बोकारो : 85 वर्षीय मोहन भाई का महादान, रिसर्च के लिए रिम्स को दिया अपना देह

NewsCode Jharkhand | 6 January, 2018 9:57 PM
newscode-image

घरवालों को शव पहुंचाने के लिए दे रखे हैं पैसे

बोकारो। चास  के रहने वाले 85 वर्षीया मोहन भाई कुंडलिया ने महादान किया है। अपने शरीर को रिम्स को दान कर दिया। उनके मानना है कि मृत्यु के बाद अगर शरीर मेडिकल रिसर्च के लिए काम आ जाये तो उससे बड़ा कोई काम नहीं हो सकता।  मोहन भाई ने मृत शरीर को रांची पहुंचाने के लिए भी राशि भी घर वालों को दे रखी है। घरवाले भी उनसे सहमत हैं। उनको प्रेरणा स्त्रोत मान अपना भी शरीर दान देने की बात कह रहे हैं।

दूसरों के लिए बने प्रेरणास्त्रोत

मोहन भाई के इस निर्णय के बाद समाजसेवी गोपाल मुरारका ने भी अपना शरीर दान देने का निर्णय लिया है। साथ ही उन्होंने अपना ऑर्गन भी दान देने के लिए निबंधन करा लिया। इससे समाज में लोगों के बीच एक अच्छा मैसेज गया है।

मोहन भाई का जीवन

चास के रहने वाले और गुजराती समाज से ताल्लुक रखने वाले मोहन भाई अपने छोटे भाई के परिवार के साथ रहते हैं। वे इस उम्र में भी लोगों की सेवा करने के लिए एक निजी फार्म में काम करते हैं। मिलने वाली तनख्वाह से वो समाज सेवी गोपाल मुरारका के साथ मिल कर असहाय लोगों के लिए मदद का साधन जुटाते हैं।  मोहन भाई बीते एक वर्ष से बीमार रहने लगे तो उन्होंने अपना शरीर चिकित्सा के पढ़ाई करने वाले छात्रों को रिसर्च के लिए देने का मन बनाया। इसके बाद उन्होंने पहले धनबाद स्थित मेडिकल कालेज से सम्पर्क किया। लेकिन वहां इस तरह की व्यवस्था नहीं रहने की बात कही गयी। इसके बाद उन्होंने बोकारो उपायुक्त को 8 जुलाई 2016 को आवेदन दिया था। उसके बाद उन्होंने रिम्स रांची से संपर्क कर इस आवेदन प्रक्रिया को पूरा किया गया। सभी प्रक्रिया को पूरा करते हुए 8 मई 2017 को उपायुक्त ने इसकी सहमति प्रदान की। इस प्रक्रिया में 9 महीने का समय लगा।

Read Moreरांची : चारा घोटाले से जुड़ी फाइलों पर दस्तखत में जज ने खर्च किये चार पेन !

20 हजार की रकम भतीजे को दिया 

मोहन भाई ने मृत्यु के बाद पार्थिव शरीर को रांची पहुँचाने के लिए बीस हजार की रकम अपने भतीजे जीतन कुंडलिया को दे रखा है। उन्होंने कहा कि मरने के बाद उनके ऊपर एक पैसा भी खर्च नहीं किये जायें।

परोपकार है मुख्य लक्ष्य

मोहन भाई समाज के लिए सदा काम करते रहे हैं। उन्होंने अंतिम समय में भी शरीर समाज और देश के लिए दान कर परोपकार सोच का नमूना पेश किया है। उनका मानना है की उन्हें अब किसी भी चीज की जरुरत नहीं है। समाज सेवा से बढ़ कर कोई काम नहीं है। वो इस निर्णय से बहुत खुश हैं।

वहीं उनकी बहू एनी कुंडलिया ने बताया कि मोहन भाई ने आज तक अपने लिए कुछ नहीं किया । वे हमेशा दूसरों के लिए ही सोचते और करते आये हैं। उनके फैसले के साथ पूरा परिवार खड़ा है | बहू ने भी इसी तरह से शरीर दान देने की बात कही है। समाजसेवी गोपाल मुरारका ने कहा कि आज के समय में शरीर का रिसर्च जरुरी है, जो खरीदने से भी नहीं मिलता है। उनका ये कदम सराहनीय है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

दुमका : मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी पहुंचे बासुकीनाथ धाम, मांगी प्रदेश की खुशहाली 

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 9:40 PM
newscode-image

दुमका। राजकीय श्रावणी मेला के 22 वें दिन प्रदेश के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी ने बाबा फौजदारी नाथ के दर्शन-पूजा किये। झारखंड प्रदेश के खुशहाली एवं शांति के लिए बाबा फौजदारी नाथ से कामना की। स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग सचिव अमरेन्द्र प्रताप सिंह ने भी बासुकीनाथ धाम पहुंचकर बाबा फौजदारी नाथ पर जलार्पण किया।

दुमका : स्व अटल जी के नाम पर होगा सरकारी बस स्टैंड का नामकरण- श्वेता झा

मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी एवं स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के सचिव ने शीघ्रतम दर्शन के टोकन लेकर बाबा फौजदारी नाथ पर जलार्पण किये। उपविकास आयुक्त वरूण रंजन ने पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी को बासुकीनाथ धाम से जुड़े स्मृति चिह्न, दुमका जिला पर बने कॉफी टेबल बुक के साथ स्वयंसेवी महिला सहायता समूह द्वारा निर्मित बासुकी अगरबती  भेंट कर उनका स्वागत किया।

दुमका : बेकाबू ट्रैक्टर ने दो लोगों को रौंदा,एक की मौत, पांच घंटे तक सड़क जाम

मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी अपने परिजनों के साथ बाबा बासुकीनाथ के दरबार में मत्था टेकने पहुंचे थे। पेयजल और स्वच्छता मंत्री के दौरे को लेकर सुरक्षा व्यवस्था चुस्त -दुरस्त की गई थी। इस मौके पर उपविकास आयुक्त वरूण रंजन के साथ प्रशिक्षु आईएएस शशि प्रकाश भी मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

देवघर : श्रावणी मेला में 1125 सफाईकर्मियों की प्रतिनियुक्ति

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 11:55 PM
newscode-image

देवघरराजकीय श्रावणी मेला 2018 कई मायनों में खास है। इस बार श्रावणी मेला को स्वच्छ मेला के रूप में मनाया जा रहा है। जिला प्रशासन द्वारा स्वच्छता अभियान को लेकर इस वर्ष मेले में शौचालय, मूत्रालय व सफाई व्यवस्थाएं दुगुनी होने के साथ-साथ पूरी तरह से दुरूस्त है।

सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में स्वच्छता का खासा ख्याल रखा जा रहा है। श्रद्धालुओं की सुविधा को देखते हुए सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में 1125 सफाईकर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। इसके अलावे 1403 कूडे़दान एवं लगभग 2000 (स्थायी, अस्थायी, बायोटॉयलेट व चलन्त शौचालय) व 330 मूत्रालय की व्यवस्था सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में लगाये गये हैं।

देवघर : चौथी सोमवारी को लेकर एसपी ने की मीटिंग, दिये निर्देश

स्वच्छ व ओडीएफ मेला हेतु जिला प्रशासन स्वच्छ भारत मिशन के उ६ेश्यों के पूर्ति हेतु स्वच्छता, साफ-सफाई और खुले में शौच की प्रथा समाप्त करने को संकल्पित है।

देवघर : बाबा मंदिर प्रांगण में एक मंदिर ऐसा भी जहां जाना वर्जित है, जाने क्‍या है राज

श्रावणी मेला के अवसर पर यहाँ आए श्रद्धालुओं को जिला प्रशासन की ओर से हर संभव सुविधा मुहैया करायी जा रही है। नगर निगम के सफाई कर्मियों के द्वारा पूरे मेला क्षेत्र में चौबिसों घंटे साफ-सफाई कर कूड़ा-कचरों का निष्पादन किया जा रहा है। आज सुबह भी सफाई कर्मियों को हाथ में झाड़ू लिए सड़कों का सफाई करते व ट्रैक्टर के माध्यम से कूड़ा उठाते देखा गया।

देवघर : बाबा नगरी के पेड़े की सौंधी महक का जादू विदेशों तक

नगर निगम के सफाई कर्मियों द्वारा मेला क्षेत्र की  साफ-सफाई कर जगह-जगह पर ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव भी किया जा रहा है एवं रात्रि के समय मॉस्क्यूटो फॉगिंग की जा रही है। ताकि मेला क्षेत्र में आये श्रद्धालुओं को बाबा नगरी में एक साफ-सूथरा और स्वच्छ माहौल मिले।

देवघर : बाबा मंदिर में अटल बिहारी वाजपेयी के लिए हुई विशेष अनुष्‍ठान

इसके तहत् श्रद्धालुओं से जब हमारे टीम पीआरडी के सदस्य द्वारा पूछा गया तो नालन्दा बिहार से आये सत्यनारायण बम ने बताया कि पिछले आठ सालों से बाबाधाम आ रहा हूँ मगर इस बार सफाई व शौचालय की व्यवस्था देखकर झारखण्ड सरकार को धन्यवाद करने का मन कर रहा है। इस बार की व्यवस्था वाकई अच्छी है।

देवघर : आयुषी ने बहायी देश-प्रेम की गंगा, संस्‍कृत में गाया “ऐ मेरे वतन के लोगों”   

सिमडेगा : टांगी से काट कर महिला की निर्मम हत्या, हत्‍या का आरोपी गिरफ्तार

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 10:06 PM
newscode-image

सिमडेगा। कुरडेग थाना क्षेत्र के गाड़ियाजोर पंचायत के ढोंढ़ीडीपा टोली निवासी एक महिला की टांगी से काट कर  हत्या कर दी गई। आरोपी भी महिला के ही गांव का निवासी है। घटना के पीछे आपसी विवाद बताया जा रहा है।  हत्या के आरोपी निरन्तर तिर्की को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। घटना की सूचना मिलते ही थाना प्रभारी अशर्फी पासवान घटनास्थल पहुँच कर शव को कब्जे में ले लिया और अंत्यपरीक्षण के लिए सदर अस्पताल  भेज दिया।

सिमडेगा : मिशनरी संस्थाओं को निशाना बनाने का आरोप, सीबीआई जांच की मांग

 (अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

गावां : धूल फांक रही है तीन करोड़ की बिल्डिंग,...

more-story-image

सरायकेला : डंपर की चपेट में आकर जैप के जवान...