चक्रधरपुर : पांच दिवसीय फुटबॉल टूर्नामेंट का उद्घाटन, विनय ब्रदर्स कराईकेला ने एमजी पदमपुर को हराया

NewsCode Jharkhand | 16 December, 2017 1:29 PM
newscode-image

चक्रधरपुर। पदमपुर पंचायत के कोटुवां बैल गोट मैदान में पांच दिवसीय फुटबॉल टूर्नामेंट का आगाज हुआ। पूर्व विधायक सुखराम उरांव ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर फुटबॉल टूर्नामेंट का शुभारंभ किया।

प्रतियोगिता का उद्घाटन मुकाबला विनय ब्रदर्स कराईकेला बनाम एमजी पदमपुर के बीच खेला गया। जिसमें विनय ब्रदर्स कराईकेला की टीम ने 1-0 से एमजी पदमपुर को पराजित कर उद्घाटन मुकाबला जीता। प्रतियोगिता में पुरुष वर्ग में कुल 64 टीमें हिस्सा ले रही हैं। जबकि 16 टीम महिला वर्ग में है। प्रतियोगिता का फाइनल मुकाबला 19 दिसंबर को होगा।

फाइनल मुकाबले में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद लक्ष्मण गिलुवा, पूर्व विधायक सुखराम उरांव, भाजपा जिलाध्यक्ष दिनेश चन्द्र नंदी, जिला परिषद भूमिका मुण्डा, पदमपुर पंचायत की मुखिया मेजो हेम्ब्रम एवं पूर्व मुखिया पीरु हेम्ब्रम मौजूद रहेंगे।

सिंहभूम में फुटबॉल का क्रेज : सुखराम

प्रतियोगिता के उद्घाटन समारोह में पूर्व विधायक सुखराम उरांव ने कहा कि सिंहभूम क्षेत्र में फुटबॉल का क्रेज है। यहां के खिलाड़ियों को प्रोत्साहन की आवश्यकता है। कड़ी मेहनत करने वाले युवक अच्छा मुकाम हासिल कर सकते हैं। मौके पर गिरिराज सेना के संरक्षक कमलदेव गिरि, राजेश शर्मा, पूर्व मुखिया पीरु हेम्ब्रम आदि मौजूद रहे।

चक्रधरपुर : तीन दिवसीय फुटबॉल प्रतियोगिता में चोंगासाई की टीम बनी विजेता

Ramgopal Jena | 20 September, 2018 3:02 PM
newscode-image

 12 टीम किए गये  पुरस्‍कृत
चक्रधरपुर।रीला मिला चांदनी चौक फुलकानी  की ओर से तीन दिवसीय फुटबॉल  प्रतियोगिता का समापन समारोह  सफलता पूर्वक सम्पन्न हुआ। चक्रधरपुर विधानसभा क्षेत्र में इन दिनों आजसू के विधानसभा प्रभारी रामलाल मुंडा के द्वारा खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने के लिए लगातार सहयोग किए जा रहेे हैं।

इसी क्रम में उन्हें अधिकतर स्थानों में मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया जा रहा है। बतौर मुख्य अतिथि  उन्होंने खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने के लिए हर संभव सहयोग करने का कार्य लगातार कर रहे हैं ।

चक्रधरपुर : 292 बच्चों का भविष्य अंधकारमय, उग्र आंदोलन की दी चेतावनी

इसी कड़ी के तहत चांदनी चौक में आयोजित प्रतियोगिता में मुख्य अतिथि के रुप में आजसू पार्टी के विधानसभा प्रभारी रामलाल मुंडा उपस्थित पहुंचे, जबकि  विशिष्ट अतिथि के रुप में पंचायत समिति सदस्य जय कुमार सिंह देव उपस्थित थे ।

साथ में प्रवीर प्रताप सिंह देव, बुलवा खान, पार्टी नेता दिनेश महतो उपस्थित थे। इस अवसर पर सभी अतिथियों द्वारा खिलाडियों से परिचय प्राप्त किया गया।
प्रतियोगिता में फाइनल खेल का शुभारंभ खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर मुख्य अतिथि के द्वारा किया गया।
प्रथम पुररस्‍कार चोंगासाई व द्वित्‍‍‍य पुुुुरस्‍कार पीके कल्ब धनबाद  और तृतीय पुररस्‍कार अर्जुन ग्रुप  को मिला। पुररस्‍कार राशि के रूप में इन्‍हेें क्रमश: 14, 11  व नौ हजार प्ररदान किए गये।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

बेरमो : हिन्दू परिवार दे रहे भाईचारा का सन्देश, 150 वर्षो से मना रहा मुहर्रम

NewsCode Jharkhand | 21 September, 2018 5:19 PM
newscode-image

बेरमो(बोकारो)। आस्था और विश्वास के आगे सभी हो जाते हैं नतमस्तक, ऐसा ही देखने को हिन्दू परिवार मेँ मिला रहा है। नावाडीह प्रखंड के बरई गांव के एक हिन्दू जमींदार परिवार है, जहाँ पर एक भी घर मुस्लिम का नहीं होने के बावजूद बीते 150 वर्षों से प्रतिवर्ष उक्त हिन्दू जमींदार के वंशजों द्वारा मुस्लिम समुदाय का त्योहार मुहर्रम मनाया जाता है।

यहां तक कि इसके लिए अखाड़ा निकालने हेतु उस परिवार को प्रशासन से लाइसेंस भी प्राप्त है।जमींदार के वशंज सह लाइसेंस धारी सहदेव प्रसाद सहित उनके परिवार यह त्यौहार पिछले पांच पीढ़ी से निरंतर मनाते आ रहे है। सहदेव प्रसाद के अनुसार इनके पूर्वज स्व. पंडित महतो, घुड़सवारी व तलवारबाजी के शौकीन थे और बरई के जमींदार भी।

बोकारो : धूम-धाम से मनाया गया करमा पूजा

जबकि निकट के बारीडीह के गंझू जाति के जमींदार के बीच सीमा को लेकर विवाद हुआ था। यह मामला गिरीडीह न्यायालय में कई वर्षों तक मुकदमा चला। मामले में स्व. महतो को फांसी की सजा मुकर्रर कर दी गई थी। फांसी दिए जाने वाला दिन मुहर्रम था और महतो से जब अंतिम इच्छा पूछा गया तो उन्होंने श्रद्वापूर्वक गिरीडीह के मुजावर से मिलने की बात कहीं और उन्हें तत्काल मुजावर से उन्हें मिलाया गया।

जहाँ मुजावर से उन्होंने शीरनी फातिहा कराई। जिसके बाद स्व. महतो को ज्योंही फांसी के तख्ते पर लटकाया गया, लगातार तीनों बार फांसी का फंदा खुल गया और अंततः उन्हें सजा से मुक्त कर दिया गया। न्यायालय से बरी होते ही नावाडीह के खरपीटो गांव पहुंचे और ढोल ढाक के साथ सहरिया गए।

बोकारो : गेल इंडिया ने रैयतों को दिया जमीन का मुआवजा

सहरिया के मुजावर को लेकर बरई आए और स्थानीय बरगद पेड़ के समीप इमामबाड़ा की स्थापना कर मुहर्रम करने की परंपरा की शुरुआत की, जो आज तक जारी है। लोगों ने बताया कि यहां लंबे समय तक सहरिया के, फिर पलामू दर्जी मौहल्ला के मुजावर असगर अंसारी तथा फिलहाल लहिया के मुजावर इबरास खान द्वारा यहां शीरनी फातिहा की जा रही है ।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

गुमला : कश्यप मुनि की जयंती धूमधाम से मनाई गई

NewsCode Jharkhand | 21 September, 2018 5:08 PM
newscode-image

गुमला। झारखंड के राजकीय पर्व करमा के अवसर पर केशरवानी वैश्य समाज के तत्वावधान में डीएसपी रोड स्थित बजरंग केशरी के आवास में गोत्राचार्य कश्यप मुनि की जयंती धूमधाम से मनाई गई।

कार्यक्रम की शुरुआत गोत्राचार्य कश्यप मुनि के चित्र पर माल्यार्पण कर के किया गया। मौके पर झारखंड प्रदेश केशरवानी वैश्य सभा के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रो. प्रेम प्रसाद केशरी ने गोत्र गुरु कश्यप मुनि की उत्पत्ति से लेकर उनके जीवनी के बारे में विस्तृत जानकारी दी।

इन्होंने कहा कि गोत्राचार्य कश्यप ऋषि के आशीर्वाद से ही केशरवनियों का सर्वागिण विकास हो रहा है एवं होता रहेगा। महर्षि कश्यप की प्रत्येक घर में पूजा अर्चना होनी चाहिए।

पाकुड़ : वन कर्मियों ने पौधा लगाकर करम महोत्‍सव मनाया

संरक्षक हरिओम लाल केशरी, बजरंग केशरी,रमेश केशरी दुर्गा केशरी ,राधा कृष्ण प्रसाद केशरी ने भी अपने विचार रखे। इस अवसर पर प्रदेश महिला सभा की मंजू केशरी ने भी अपना विचार रखा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

लोहरदगा : करमा पूजा धूमधाम से संपन्‍न, सुखदेव भगत ने...

more-story-image

रांची : 11 लाख शेष बचे परिवारों को भी स्वास्थ्य...