दंगों में जान बचाने वाले मुस्लिम परिवार के लिए 26 साल से रोजा रख रहे हैं मशहूर शेफ विकास खन्ना

NewsCode | 12 June, 2018 8:46 PM
newscode-image

नई दिल्ली। रमजान का पवित्र महीना खत्म होने वाला है। ईद की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। इस्लाम में आस्था रखने वाले लोग रमजान के पाक महीने में बड़े नियम-धरम से रहते हैं और एक महीने रोज़ा रखते हैं। इस दौरान हर दिन शाम को रोज़ा खोलते वक्त इफ्तार पार्टी होती है। अपने देश की गंगा-जमुनी तहज़ीब को आगे बढ़ाते हुए इफ्तार पार्टियों में हिंदू और अन्य धर्मों के लोग भी शरीक होते हैं। कई जगहों पर हिंदू भी साम्प्रदायिक सौहार्द्र को बढ़ावा देने के उद्देश्य से मुस्लिमों के लिए इफ्तार पार्टी का आयोजन करते हैं। लेकिन दुनिया भर में सेलिब्रिटी शेफ के तौर पर विकास खन्ना रमजान के दौरान रोज़ा भी रखते हैं। विकास के रोज़ा रखने की वजह जानकर आप अचंभित हो सकते हैं।

रोजा तोड़कर जावेद ने कुछ यूं बचाई पुनीत की जिंदगी, पेश की कौमी एकता की मिसाल

दरअसल, अनुपम खेर को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने रोजा रखने की वजह बताई है। उनका ये इंटरव्यू 1992 के दंगों से जुड़ा है। तब विकास खन्ना मुंबई के एक होटल में अपनी सेवाएं दे रहे थे। शीरॉक्स नाम के इस होटल को उन्होंने 1 नवंबर को ज्वाइन किया था। इस दौरान जमकर दंगे हो गए थे। उन्होंने बताया दंगों के दौरान एक मुस्लिम परिवार ने उनको अपने घर में रखकर उनकी जान बचाई थी।

विकास ने बताया, दंगों के दौरान उन्हें पता चला था कि घाटकोपर में दंगा हो गया था। दरअसल उनका भाई घाटकोपर में रहता था। जैसे ही उन्हें इस बारें में पता चला वे होटल से भाई को बचाने निकल गए थे। वे खार स्टेशन पहुंचे। इस दौरान कोई ट्रेन नहीं चल रही थी। वे जैसे-तैसे घाटकोपर की और बढ़ रहे थे।

गर्मी में रमज़ान के दौरान कैसे रखें अपना ख्याल, सहरी-इफ्तार में खाएंगे ये खाना तो रहेंगे फिट

इसी बीच एक क्रॉस सेक्शन आया, जहाँ एक मुस्लिम फैमिली ने उन्हें रोका और कहा- “क्या कर रहे हो बेटा? उन्होंने बताया, मेरा भाई घाटकोपर में है, रास्ता नहीं समझ आ रहा मेरे को। मुझे चलते-चलते दो-ढाई घंटे हो चुके। उन्होंने कहा- “अंदर आ, बाहर भीड़ जमा है।”

उसी वक्त भीड़ उनके घर पर आ गई पूछने के लिए कि ये बेटा किसका है? विकास बताते हैं कि उनके घर में मुझे अच्छी तरह याद है, दो बेटे, एक बेटी और उनका जमाई भी था। उन्होंने कहा कि ये मेरा बेटा है, अभी बाहर से आया है। भीड़ ने पूछा- “मुस्लिम है?” उन्होंने कहा- “हां” और उनकी जान बच गयी। विकास खन्ना आजतक वो वाकया नहीं भूल पाए हैं।

विकास ने कहा, मैं डेढ़ दिन उनके घर में रहा। मुझे नहीं याद कि वे कौन थे, मुझे कोई डायरेक्शन याद नहीं है। उन्होंने अपने जमाई को भेजा पता करने के लिए कि मेरा भाई ठीक है? वह मेरे जीवन की सबसे बड़ी बात है, डेढ़ दिन उनके घर पे फ्लोर पे सोना, और वे आपकी सुरक्षा कर रहे हैं कि तू हमारा बच्चा है।

रोज़ा रखते समय इन बातों का रखें खास ख्याल

फरवरी में दिए इस इंटरव्यू में विकास ने कहा था वहां से निकलने के बाद इस नेक मुस्लिम परिवार के बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है और वह उनसे किसी दिन जरूर मिलना चाहेंगे। कल सोमवार को
ट्विटर पर उन्होंने इस बात का फिर से जिक्र करते हुए लिखा कि,” यह मेरी ज़िंदगी का सबसे खुशगवार दिन है। मुंबई दंगों में मेरी जान बचाने वाले मुस्लिम परिवार का मुझे पता चल गया है और उनके साथ ही मैं अपना रोज़ा तोड़ूंगा।”

 

एक हजार साल पुराने मंदिर में पढ़ी गई नमाज़, महंत के साथ मौलवियों ने की इफ्तार पार्टी

बाबा सिद्दीकी की इफ्तार पार्टी में पहुंचे सलमान, कैटरीना-जैकलीन समेत कई सितारे रहे मौजूद

आखिर क्यों मनाई जाती है ईद, क्यों हुई थी इसकी शुरूआत?

VIDEO: गोल्ड तांबा गाने में दिखा शाहिद और श्रद्धा कपूर का मस्ती भरा डांस

NewsCode | 17 August, 2018 6:27 PM
newscode-image

मुंबई। बत्ती गुल मीटर चालू फिल्म का ट्रेलर रिलीज होने के बाद अब पहला गाना ‘गोल्ड तांबा’ भी रिलीज़ हो गया है। गाने के लिरिक्स काफी अलग हैं लेकिन सुनने में काफी रिफ्रेशिंग लगता है। इस गाने में शाहिद कपूर और श्रद्धा कपूर मेले में जमकर मस्ती करते नजर आ रहे हैं।

इस गाने को सिद्धार्थ और गरिमा ने लिखा है। गर्लफ्रेंड श्रद्धा को डेटिंग पर ले जाने के लिए शाहिद का देसी पन आपको मजेदार लगेगा। वहीं गाने के बोल भी आपको काफी पसंद आएंगे।

शाहिद कपूर का ये गाना किसी आयटम नंबर से कम नहीं है। शाहिद कपूर के दूसरे गानों के तरह यह गाना भी जल्द लोकप्रिय हो सकता है। शाहिद और श्रद्धा कपूर की ये फिल्म उत्तराखंड के बैकग्राउंड को ध्यान में रखकर बनी है। इस गाने को भी उत्तराखंड की वादियों में शूट किया गया है. इस फिल्म के ट्रेलर को काफी पसंद किया जा रहा है। ट्रेलर को सोशल मीडिया पर अबतक 25 मिलियन से ज्यादा लोग देख चुके है।

टी-सीरीज और कृअर्ज एंटरटेनमेंट मिलकर ‘बत्ती गुल मीटर चालू’ को बना रहे हैं। फिल्म का बहुत ही दिलचस्प फर्स्ट लुक रिलीज किया गया था। मोशन पोस्टर में दिखाया गया था कि कबूतर बिजली की तारों पर बैठे हैं और कह रहे हैं, कल रात से बत्ती गुल है। फिर भी बिल सबका फुल है।

अटल जी के निधन पर भावुक हुए शाहरुख, इस गीत के साथ ‘बाप जी’ को किया याद

फिल्म में शाहिद और श्रद्धा के अलावा यामी गौतम और दिव्येंदु शर्मा भी मुख्य भूमिका में नजर आएंगे। श्री नारायण सिंह द्वारा निर्देशित बत्ती गुल मीटर चालू में एक बार फिर शाहिद और श्रद्धा की रोमांटिक केमेस्ट्री दिखाई देगी। फिल्म 28 सितंबर को रिलीज हो रही है।

बॉक्स ऑफिस की रेस में अक्षय कुमार ने पहले दिन जीता ‘गोल्ड’, जॉन अब्राहम रह गए पीछे

देखें वीडियो:

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

बोकारो : भाई-बहन को बंधक बनाए रखने के मामले में चिकित्सक पर मामला दर्ज

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 8:22 AM
newscode-image

बोकारो । को-ऑपरेटिव कॉलोनी के प्लांट संख्या 229 के मालिक दीपू घोष व उनकी बहन मंजूश्री घोष को कैद रखने के मामले में नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. डीके गुप्ता पर पूर्णेन्दू सिंह के बयान पर सिटी पुलिस ने हत्या के प्रयास की धारा में मामला दर्ज किया है। दीपू घोष व उसकी बहन मंजूश्री का इलाज फिलहाल बोकारो जेनरल अस्पताल में चल रहा है। दीपू की हालत में काफी सुधार है जबकि मंजूश्री शारीरिक रूप से स्वस्थ्य होने के बावजूद मानसिक यातना के कारण हालत ठीक नहीं है।

 धनबाद : डायरियां से एक व्यक्ति की मौत, दर्जनों लोग बीमार

विदित हो कि पुलिस कप्तान कार्तिक एस ने गुरूवार को स्वयं अस्पताल पहुंचकर भाई-बहन से जानकारी ली थी। मंजू श्री ने एसपी को जो बताया उससे स्पष्ट हुआ कि उसको प्रताड़ित किया गया है। इधर मुकदमा दर्ज होने के बाद डॉ. डीके गुप्ता की मुश्किलें बढ़ गई है। सरकारी चिकित्सक होते हुए किस परिस्थिति में वे बाहर के क्लिनिक में इलाज कर रहे थे ये सवाल उठ रहे हैं। डॉ. गुप्ता चास अनुमंडलीय अस्पताल में पदस्थापित हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

रांची : भारी मात्रा में अवैध शराब बरामद

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 7:59 AM
newscode-image

रांची। आयुक्त उत्पाद को गुप्त सूचना मिली थी कि कतरपा, नगड़ी में भारी मात्रा में अवैध शराब का निर्माण किया जा रहा है। जिसको होटलों और ढाबों में अवैध ढंग से खपाया जा रहा है। अनुमंडल पदाधिकारी, रांची और रांची जिला के सहायक उत्पाद आयुक्त व विभाग के अन्य पदाधिकारियों द्वारा संयुक्त रुप से छापेमारी की गई ।

छापेमारी के क्रम में पाया गया कि कतरपा में एक नया बड़ा सेड बनाकर भारी मात्रा में अवैध शराब का निर्माण किया जा रहा है।  मौके से करीब 200 लीटर स्प्रिट हजारों बोतल खाली और हजारों बोतल शराब भरी हुई मिली । यह जगह मुख्य रूप से  सुंदरा महतो, जटलू महतो और सुनीता महतो द्वारा छोटू  उर्फ देवेंद्र उराव द्वारा  अन्य  कर्मचारियों के साथ मिलकर संचालन किया जा रहा था। वहां पर भारी मात्रा में नकली स्टिकर, नकली होलोग्राम और पैकेजिंग का सामान जब्त किया गया। वहां पर टैंकर और टाटा सफारी गाड़ी के माध्यम से स्प्रिट, पानी और तैयार माल ट्रांसपोर्ट किया जाता है।

कोडरमा : पुलिस दल को देखकर अवैध शराब कारोबार हुए फरार

बताया गया कि इस प्रकार से जानबूझकर  खतरनाक शराब  तैयार कर  बाजार में बेचा जाना  घातक हो सकता है।  क्योंकि  ये सभी लोग बिना किसी विशेषज्ञ और बिना किसी रासायनिक परीक्षण के यह कार्य करते हैं। ऐसी शराब जहरीली भी हो सकती है। इन सभी व्यक्तियों और वाहन मालिकों के खिलाफ नगड़ी थाने में संबंधित उत्पाद अधिनियम और आईपीसी के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई।

सूत्रों के मुताबिक नगड़ी बाजार में स्थित कोयल लाइन होटल जो कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित है यही नकली शराब बेचे जाने की शिकायत मिली थी। वहां पर छापेमारी में भारी मात्रा में शराब की खाली बोतलें, रिसीविंग बिल, शराब बेचने के बिल और शराब बेचे जाने कि सीसीटीवी फुटेज की डीवीआर जब्त की गई।  इस प्रकार के अवैध कार्य संचालित किए जाने के क्रम में होटल को सील कर दिया गया है। होटल के संचालक बालकरन महतो व अन्य के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

रांची : मुख्यमंत्री ने अटलजी के सपनों का झारखंड बनाने...

more-story-image

लोहरदगा : दो नाबालिग के साथ गैंगरेप, आरोपी फरार