चांडिल : डॉक्टर्स डे पर प्रज्ञा केंद्रों में निःशुल्क टेलीमेडिसिन कैम्प का आयोजन

NewsCode Jharkhand | 1 July, 2018 5:37 PM
newscode-image

चांडिल (सरायकेला)। 1 जुलाई को डॉक्टर्स डे के अवसर पर राज्य के विभिन्न प्रज्ञा केंद्रों में आयोजित निःशुल्क टेलीमेडिसिन कैम्प में बड़ी संख्या में लोगों का इलाज किया गया। सरायकेला जिले के कुकड़ू प्रखंड के तिरुलडीह कॉमन सर्विस सेंटर में आयोजित चिकित्सा शिविर में भी ग्रामीणों ने टेलीमेडिसिन के माध्यम से दूर बैठे डॉक्टरों से परामर्श लिया। जिसके उपरांत रोगियों को दवा की पर्ची भी दी गई।

डिजिटल इंडिया के माध्यम से अब ग्रामीण जनता भी बड़े-बड़े अस्पतालों के डॉक्टरों से टेलीमेडिसिन की सहायता से परामर्श लेकर अपना चिकित्सा करा सकती है। इसे लेकर ग्रामीणों में उत्सुकता, आशा और संतोष का भाव देखा जा रहा है।

चांडिल : ड्राईव एगेंस्ट करप्शन विषय पर कार्यशाला आयोजित

 

टेलीमेडिसिन के माध्यम से ग्रामीणों को कम खर्च में ही बड़े अस्पताल के डॉक्टरों के परामर्श हासिल हो जाते हैं जिससे उन्हें समय और पैसे की बचत तो होती ही है, साथ ही उन्हें ज्यादा भागदौड़ भी नही करनी पड़ती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया अभियान के तहत सुदुरवर्ती क्षेत्र के ग्रामीण भी अब बड़ी उत्सुकता के साथ टेलीमेडिसिन सुविधा का लाभ उठा रहे हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

तेनुघाट : आयुष्मान भारत योजना से गरीब भी करा पायेंगे बड़े अस्पताल इलाज-बीजेपी

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 6:06 PM
newscode-image

तेनुघाट(बोकारो)। सर्वमंगला नर्सिंग होम धनबाद के तत्वावधान में रविवार को गोमिया प्रखंड स्तरीय एकदिवसीय ग्रामीण चिकित्सक/समाजसेवी मिलन समारोह कार्यक्रम का आयोजन किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि भाजपा नेता देवनारायण प्रजापति ने कहा कि गोमिया के तुलबुल, होसिर,साड़म, लालबान्ध, देवीपुर, चेलियांटांड़ आदि गांवों की आबादी लगभग चालीस से पचास हजार है।

बोकारो :  पीएम नरेंद्र मोदी ने हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर का किया ऑनलाइन शिलान्यास

इतनी घनी आबादी वाले क्षेत्रों में एक भी सरकारी व निजी चिकित्सक पदस्थापित नहीं है। लोगों के बीमार हो जाने पर ग्रामीण चिकित्सक ही उनका प्राथमिक इलाज करते है। गंभीर बीमारियों के लिए उन्हें बाहर के अस्पतालों में जाना पड़ता है। जिसका उन्हें काफी खर्च वहन करना पड़ता है।

उन्होंने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री ने आयुष्मान भारत योजना का शुभारंभ कर गरीबों को भी बड़े अस्पतालों में अपने इलाज कराने का मौका दिया है। धनबाद स्थित सर्वमंगला नर्सिंग होम में भी आयुष्मान भारत योजना के तहत इलाज कराने की सुविधा मिलेगी।

 तेनुघाट : आयुष्मान भारत योजना से गरीब भी करा पायेंगे बड़े अस्पताल इलाज-बीजेपी

समारोह में विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल सर्वमंगला नर्सिंग होम के वरीय प्रबंधक डॉ. हरदेव प्रसाद ने कहा कि ग्रामीण चिकित्सकों को अगर प्रशिक्षित कर दिया जाय तो, वे भी लोगों का प्राथमिक इलाज भलीभांति कर सकते हैं। ग्रामीण चिकित्सकों के प्रशिक्षण देने के लिये सर्वमंगला नर्सिंग होम हमेशा तत्पर है साथ ही कहा कि आयुष्मान भारत योजना का लाभ उनके अस्पताल में भी मिलेगा। जहां कई तरह के गंभीर बीमारियों का इलाज बिल्कुल मुफ्त किया जाएगा।

बोकारो : प्रधामनंत्री से बात नहीं होने पर मायूस हुई एनएम

सभा की अध्यक्षता परमानन्द प्रजापति एवं संचालन संतोष प्रजापति ने किया।इस अवसर पर स्थानीय मुखिया जलेश्वर हासदा, रामचन्द्र प्रजापति, बालगोविंद प्रजापति, नारायण महतो, फिकरू साव, जितलाल प्रजापति, अरुण प्रसाद,दिलीप प्रसाद,सरिता कुमारी,संगीता कुमारी,कौलेश्वर साव,धनेश्वर प्रसाद,सदैव उपाध्याय सहित कई लोग मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

गिरिडीह :  प्रधानमंत्री ने अपनी बहनों को भेजा तोहफा, राखी के बदले आया स्मार पत्र

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 6:08 PM
newscode-image

गिरिडीह।  देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गिरिडीह की दो बहनों को रक्षाबंधन का तोहफा भेजा है।  मोहलीचुआ की रहने वाली रामबाबू साहू की पुत्री सेजल कुमारी और चाहत कुमारी ने प्रधानमंत्री को राखी भेजी थी।

राखी मिलने के बाद पीएमओ से इन दोनों बहनों के लिए स्मार पत्र आया है। बताया गया कि पिछले साल भी इन दोनों बहनों ने प्रधानमंत्री को राखी भेजी थी और पिछले साल भी उन्हें स्मार पत्र मिला था।

इस बार भी स्मार पत्र मिलने से दोनों बहनें बेहद खुश हैं। इनका कहना है कि प्रधानमंत्री सहृदय व्यक्ति हैं और उन्होंने दिल से राखी स्वीकार की। इसी वजह से वहां से प्रमाण पत्र भेजा गया है।

स्मार पत्र मिलने से परिवार  के  सदस्य भी हर्षित हैं। बताया गया कि ये दोनों बहनें हर साल देश के सैनिकों को भी राखी भेजती हैं ताकि देश की रक्षा करने वाले सैनिकों की कलाईयाँ सूनी न रह जाए।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

रांची : पीएम की तस्वीर बनाकर भेंट करना चाहती थी छात्रा, सुरक्षा गार्ड ने रोका

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 6:06 PM
newscode-image

रांची। नरेंद्र मोदी देश वासियों के चहेते प्रधानमंत्री हैं। मोदी वैसे तो बच्चों और छात्रों में काफी लोकप्रिय है लेकिन पीएम मोदी के सभा स्थल से एक छात्रा को निराश होकर लौटना पड़ा। दरअसल प्रधानमंत्री का कार्यक्रम रांची के धुर्वा स्थित प्रभात तारा मैदान में हो रहा था।

कार्यक्रम के माध्यम से प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत स्वास्थ बीमा योजना का शुभारम्भ कर रहे थे। इस एतिहासिक पल का साक्षी बनाने के लिए सभा स्थल पर लाखों लोग मौजूद थे। वैसे भी मोदी जहाँ जाते है तो उनके चाहने वाले लोगों की ख़ुशी देखते ही बनती है।

रांची : प्रधानमंत्री ने रांची से की आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत

पीएम हमेशा छात्र हितों की बात करते है शायद इसी लिए मोदी से मिलने के लिए रातू रोड की डिम्पी नाम की छात्रा सभा स्थल तक पहुंची, लेकिन डिम्पी को प्रधानमंत्री के सुरक्षा गार्ड ने रोक दिया। डिम्पी के हाथ में नरेंद्र मोदी की तस्वीर थी जिसे डिम्पी ने खुद अपने हाथों से बड़े अरमान से बनाई थी। मोदी की तस्वीर में बड़े ही प्यार से रंग भरी लेकिन सुरक्षा गार्ड द्वारा रोके जाने के कारण मोदी के तस्वीर के साथ डिम्पी के अरमानों के रंग भी फीके पड़ गए।

फिलहाल डिम्पी रांची मारवाड़ी कॉलेज बायोटेक की छात्रा है। मैट्रिक 70% अंक से पास है, डिम्पी पढ़ाई में भी काफी अच्छी है इसके बावजूद डिम्पी अपने चहेते प्रधानमंत्री से नही मिल पायी क्योंकि उसके पास पीएम से मिलने के लिए कागज के टुकड़े वाले पास नही थे।

डिम्पी मोदी से मिलने के लिए सुरक्षा कर्मियों से लाख बिनती करती रही लेकिन किसी ने उस छात्रा की फरियाद तक नही सुनी और पीएम से अगली बार मुलाकात करने की उम्मीद लिए डिम्पी निराश होकर अपने घर पैदल लौट गई।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

More Story

more-story-image

साहेबगंज : सीएस ने सदर अस्पताल में पूछताछ केंद्र का...

more-story-image

सरायकेला : मैथिली गीतों से बंंधा समां, मंत्रमुग्‍ध हुए लोग