बुंडू : नगर अध्यक्ष कार्यपालक पदाधिकारी से था दरार, आज प्रोग्राम में एक साथ दिखे, दो पार्षद अब भी हैं नाराज

NewsCode Jharkhand | 2 October, 2017 7:13 PM
newscode-image

बुंडू(रांची)। भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वाले बुंडू नगर अध्यक्ष अलिन्दर उरांव कार्यपालक पदाधिकारी के साथ बैठे पहली बार दिखे। बुंडू नगर पंचायत के कार्यपालक पदाधिकारी शैलेश कुमार प्रियदर्शी को नगर अध्यक्ष भ्रष्टाचार का आरोप लगा दिया था। इतना ही नहीं बल्कि 21 अगस्त को स्थानीय पत्रकारों को बुलाकर भ्रष्टाचार पदाधिकारी होने का दावा भी किया था और कार्यपालक पदाधिकारी से वगावत हो गए थे।

मीडिया में खबर आने के बाद नगर के पूरे नागरिक भ्रमित हुए। ताल से ताल मिलाकर नगर के विकास में दिलचस्पी लाने वाले नगर अध्यक्ष और कार्यपालक पदाधिकारी आखिर किस कारणों से मनमुटाव हुए, कारणों को जानने के लिए नगरवासी एक-दूसरे से आपस में बातें करने लगे थे। खुले में शौच मुक्त से प्रेरणा मिल सके इसके लिए बुंडू नगर पंचायत रॉकी हॉल सिनेमाघर में टॉयलेट एक प्रेम कथा का फिल्म नागरिकों को मुफ्त में दिखा रहा था। इस कार्यक्रम में भी नगर अध्यक्ष शामिल नहीं हुए थे।

आज बुंडू के काली मंदिर चौक में पीएम आवास का गृह प्रवेश कार्यक्रम आयोजित की गई थी। कार्यक्रम का उद्घाटन स्थानीय विधायक विकास कुमार मुंडा ने किया। बुंडू नगर अध्यक्ष कार्यक्रम में शामिल हुए। नगर अध्यक्ष और कार्यपालक पदाधिकारी सिर में पगड़ी बांधकर एक दूसरे सामने चेयर में ही बैठे थे। दोनों को एक साथ देखे जाने पर नागरिकों के बीच हास्यस्पद चर्चा होने लगी।

सभी वार्ड पार्षद पहुंचे, लेकिन दो पार्षद कार्यक्रम में नहीं हुए शामिल

नगर के वार्ड पार्षद रोहिताश्वर राम और रामरतन भगत आज के कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए। हालांकि पहले ही स्पष्ट हो गई थी कि कुछ दिनों पूर्व बैनर बनाए गए थे इसमे सभी नगर के प्रतिनिधियों का फोटो था, लेकिन पार्षद रामरतन और रोहिताश्वर का फोटो नहीं था।

आज के कार्यक्रम में शामिल नहीं होने पर ‘न्यूज़कोड’ के रिपोर्टर आशीष कुमार प्रमाणिक ने दोनों पार्षद से बात की तो दोनों ने बताया कि बुंडू नगर में जितने भी विकास की कार्य की गयी या की जा रही है सभी कार्य में अनियमितता बरती जा रही है। कार्यपालक पदाधिकारी से शिकायत करने पर गालियां मिलती है। भ्रष्टाचार पदाधिकारी से ताल से ताल मिलाकर चलना शोभा नहीं देगा। नगर विकास विभाग से शिकायत की गई है। जब तक कार्यपालक पदाधिकारी के खिलाफ कार्रवाई नहीं होगी और हमें इंसाफ नहीं मिलेगी। तब तक किसी भी नगर के कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे।

 

गिरिडीह : गौरव यात्रा निकालकर मनाया गया ओडीएफ उत्सव

NewsCode Jharkhand | 21 September, 2018 9:32 PM
newscode-image

देवरी (गिरिडीह)देवरी प्रखंड के भेलवाघाटी पंचायत में  ग्रामीणों ने गौरव यात्रा निकालकर खुले में शौच  से मुक्ति का जश्न मनाया। ओडीएफ  उत्सव में  शामिल एसबीएम के कर्मियों, पंचायत प्रतिनिधियों एवं अधिकारियों ने आसपास के लोगों को शौचालय का उपयोग करने से होने वाले लाभ की जानकारी दी।

देवरी बीडीओ केडी द्विवेद्वी ने पंचायत के गरंग, घाटा, बरमसिया, लोही, जकसिमर, नोनियातरी,  रमनीटांड़, हरकुंड आदि गांवों का दौरा कर लाभुकों को गुणवत्तापूर्ण ढंग से शौचालय का निर्माण कार्य करवाकर समुचित ढंग से उसका उपयोग करने की अपील की।

उन्होंने गुणवत्ता पूर्ण कार्य करने वाले कई गावों की जलसहियाओं को उत्कृष्ट कार्य के लिए पुरूस्कृत भी किया।

मौके पर भेलवाघाटी थाना प्रभारी एस के सिंह, सीआरपीएफ के सहायक कमांडेंट अजय कुमार,  भेलवाघाटी पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि विकास कुमार, गुनियाथर के जागेश्वर प्रसाद यादव, उसमान अंसारी, विजय साव, अनवर अंसारी सहित सभी गांवों की जलसहियाएं, वार्ड सदस्य सहित कई लोग उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

धनबाद : केंद्र और राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों से जनता में मची है त्राहिमाम-रणविजय सिंह 

NewsCode Karnataka | 21 September, 2018 9:47 PM
newscode-image

रेल मंत्री पीयूष गोयल का किया गया पुतला दहन

धनबाद। धनबाद के रणधीर वर्मा चौक पर शुक्रवार को कांग्रेस के प्रदेश सचिव रणविजय सिंह एवं जागो प्रमुख चुना यादव के नेतृत्व में रेल मंत्री पियूष गोयल का पुतला दहन किया गया। इस अवसर पर रणविजय सिंह ने कहा कि किसी भी कीमत पर डीसी रेल लाइन को उखाड़ने नहीं दिया जायेगा।

निरसा : पेड़ में फांसी लगाकर वृद्ध ने की आत्महत्या

उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों के कारण प्रदेश की जनता त्राहिमाम कर रही है, जिस प्रकार आग का हवाला देकर डीसी रेल लाइन को बंद कर दिया गया, इससे 2 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। अगर इस भ्रष्ट सरकार ने रेल की पटरी उखाड़ने की कोशिश की तो पूरे बीसीसीएल का चक्का जाम कर दिया जायेगा।
धनबाद : केंद्र और राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों से जनता में मची है त्राहिमाम-रणविजय सिंह 

उन्होंने कहा कि यहां की जनता को हर हाल में डीसी रेल लाइन चाहिए, यह उनका अधिकार है। सिंह ने कहा कि डीसी रेल लाइन के बंद होने से बिजली उत्पादन करने वाली कंपनियों को कोयला नहीं मिल पा रही है, जिसके कारण पूरे कोयलांचल में बिजली की व्यवस्था काफी चरमरा गई है।

कोयलांचल की जनता बिजली एवं पानी के कारण परेशान है। सिंह ने कहा कि यह लड़ाई सिर्फ धनबाद तक ही सीमित नहीं रहेगी इसे दिल्ली लेकर जाएंगे और आगामी 3 अक्टूबर को दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना देकर राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को ज्ञापन सौंपेंगे।

धनबाद : ट्रांसफार्मर लगने से खुश ग्रामीणों ने विधायक ढुल्लू महतो को पहनाया 51 किलो का माला

इस मौके पर उपस्थित जागो के प्रमुख चुन्ना यादव ने कहा कि रेल बंदी के खिलाफ अंतिम लड़ाई लड़ी जा रही है, इसके लिए कोई भी कीमत क्यों ना चुकानी पड़ी, इसके लिए कतरास की जनता पूरी तरह तैयार है।

उन्होंने कहा कि इस आंदोलन को कतरा से लेकर दिल्ली की सड़कों तक लड़ा जायेगा। इस अवसर पर भिखारी पासी, जी. मुरलीधरण, रमेश सिंह, बलराम हरिजन ,कुंदन यादव, सुधीर सिंह, छोटू रवानी, शहजादा हुसैन, सनी भगत, सोनू राय, मनोज सिंह ,भोलू यादव, शिवम सिंह, दिनेश प्रमाणिक, गणेश गुप्ता, चंदन कसेरा, असलम चिक्की आदि मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

 

कोडरमा : प्रबंधन समिति का प्रशिक्षण, बाल शोषण मुक्त ग्राम निर्माण का लिया संकल्प

NewsCode Jharkhand | 21 September, 2018 9:40 PM
newscode-image

कोडरमा राष्ट्रीय झारखंड सेवा संस्थान एवं टीडीएच के संयुक्त तत्वाधान में विद्यालय प्रबंधन समिति का एक दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण के दौरान लगभग 15  गांव के विद्यालय प्रबंधन समिति के सदस्य एवं पदाधिकारी उपस्थित हुए। सभी ने अपने विद्यालय में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा बहाल करने के लिए समिति को सशक्त करने का निर्णय लिया और अपने गांव को बाल शोषण मुक्त ग्राम बनाने का निर्णय लिया।

कोडरमा : मुहर्रम में कई हिन्दू परिवार पूरी श्रद्धा से निकालते है ताजिया और निशान

प्रशिक्षण के दौरान आंध्र प्रदेश से आए हुए प्रशिक्षक दिनाबंधु ने अलग-अलग गतिविधि करके शिक्षकों के साथ तालमेल प्रशासन के साथ तालमेल विद्यालय प्रबंधन समिति का कार्य एवं दायित्व के बारे में बारीकी से बताया। साथ ही प्रशिक्षक अरुण शर्मा ने विद्यालय प्रबंधन समिति का गठन क्यों किया गया इसमें कितने पदाधिकारी होते हैं कौन पदाधिकारी होते हैं इसकी जानकारी लोगों को बारीकी से दिया। प्रशिक्षण के क्रम में प्रतिभागियों ने गीत नुक्कड़ का भी प्रस्तुत किया। प्रतिभागियों के अनुसार इस तरह का प्रशिक्षण की जरूरत लगातार है।

कार्यक्रम प्रभारी निर्भय कुल समन्वयक वैभव विकास पर्यवेक्षक जोसफिन एक्का, विपिन कुमार, नकुल कुमार के साथ साथ शिक्षक मित्र प्रशिक्षण में भाग लिए।  प्रशिक्षण में संस्था के सचिव मनोज दांगी, अध्यक्ष राम नंदन प्रसाद एवं कोषाध्यक्ष विजय कुमार ने भी भाग लिया। दांगी ने बताया कि इस तरह का प्रशिक्षण से सीधे सीधे  विद्यालय प्रबंधन समिति सशक्त होगा और अपने कर्तव्य एवं दायित्व का बोध होगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

More Story

more-story-image

चांडिल : तिरुलडीह पंचायत भवन में ग्राम विकास समिति पर...

more-story-image

चांडिल : पारगामा मेंं इंद मेला का आयोजन