चक्रधरपुर : खरसावां और चक्रधरपुर प्रखंड को जोड़ने वाली कई सड़कों की स्थिति बदहाल 

NewsCode Jharkhand | 5 February, 2018 7:14 PM

चक्रधरपुर : खरसावां और चक्रधरपुर प्रखंड को जोड़ने वाली कई सड़कों की स्थिति बदहाल 

पत्‍थर के नुकीले प्रहार से पैदल आना-जाना मुश्किल

चक्रधरपुर (. सिंहभूम)। खरसावां और चक्रधरपुर प्रखंड के सीमांत सड़कों की स्थिति अति चिंताजनक है। जिसका खामियाजा दोनों ही विधानसभा क्षेत्र की जनता को भुगतना पड़ रहा है। चक्रधरपुर प्रखंड और खरसावां प्रखंड के सीमांत इलाके की सड़कों पर नजर दौड़ाई जाए तो सारा कुछ उभर कर सामने दिखाई पड़ेगा।

जिसमें मुख्य रूप से चक्रधरपुर प्रखंड के गोपीनाथपुर पंचायत भवन से लेकर लोडोडीह समीप मोहलडीह  होकर खरसावां सीमा कुरमा तक जाने वाली सड़क की स्थिति अति चिंताजनक है। सड़क पर गड्ढे बड़े-बड़े हो गए हैं। पत्थरों की नुकीले प्रहार से लोगों को पैदल भी आना-जाना मुश्किल हो गया है। इसी तरह एक दूसरा पथ है पेटेढ़ीपा  से मोगुरदा होकर खरसावां सीमा  लावजोड़ा से लोडोडीह जानेवाली सड़क  से लेकर बीड़ी श्रमिक अस्पताल होते लोसोदिकी तक जाने वाली सड़क भी जर्जर है।

Read Moreकोडरमा : प्रखंड के सभी गांव में चलेगा स्‍वच्‍छता अभियान- चंद्रिका राम

चक्रधरपुर प्रखंड के गेलिया लोहर  गांव से लेकर केरा सीमा सिंगाडीह तक जाने वाली सड़क भी जर्जर स्थिति में है। सड़क की स्थिति इतनी खराब है कि बरसात के दिनों में तो लोग सड़क पर चलना ही नहीं चाहते हैं। कीचड़ पांकी  से पूरा सड़क भर जाता है। इसी प्रकार और भी कई सड़कें हैं जिसकी स्थिति अति चिंताजनक है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

रांची : कोयला कामगारों को जून में मिलेगा एरियर

NewsCode Jharkhand | 24 May, 2018 12:47 PM

रांची : कोयला कामगारों को जून में मिलेगा एरियर

रांची। कोल इंडिया और सहायक कंपनियों में कार्यरत कामगारों को 10 जून से पहले दसवें वेतन समझौते का एरियर मिलने की संभावना है। इसका भुगतान एकमुश्‍त करने की योजना है। इस बाबत कोल इंडिया कार्मिक विभाग ने प्रस्‍ताव तैयार किया है। इसकी मंजूरी के लिए निदेशक (वित्‍त) को भेजा है। कार्मिक विभाग ने सभी सहायक कंपनियों के निदेशक (वित्‍त) को भी इसका भुगतान करने के लिए निर्देश जारी करने की बात कही है।

इससे कंपनियों में काम करने वाले और रिटायर हुए 3.50 लाख कामगारों को लाभ होगा। एरियर की पहली किस्‍त 51 हजार रुपये का भुगतान हो चुका है।

आवास भत्‍ता का भुगतान भी जून माह में

श्रमिक संगठन एटक के लखनलाल महतो ने बताया कि शहरी क्षेत्र में रहने वाले कामगारों को आवास भत्‍ता का भुगतान भी जून माह के तनख्‍वाह से होगा। इसका भुगतान जुलाई में किया जाएगा। केंद्र सरकार के निर्धारित दर पर यह दिया जाएगा।

Read More:- टुंडी : रोजगार के क्षेत्र में आत्‍मनिर्भर बनेंगी ग्रामीण महिलाएं, मिल रहा मुफ्त प्रशिक्षण

महतो ने बताया कि जून के पहले सप्‍ताह में एपेक्‍स कमेटी या स्‍टेंडाईजेशन कमेटी की बैठक होने की संभावना भी है। इसमें नि:शक्‍त कामगारों की सुविधा, यात्रा भत्‍ता के भुगतान,आश्रितों को मिलने वाले मोनेटरी कंपसेशन, ओवर टाईम सहित कई अन्‍य मामलों पर चर्चा होगी। इसके बाद क्रियान्‍वयन आदेश (आईआई) जारी किया जाएगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

बड़कागांव : सुदूरवर्ती गावों में शिक्षा व संस्कार को लेकर चलाया गया जागरूकता अभियान

NewsCode Jharkhand | 24 May, 2018 11:33 AM

बड़कागांव : सुदूरवर्ती गावों में शिक्षा व संस्कार को लेकर चलाया गया जागरूकता अभियान

बड़कागांव  (हजारीबाग) । दर्जनों सुदूरवर्ती गांव में श्री हरि सत्संग समिति धनबाद भाग के तत्वाधान में वनवासियों एवं ग्रामीणों में संस्कार शिक्षा एवं सामाजिक उत्थान के लिए जागरूकता अभियान चलाया गया ।

इसका नेतृत्व जागरूकता अभियान के प्रमुख धर्मेंद्र कुमार, रथ प्रमुख प्रेमचंद महतो ,अरविंद महतो ,सारथी बबलू महतो ने किया। एकल अभियान के तहत लोगों को जागरुक किया जा रहा है । बड़कागांव के के महटिकरा गांव में बुधवार को पूजा अर्चना किया गया । शाम में रामायण व महाभारत दिखाया गया ।

जमशेदपुर : ट्रैफिक रूल तोड़ने वालों को दिखायी फिल्म, इसके बाद वसूला फाइन

जागरूकता अभियान को सफल बनाने में मुख्य रुप से नारायण रेड्डी, गौतम कुमार वर्मा, राज किशोर प्रसाद सोनी ,इंग्लिश सोनी, रवि महतो, महेंद्र महतो, सुषमा देवी ,ममता देवी ,फुलेश्वर महतो, जागेशवर महतो आदि ने मुख्य भूमिका निभाई ।

जागरूकता अभियान के संबंध में धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि श्री हरि सत्संग समिति का मुख्य शाखा कोलकाता में है । संस्था का मुख्य उद्देश्य संस्कार, सामाजिक और शिक्षा क्षेत्रों में लोगों को जागरूक करना है। उन्होंने बताया कि सत्संग केंद्र में 200000 लोगों को जोड़ने की लक्ष्य है । जिसमें से प्रशिक्षित कथाकार 35,00 से लेकर 10000 तक लोगों को जोड़ने का लक्ष्य है ।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

लातेहार : चंदवा पूर्वी पंचायत होगा बाल विवाह से मुक्त, लिया संकल्प

NewsCode Jharkhand | 23 May, 2018 9:55 PM

लातेहार : चंदवा पूर्वी पंचायत होगा बाल विवाह से मुक्त, लिया संकल्प

लातेहार। चंदवा पूर्वी पंचायत भवन में आज आयोजित बैठक में बाल विवाह की बुराइयों पर चर्चा की गई। इस दौरान झारखंड फाउंडेशन के निदेशक डॉ. विष्णु राजगढ़िया ने झारखंड में बाल विवाह रोकने के संबंध में राज्य सरकार की नई योजना की जानकारी। इसके बाद बैठक में यह संकल्प लिया गया कि चंदवा पूर्वी पंचायत को बाल विवाह मुक्त पंचायत बनाया जाएगा।

चंदवा पूर्वी पंचायत की मुखिया पुष्पा देवी की अध्यक्षता में हुई। बैठक में पंचायत के निर्वाचित प्रतिनिधियों, पंचायत के कर्मियों, स्वयंसेवकों और आदिवासी विकास समिति के सदस्य के अलावा स्थानीय ग्रामीण भी शामिल हुए।

बोकारो : डीडीसी ने की समीक्षा बैठक, तीन पंचायत सेवकों का रोका वेतन

बैठक में मुखिया पुष्पा देवी ने कहा कि बल विवाह एक सामाजिक बुराई है, जिसके कारण कम उम्र में विवाहित लड़के-लड़कियों का शारीरिक एवं मानसिक विकास रूक जाता है। इसलिए हमने अपनी पंचायत में जागरूकता फैलाकर इस पर रोक लगाने का संकल्प लिया है।

चंदवा पूर्वी को बाल विवाह मुक्त पंचायत बनाने के लिए झारखण्ड फाउंडेशन के सहयोग से जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। बैठक का संचालन सामाजिक कार्यकर्ता अमित झा ने किया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

X

अपना जिला चुने