए यहां बॉलीवुड अभिनेताओं की बोली नहीं लग रही है बल्कि बकरीद की तैयारी है, जिसको लेकर बकरे का बाजार सजने लगा है।

पिछले कुछ वर्षों से फिल्मी सितारों के नाम से बाजार में बकरे बेचे जाने का चलन सा बन गया है। कुर्बानी का त्योहार ईद-उल-अजहा यानी बकरीद 22 अगस्त को मनाई जाएगी। इस त्योहार में बकरे की कुर्बानी का रिवाज है, जिसे लेकर रांची में बकरों का बाजार पूरी तरह सज चुका है। बाजार में 8 हजार से लेकर 60 हजार के बकरे उपलब्ध हैं।

रांची : राजधानी में 10 साल में बढ़ी 4 गुना गाड़ियों की संख्या, ट्रैफिक जाम से लोग परेशान

इस बाजार की खासियत ये है कि यहां बकरों के नाम बॉलीवुड सितारों के नाम पर लिया जाता है। जैसे दबंग सलमान की कीमत 60 हजार की है तो शाहरुख 55 हजार, सैफ अली खान 50 हजार तो वहीं अक्षय कुमार की कीमत 49 हजार की है और टाइगर यानी सलमान खान की भी कीमत अन्य बकरों की मुकाबले बहुत ज्यादा है। व्यापारियों का कहना है कि फिल्म सितारों के नाम रखने से ग्राहक आकर्षित होते हैं और सलमान मजबूत है जिसके वजह से इसकी कीमत ज्यादा है।

बकरीद त्योहार को लेकर बच्चों में खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। कई बच्चे अपने अभिभावकों के साथ बाजार में घूम रहे हैं और अपने पसंदीदा सितारे को अपने घर ले जाने की कोशिश कर रहे हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

गोमिया : गोमिया विधानसभा क्षेत्र का विकास ही मेरी प्राथमिकता-...

more-story-image

हजारीबाग : एडीजी आरके मलिक ने लिया नक्सल विरोधी अभियान...