चांडिल : डॉक्टर्स डे पर प्रज्ञा केंद्रों में निःशुल्क टेलीमेडिसिन कैम्प का आयोजन

NewsCode Jharkhand | 1 July, 2018 5:37 PM
newscode-image

चांडिल (सरायकेला)। 1 जुलाई को डॉक्टर्स डे के अवसर पर राज्य के विभिन्न प्रज्ञा केंद्रों में आयोजित निःशुल्क टेलीमेडिसिन कैम्प में बड़ी संख्या में लोगों का इलाज किया गया। सरायकेला जिले के कुकड़ू प्रखंड के तिरुलडीह कॉमन सर्विस सेंटर में आयोजित चिकित्सा शिविर में भी ग्रामीणों ने टेलीमेडिसिन के माध्यम से दूर बैठे डॉक्टरों से परामर्श लिया। जिसके उपरांत रोगियों को दवा की पर्ची भी दी गई।

डिजिटल इंडिया के माध्यम से अब ग्रामीण जनता भी बड़े-बड़े अस्पतालों के डॉक्टरों से टेलीमेडिसिन की सहायता से परामर्श लेकर अपना चिकित्सा करा सकती है। इसे लेकर ग्रामीणों में उत्सुकता, आशा और संतोष का भाव देखा जा रहा है।

चांडिल : ड्राईव एगेंस्ट करप्शन विषय पर कार्यशाला आयोजित

 

टेलीमेडिसिन के माध्यम से ग्रामीणों को कम खर्च में ही बड़े अस्पताल के डॉक्टरों के परामर्श हासिल हो जाते हैं जिससे उन्हें समय और पैसे की बचत तो होती ही है, साथ ही उन्हें ज्यादा भागदौड़ भी नही करनी पड़ती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया अभियान के तहत सुदुरवर्ती क्षेत्र के ग्रामीण भी अब बड़ी उत्सुकता के साथ टेलीमेडिसिन सुविधा का लाभ उठा रहे हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

सरायकेला : खतरनाक कीटों का हमला, दहशत में लोग

NewsCode Jharkhand | 12 November, 2018 3:28 PM
newscode-image

सरायकेला। सरायकेला/खरसावां जिले के आदित्यपुर नगर निगम क्षेत्र के वार्ड संख्या 34 में इन दिनों खतरनाक कीटों का हमला हुआ है। जहां लगभग 25 घरों के लोग पिछले एक सप्ताह से इन कीटों के हमले का शिकार हो रहे हैं।

वहीं इन कीटों का हमला इतना जहरीला है कि लोगों का शरीर खुजली से भर गया है। खासकर बच्चों का बुरा हाल है। बच्चों के अभिभावक उन्हें घरों से निकलने नहीं दे रहे। इधर स्थानीय लोग अस्थायी तौर पर सर्फ पानी का छिड़काव करा रहे हैं, लेकिन लगातार इन कीटों का हमला जारी है।

लोगों को समझ में नहीं आ रहा है कि इन कीटों के हमले से कैसे बचा जाए। इधर इस वार्ड के छठ व्रतियों का भी बुरा हाल है। इन्हें अपने बच्चों की चिंता सताए जा रही है।

आलम ये है कि ये खतरनाक कीड़े घरों और बिस्तरों पर भी पहुंच जा रहे हैं। वहीं स्वास्थ्य विभाग को इसकी जानकारी मिलते ही स्वास्थ्यकर्मी वार्ड का निरिक्षण करने पहुंचे और इन कीड़ों के हमले से प्रभावित लोगों का हाल जाना।

स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि ये कीट काफी खतरनाक होते हैं, और इसके लिए जिम्मेवार मूनगे यानि सहजन के पेड़ होते हैं। वैसे स्वास्थ्य विभाग की ओर से लोगों को अपने घरों से इसके पेड़ काटने का निर्देश जारी किया गया है, साथ ही वरीय अधिकारियों को सूचना देने की बातें भी कहीं गई है।

अचानक से इन कीटों के हमलों ने स्वास्थ्य विभाग की भी नींद हराम कर दी है। एक तरफ प्रशासनिक महकमा छठ पर्व को शांति पूर्वक संपन्न कराने में जुटा हुआ है, दूसरी तरफ वार्ड 34 के लोग दहशत के साए में छठ मनाने को विवश हैं।

जल्द ही इन कीटों के आतंक का स्थायी समाधान नहीं निकाला गया, तो पूरे वार्ड में इन कीटों का आतंक फैल जाएगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

sun

320C

Clear

Jara Hatke

Read Also

रांची : राजकीय कार्यक्रम में हंगामा करने पर 216 पारा शिक्षक बर्खास्त

NewsCode Jharkhand | 15 November, 2018 7:20 PM
newscode-image

600 अन्य की बर्खास्तगी को लेकर कार्रवाई, गिरफ्तार कर पारा शिक्षकों को कैंप जेल में रखा गया

रांची। झारखंड राज्य स्थापना दिवस के दिन पूरे राज्य भर से राजधानी रांची में आए पारा शिक्षकों ने सरकारी कार्यक्रम को बाधा पहुंचाने की कोशिश की। साथ ही विधि व्यवस्था को अपने हाथ में लेकर पत्थरबाजी भी की।

विधि व्यवस्था में लगे  पुलिस प्रशासन के पदाधिकारियों, वरीय पुलिस अधीक्षक, सिटी पुलिस अधीक्षक  एवम् ड्यूटी पर तैनात पदाधिकारियों पर  पारा शिक्षकों  ने  हमला किया जिससे कई पुलिसकर्मी और  पदाधिकारी गंभीर रूप से जख्मी हुए।

पारा शिक्षकों द्वारा सरकारी कार्यक्रम में व्यवधान डालने, विधि व्यवस्था को तोड़ने एवम् सरकारी लोगो पर हमला करने की घटना को बेहद अशोभनीय एवम् गंभीर रूप से लेते हुए  वीडियो रिकॉर्डिंग एवम् कार्यक्रम स्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरा से  लिए फुटेज एवम् अन्य प्रमाणों के आधार पर  16 प्रखंड के कुल 216 पर शिक्षकों को बर्खास्त किया गया।

साथ ही लगभग 600 पारा शिक्षकों को जिला प्रशासन द्वारा बनाई गई खेलगांव एवम् रेड क्रॉस अस्थायी जेल में गिरफ़्तार कर रखा गया है। जिन पर सीसीटीवी कैमरा एवम्  वीडियो रिकॉर्डिंग से मिले प्रमाण के आधार पर बर्खास्त करने की कारवाई चल रही है।

अन्य जिलों के जिलाधिकारियों को भी यहां शामिल पारा शिक्षकों की सूची भेजी जा रही है जिसके आधार पर  चिन्हित कर अनुशासनात्मक कारवाई की प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है।  स्थापना दिवस एक राजकीय दिवस है जी सम्पूर्ण राजवसियो के लिए सम्मान एवम् गौरव  का दिन है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

रांची : झारखंड स्थापना दिवस- संपूर्ण झारखंड खुले में शौच मुक्त घोषित, करीब 2100 को मिला नियुक्ति पत्र

NewsCode Jharkhand | 15 November, 2018 7:02 PM
newscode-image

रांची। झारखंड राज्य स्थापना दिवस मना रहा है। राज्य स्थापना दिवस के मौके पर राजधानी रांची के मोरहाबादी मैदान में आयोजित मुख्य समारोह में मुख्यमंत्री ने संपूर्ण झारखंड को खुले में शौच से मुक्त किये जाने की घोषणा की। समारोह में राज्य के तीन जिलों देवघर, हजारीबाग और लोहरदगा को पूर्ण विद्युतीकृत किये जाने की घोषणा की गयी।

इस मौके पर अरबों रुपये की योजनाओं का शिलान्यास और उदघाटन के साथ ही परिसंपत्तियों का वितरण भी किया गया। समारोह में करीब 2100 लोगों को नियुक्ति पत्र का भी वितरण किया गया।

झारखंड स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राज्य की जनता को कई सौगात दी। रांची में आयोजित मुख्य समारोह में उन्होंने राज्य को खुले में शौच से मुक्त किये जाने की घोषणा की।  उन्होंने कहा कि स्वच्छता को लेकर लोगों की आदतों में भी अब बदलाव आया है।

मुख्यमंत्री ने हर घर तक बिजली पहुंचाने के अपने वायदों को पूरा करते हुए राज्य के तीन जिलों देवघर, लोहरदगा और हजारीबाग को पूर्ण रूप से विद्युतीकृत होने का भी ऐलान किया। इस दौरान श्री दास ने कहा कि वर्तमान सरकार  पूरी तरह से पारदर्शी तरीके से काम कर रही  है और अब तक इस पर एक भी भ्रष्टाचार के आरोप नहीं लगे है।

इस दौरान राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि देश के विकास में झारखंड का अहम योगदान है। उन्होंने कहा कि जनता को चुनी हुई सरकार से आकांक्षाएं होती है , जिसे पूरा करने में सरकार लगी है।

समारोह के दौरान अरबों रुपये की परिसंपत्तियों का वितरण किया गया और कई नई परियोजनाओं का शिलान्यास और उदघाटन भी हुआ। करीब 2100 लोगों के बीच नियुक्ति पत्र का वितरण और झारखंड और देश के विकास में अपनी भूमिका निभाने वाले लोगों को सम्मानित भी किया गया। जिला मुख्यालयों में भी परिसंपत्तियों का वितरण हुआ।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

More Story

more-story-image

विधानसभावार बूथ स्तर तक प्रोजेक्ट शक्ति में लोगों को जोड़ने...

more-story-image

रांची : आम आदमी पार्टी ने निकाली झारखंड नवनिर्माण संकल्प...

X

अपना जिला चुने