चतरा : पांच दिन से बीएसएनएल सेवा ठप, नवीस संघ ने दिया धरना

NewsCode Jharkhand | 18 May, 2018 6:12 PM

चतरा : पांच दिन से बीएसएनएल सेवा ठप, नवीस संघ ने दिया धरना

चतरा। पांच दिनों से बीएसएनएल सेवा ठप रहने से आक्रोशित झारखंड दस्तावेज नवीस संघ एवं आम लोगों ने शुक्रवार को बीएसएनएल कार्यालय के समक्ष धरना-प्रदर्शन किया। धरना-प्रदर्शन का नेतृत्व संघ के विजय कुमार सिंह कर रहे थे, उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले कई दिनों से बीएसएनएल की ब्रॉडबैंड सेवा ठप है।

कहा कि ग्रामीण क्षेत्र से प्रतिदिन 40 से 50 किलोमीटर की दूरी तय कर लोग अपने जमीन के निबंधन के लिए आ रहे है, लेकिन बीएसएनएल सेवा ठप रहने के कारण तपती गर्मी में लोग वापस लौटने को मजबूर है।

चतरा : खुले में शौच जाने वाले लोगों को फूल देकर स्वागत किया गया

विजय कुमार सिंह ने कहा कि प्रतिदिन दर्जनों लोग कार्यालय से वापस लौट रहे है, जबतक इसकी जवाबदेही प्रशासन व विभागीय पदाधिकारी द्वारा नही ली जाती है, तबतक धरना-प्रदर्शन जारी रहेगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

जामताड़ा : ग्रामीण डाक कर्मियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल, मांगों के समर्थन में की नारेबाजी

NewsCode Jharkhand | 24 May, 2018 10:07 PM

जामताड़ा : ग्रामीण डाक कर्मियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल, मांगों के समर्थन में की नारेबाजी

कायस्थपाड़ा डाक घर के सामने ग्रामीण डाक सेवकों ने दिया धरना

जामताड़ा। अखिल भारतीय ग्रामीण डाक सेवक संघ के आह्वान पर मांगों के समर्थन में ग्रामीण डाक कर्मियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल तीसरे दिन गुरुवार को भी जारी रही। इस दौरान जामताड़ा डाकघर के समक्ष धरना पर बैठे ग्रामीण डाक सेवकों ने मांगों के समर्थन में जमकर नारेबाजी की।

संघ जिला अध्यक्ष काशीनाथ पंडित ने कहा कि इस बार आर-पार की लड़ाई है। कहा कि धरना प्रदर्शन के माध्यम से कर्मी सरकार से लंबित मांगों पर साकारात्मक पहल की मांग कर रहा है। लेकिन झूठे अश्वासन देकर सरकार ने पूर्व में भी आंदोलन को समाप्त कराया था।

इस बार संघ सरकार के झूठे आश्वासन में आने वाला नहीं है। कहां की जीडीएस कमेटी की सकारात्मक सिफारिशों एवं सप्तम वेतन आयोग द्वारा रिपोर्ट जमा करने के बावजूद सरकार ने ग्रामीण डाक कर्मियों को सातवें वेतन का लाभ उपलब्ध नहीं करा सकी है। सरकार के ऐसे रवैया से ग्रामीण डाक कर्मियों में आक्रोश है।

कहा कि हमारी मांगों को लेकर भारत सरकार और डाक विभाग की ओर से कोई पहल नहीं की गई है। सरकार के नकारात्मक रूख को देखते हुए अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू की गई है। जब तक सरकार हम सभी कर्मियों का समाधान नहीं करेंगे हड़ताल जारी रहेगा।

मौके पर भागीरथ पंडित ने कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण ग्रामीण डाक सेवकों को देश आजाद होने के बाद भी बंधुआ मजदूरी करनी पड़ रही है। सरकार द्वारा कर्मियों के हित में घोषित कोई भी लाभकारी योजनाओं को लागू करने में सक्षम नहीं हो रहा है।

गोड्डा : अडानी पावर प्लांट क्षेत्र के प्रभावितों ने उपायुक्त को सौंपा मांग पत्र

यहां तक कि डाक कर्मियों को समय पर वेतन तक नहीं मिल पाता है। इन समस्याओं से अधिकारियों को समय समय पर अवगत कराया गया लेकिन हमारी समस्याओं का समाधान नहीं हो पाया है।

धरना प्रदर्शन में उज्जवल दत्ता, गोराचंद घाटी, सुखेन मंडल, अमूल्य मंडल आदि ग्रामीण डाक सेवक मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

लोहरदगा : ग्राम विकास समिति के गठन के विरोध में मुखिया संघ ने फूंका सीएम का पुतला

NewsCode Jharkhand | 24 May, 2018 7:12 PM

लोहरदगा : ग्राम विकास समिति के गठन के विरोध में मुखिया संघ ने फूंका सीएम का पुतला

लोहरदगा। राज्य में सरकार द्वारा आदिवासी विकास समिति एवं ग्राम विकास समिति के गठन को लेकर प्रक्रिया प्रारंभ करने से नाराज मुखियाओं ने गुरुवार की शाम शहर के पावरगंज चौक में मुख्यमंत्री रघुवर दास का पुतला फूंका। इससे पहले जिला मुखिया संघ के बैनर तले जिले भर के मुखियाओं ने ब्लॉक मोड़ से लेकर पावरगंज चौक तक विरोध जुलूस निकाला।

जिसमें राज्य सरकार और मुख्यमंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। मुखियाओं ने कहा कि यह सरकार पंचायती राज व्यवस्था को कमजोर करना चाहती है। अभी तक पंचायत और मुखियाओं को पूर्ण अधिकार भी प्राप्त नहीं हुआ है और दूसरी ओर आदिवासी विकास समिति और ग्राम विकास समिति का गठन कर ग्राम पंचायत शासन व्यवस्था के समतुल्य एक शासन व्यवस्था कायम करना चाहती है।

लोहरदगा : मातृभाषा और नदियों को बचाने की जरुरत- राज्‍यपाल

इन संगठनों के गठन से पंचायती राज व्यवस्था का कोई औचित्य नहीं रह जाएगा। राज्य सरकार की मंशा ठीक नहीं है। मुखिया के ऊपर विकास की जिम्मेवारी है। वह किसी भी हाल में सरकार की मंशा को कामयाब नहीं होने देंगे।

यदि सरकार अपने इस आदेश को वापस नहीं लेती है तो उनका आंदोलन जारी रहेगा। मुखियाओं ने यह भी कहा कि राज्य सरकार द्वारा पंचायती राज व्यवस्था में व्याप्त खामियों को दूर करने के नाम पर आम आदमी के अधिकार के साथ छेड़खानी की जा रही है। ग्राम विकास समिति और आदिवासी विकास समिति के नाम पर समाज को बांटने का प्रयास हो रहा है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

धनबाद : पीएम का पुतला फूंकने के क्रम में पुलिस और एनएसयूआई कार्यकर्ताओं में झड़प

NewsCode Jharkhand | 24 May, 2018 6:55 PM

धनबाद : पीएम का पुतला फूंकने के क्रम में पुलिस और एनएसयूआई कार्यकर्ताओं में झड़प

पुलिस ने चार एनएसयूआई कार्यकर्ताओं को लिया हिरासत में

धनबाद। डीजल पेट्रोल के बढ़ते कीमत को देखते हुए आज देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका गया। कांग्रेस के छात्र संगठन एनएसयूआई द्वारा धनबाद के रणधीर वर्मा चौक पर पुतला दहन कार्यक्रम का आयोजन किया था।

पुतला दहन कार्यक्रम को धनबाद पुलिस ने रोकने का प्रयास किया, लेकिन इस दौरान पुलिस और कार्यकर्ताओं में तीखी बहस शुरू हो गई। पुलिस पीएम का पुतला फूंकने नहीं देना चाह रही थी, लेकिन कार्यकर्ता अपने जीद पर अडिग रहे। जिसके कारण एनएसयूआई के कार्यक्रम को रोकने का प्रयास किया। लेकिन पुलिस कार्यक्रम को नहीं रोक पाई।

पुतला फूंकने के दौरान सदर थाना के पुलिस अधिकारी का पैर जलने से बच गया। पुलिस ने एनएसयूआई के चार कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है।

धनबाद : पेट्रोल-डीजल मूल्य वृद्धि के खिलाफ राजद ने प्रधानमंत्री का जलाया पुतला

एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि‍ अब बीजेपी सरकार में लोकतंत्र का गलत उपयोग किया जा रहा है। जिला प्रशासन प्रदर्शन करने से भी रोकना चाह रही है, साथ ही लगातार पेट्रोल डीजल के बढ़ते दाम से आम जनता परेशान हैं। जिला प्रशासन का ये रवैया ठीक नहीं है।

इस मामले पर सदर थाना इंस्पेक्टर अशोक सिंह ने कहा कि‍ कांग्रेस के चार कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिये हैं। आपको बता दें कि‍ कल पूर्व निर्धारित प्रधानमंत्री का सभा धनबाद के बलियापुर में होना है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

X

अपना जिला चुने