बोकारो : उग्रवाद प्रभावित पंचायतों में केन्द्रीय सहायता स्कीम के तहत विशेष ग्राम सभा

NewsCode Jharkhand | 13 April, 2018 8:44 PM

बोकारो : उग्रवाद प्रभावित पंचायतों में केन्द्रीय सहायता स्कीम के तहत विशेष ग्राम सभा

बोकारो। उपायुक्त  मृत्युंजय कुमार बर्णवाल के निर्देश में उग्रवाद प्रभावित पंचायतों में विशेष केन्द्रीय सहायता स्कीम के तहत् शुक्रवार को जिले के 37 पदाधिकारियों ने 02 पालियों में ग्रामीणों के साथ विभिन्न योजनाओं के विषय में विचार-विमर्श किया तथा योजनाओं को ग्राम सभा में पारित कर सूचिबद्ध किया।

इन अधिकारियों को किया गया सूचिबद्ध

37 पदाधिकारियों में कसमार प्रखण्ड अन्तर्गत हिसीम पंचायत के हिसीम, केदला, त्रियोनाला एवं गुमनजारा में अंचल अधिकारी कसमार।  हिसीम पंचायत के ही डुमरकुदर, खुदीबेड़ा एवं बोली में  संदीप कुमार निदेशक डीआरडीए। मुरहुलसुदी पंचायत के मुरहुलसुदी, पाडी, चैरा में  पीवीएन सिंह जिला योजना पदाधिकारी।  मुरहुलसुदी पंचायत के ही पिरगुल कोतोगढा, जुमरा, भुरसाटांड तथा डाभाडीह में प्रखण्ड विकास पदाधिकारी कसमार।  दुर्गापुर पंचायत के दुर्गापुर चडरियानाला में  एस.एन.उपाध्याय निदेशक डीपीएलआर के  ग्रामसभा का आयोजन किया गया।

नावाडीह प्रखण्ड के मुंगोरांगामाटी में  संतोष गर्ग जिला परिवहन पदाधिकारी, पोखरिया पंचायत में अनुमण्डल पदाधिकारी चास एवं प्रखण्ड विकास पदाधिकारी नावाडीह, पैंक में जिला शिक्षा अधीक्षक  महिप सिंह जिला शिक्षा पदाधिकारी, नारायणपुर में  अरूणा कुमारी कार्यपालक दण्डाधिकारी, काछो में  प्रभाष दत्ता कार्यपालक दण्डाधिकारी, कंजकिरों में  मेनका आवासीय दण्डाधिकारी, बरई में अंचल अधिकारी चास, पलामू में देवनिष किड़ो जिला पंचायती राज पदाधिकारी तथा गोनियाटो पंचायत में  साकेत कुमार कार्यपालक दण्डाधिकारी तेनुघाट के द्वारा ग्राम सभा का आयोजन किया गया।

गोमिया प्रखण्ड के हुरलुंग में अनुमण्डल पदाधिकारी तेनुघाट, बड़की सिधवारा में  टुडू दिलीप कार्यपालक दण्डाधिकारी तेनुघाट, अंचल अधिकारी गोमिया, प्रखण्ड विकास पदाधिकारी गोमिया, चतरोचट्टी में  विजय राजेश बारला, बड़की चिदरी में  जेम्स सुरीन डीसीएलआर, कर्रीखुर्द में कार्यपालक अभियंता आरईओ, लोधी में कार्यपालक अभियंता भवन प्रमण्डल, चुटे में कार्यपालक अभियंता पीडब्लूडी, प्रखण्ड विकास पदाधिकारी जरीडीह, पंचमों में कार्यपालक अभियंता लघु सिचाई प्रमण्डल एवं अचल अधिकारी नावाडीह, तिलैया में अपर समाहर्ता  जुगनू मिंज और प्रखण्ड विकास पदाधिकारी चन्द्रपुरा, सियारी में कार्यपालक अभियंता पीएचईडी तेनुघाट और कार्यपालक अभियंता बांध प्रमण्डल तेनुघाट, कोदुआटांड  पंकज दुबे नोडल पदाधिकारी मनरेगा, ललपनिया में रूपेश तिवारी परियोजना पदाधिकारी डीआरडीए, तुलबुल वन प्रमण्डल पदाधिकारी तथा कुन्दा में जिला समाज कल्याण पदाधिकारी एवं प्रखण्ड विकास पदाधिकारी चास के द्वारा ग्राम सभा का आयोजन किया गया।

लातेहार : सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत विशेष शिविर का आयोजन

 इन सभी पदाधिकारियों के द्वारा ग्रामों में ग्राम सभा कर सर्वप्रथम ग्रामीणों को सरकारी योजनाओं की जानकारी दी गई एवं आवश्यकतानुसार उपयोगी योजनाओं को ग्रामसभा के समक्ष विचार हेतु रखा गया। विचारोपरांत योजनाओं का चयन कर लिया गया, जिसे पदाधिकारियों के द्वारा जिला योजना कार्यालय को समर्पित किया जायेगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

पलामू : पुलिस ने अगवा किसान को अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराया

NewsCode Jharkhand | 22 April, 2018 9:59 PM

पलामू : पुलिस ने अगवा किसान को अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराया

पलामू। पुलिस ने अपहर्ताओं के साथ मुठभेड़ के बाद किसान को मुक्त कराया है। इस सिलसिले में 5 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत माहथा ने बताया कि किसान कृष्णा प्रजापति को पांकी थाना अंतर्गत केरकी गांव से 14 अप्रैल की सुबह अगवा किया गया था।

जिसके बाद पांकी इन्स्पेक्टर जय प्रकाश सिंह के नेतृत्व में पांकी थाना प्रभारी ललित कुमार व लेस्लीगंज थाना प्रभारी राणा जंगबहादुर सिंह के साथ सशस्त्र बल को शामिल करते हुए छापेमारी टीम गठित की गई।

रांची : व्यवसाय के दीर्घकालीन लाभ आध्‍यात्‍म से ही संभव- स्वामी माधवानंद

संभावित स्थानों पर छापेमारी करते हुए अपह्रत किसान कृष्णा प्रजापति को अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराया गया। इस घटना में अपहर्ताओं ने पुलिस की टीम पर फायरिंग भी की जिसपर पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की। पुलिस बल द्वारा फायरिंग करते देख अपराधी भागने लगे। घेराबंदी करते हुए तीन राईफल, एक देशी कट्टा व 6 जिंदा गोली व मोबाइल के साथ अपराधियों को धर-दबोचा गया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

लातेहार : प्रत्येक गांव में पानी की समूचित व्यवस्था सुनिश्चित करें- अराधना पटनायक

NewsCode Jharkhand | 22 April, 2018 9:40 PM

लातेहार : प्रत्येक गांव में पानी की समूचित व्यवस्था सुनिश्चित करें- अराधना पटनायक

लातेहार। पेयजल स्वच्छता विभाग की सचिव अराधना पटनायक ने परिसदन भवन में पेयजल विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में अराधना पटनायक ने स्पष्ट निर्देश दिए कि किसी भी गांव एवं टोले में पानी की समस्या नहीं हो। उन्होंने पेयजल विभाग के कार्यपालक अभियंता को मुखिया से समन्वय बनाकर चौदहवें वित्त की राशि से खराब पड़े चापाकल की मरम्मति एवं निर्माण कार्य करवाने का निर्देश दिया।

बैठक के दौरान उन्होंने विभागीय नंबर जारी करने का भी निर्देश दिया ताकि कोई  भी ग्रामीण अपने गांव की पानी समस्या को लेकर उनसे संपर्क कर सके। उन्होंने प्रत्येक गांव के टोले में पानी की समूचित व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिए। उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिए कि सिर्फ कागज में ही शौचालय निर्माण कार्य पूर्ण नहीं हो बल्कि उसे धरातल पर उतारें एवं उसके उद्देश्य की सार्थकता को भी सिद्ध करें।

लातेहर : सचिव केके सोन और आराधना पटनायक ने किया निरिक्षण, अधिकारियों को फटकारा

बैठक में अन्य कई मुद्दों पर भी चर्चा किया गया। जिसके बाद श्री मति पटनायक के द्वारा विभागीय पदाधिकारियों को निर्देशित किया गया। मौक पर पेयजल के कार्यपालक अभियंता रंजीत कुमार ठाकुर, प्रशांत शाहदेव, राहुल कुमार सिंह समेत अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

जमशेदपुर : सोमवार को वन्यजीवों का शिकार करेंगे सेंदरा वीर, तराई में की पूजा

NewsCode Jharkhand | 22 April, 2018 9:38 PM

जमशेदपुर : सोमवार को वन्यजीवों का शिकार करेंगे सेंदरा वीर, तराई में की पूजा

सैकड़ों युवक हथियार से लैस

 

मशेदपुर। सेंदरा पर्व पर वन्य जीवों का शिकार करने के लिए आदिवासी दलमा जंगल पर सोमवार तड़के चढ़ाई करेंगे। इससे पूर्व सेंदरा वीरो ने सेंदरा की तराई में पूजा अर्चना की। देर रात से ही आदिवासी समुदाय के लोग हथियार से लैस होकर दलमा पर चढ़ने लगे हैं। इससे पूर्व रविवार की शाम को हथियारबंद आदिवासी युवकों का जमावड़ा पारडीह काली मंदिर के पास लगा। वैसे सोमवार दोपहर के करीब 12 बजे शिकारियों का जत्था शिकार लेकर दलमा से उतरेगा।

दलमा राजा राकेश हेम्ब्रम सेंदरा दल का नेतृत्व कर रहे हैं। हेम्ब्रम के मुताबिक दलमा जंगल में सेंदरा करने के लिए करीब 3000 आदिवासी युवक हथियारों से लैस होकर चढ़े हैं। 196 वर्ग किमी में फैले दलमा जंगल में रविवार शाम सेंदरा पर्व का आगाज हुआ। पहली पूजा शाम में हुई, फिर आधी रात को। मध्य रात्रि की पूजा के बाद दलमा कूच का फरमान जारी हुआ।

रांची : पर्यावरण की पूजा ही गोवर्धन की पूजा- उमेश भाई जानी

वन विभाग ने लगाया चेक नाका

हालांकि इस बार वन विभाग ने कई जगह पर चेक नाका लगाया है। इधर पारंपरिक ढोल नगाड़ों के साथ इन लोगों ने वन देवी की पूजा अर्चना की। दलमाजंगल में जाने वाले हर शिकारी के घर पर पारंपरिक पूजा होती है। इस दौरान कांसा के कलश में पानी भरकर उसे पूजा कक्ष में रखा जाता है। वहीं, सेंदरा वीर के सेंदरा से आने के बाद उस कलश को उठाया जाएगा। मान्यता है कि अगर कलश में पानी घट जाता है तो यह शुभ नहीं होता है। वैसे इस पूजा पर सेंदरा वीर अपने लिए सुरक्षा और अच्छे शिकार की मांग करते है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

© Copyright 2017 NewsCode - All Rights Reserved.