बोकारो : 15 से सीएलआई के मनमानी के खिलाफ रनिंग स्टाफ का अनिश्चितकालीन धरना

NewsCode Jharkhand | 13 November, 2017 6:02 PM

बोकारो : 15 से सीएलआई के मनमानी के खिलाफ रनिंग स्टाफ का अनिश्चितकालीन धरना

बोकारो। दपू रेलवे बोकारो के चालक एवं सहायक चालकों को इन दिनों सीआईएल आरके सिंह द्वारा मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है। बोकारो क्रू लॉबी में व्याप्त भ्रष्‍टाचार चरम सीमा पर पहुंच चुकी है। क्रू मेंमबर्स तनाव में ड्यूटी कर रहे हैं। ये बातें ऑल इंडिया लोको रनिंग स्टाफ एसोसिएान द्वारा सोमवार को दपू रेलवे एआरएम कार्यालय के समक्ष आयोजित सांकेतिक धरना प्रदर्शन के दौरान वक्ताओं ने कही।

वक्ताओं ने कहा कि श्री सिंह द्वारा आये दिन चालक एवं सहचालक को बेवजह आरोप पत्र दिया जा रहा रहा है। इस प्रताड़ना से तंग आकर एसोशिएसन (बोकारो शाखा) ने 15 नवंबर से अनिश्चितकालीन धरना पर जाने का निर्णय लिया है। धरना प्रतिदिन सुबह 10 से 3 बजे तक अनिश्चितकालीन समय तक चलेगा।

वक्ताओं ने कहा कि जब तक क्रू मेंमबर्स को न्याय नहीं मिल जाता ये आंदोलन जारी रहेगा। धरना के बाद एसोसिएान सदस्य दल द्वारा एआरएम के माध्यम से सीआईएल श्री सिंह को लेकर डीआरएम आद्रा को मेमोरेंडम सौंपा गया। साथ ही विभिन्न विभागों को मेमोरेंडम की प्रतिलिपि दिया गया।

सांकेतिक धरना में मुख्यरूप से जेएल महतो, एसके मंडल, ओम प्रकाश, बीबीसी, मनोज कुमार, विकास नारायण, बीके दास, एए बाबर, राजन कुमार, उपेंद्र कुमार, आरआर राम, एसआर शर्मा, बीके यादव, अनिल कुमार, जितेंद्र कुमार, डीके सिंह सहित  अन्य कर्मी मौजूद रहे।

निरसा : जल्‍द शुरू होगा सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट, पायनियर इंफ्रास्ट्रक्चर की टीम ने किया निरीक्षण

NewsCode Jharkhand | 22 May, 2018 8:24 PM

निरसा : जल्‍द शुरू होगा सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट, पायनियर इंफ्रास्ट्रक्चर की टीम ने किया निरीक्षण

निरसा (धनबाद)। सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट (ठोस कचरा प्रबंधन) बनाने का कार्य जल्द ही चिरकुंडा नगर परिषद के वार्ड संख्या 21 में प्रारंभ किया जाएगा। इसको लेकर दिल्ली की पायनियर इंफ्रास्ट्रक्चर की टीम ने स्थल का निरीक्षण किया। टीम के अधिकारी अरुण कुमार सिंह के नेतृत्व में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट का सर्वे करने मंगलवार को  चिरकुंडा नगर परिषद पहुंचे।

टीम में नगर परिषद अध्यक्ष डब्लू बाउरी, उपाध्यक्ष जय प्रकाश सिंह, सिटी मैनेजर ललित लकड़ा के साथ बैठक किये। बैठक के बाद सर्वे करने आई टीम ने सुन्दरनगर का निरीक्षण भी किया। टीम में अरुण कुमार सिंह के अलावे विवेक कुमार सिंह, अभिषेक सिंह आदि उपस्थित थे।

निरसा : पेयजल समस्या को लेकर सड़क पर उतरी महिलाएं, नगर परिषद पर लगाया आरोप

टीम के अधिकारी ने कहा कि करीब 80 करोड़ की लागत से सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट का प्लांट बनेगा, साथ ही साथ 20 साल तक देखभाल की जिम्मेवारी भी कंपनी करेगी। उन्होने कहा कि जिस तरह बेंगलुरु में प्लांट बना उसी तरह से यहां भी बनेगा। सिर्फ इसके लिए गीला कचड़ा एवं सूखा कचड़ा अनिवार्य है।

नगर अध्यक्ष डब्लू बाउरी व उपाध्यक्ष जय प्रकाश सिंह ने कहा कि कचड़ा यहां काफी मिलेगा। यहां की जनता पूरा सहयोग करेगी। मौके पर सिटी मैनेजर ललित लकड़ा सहित कई लोग उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

धनबाद : प्रधानमंत्री को अपनी समस्‍याओं से अवगत कराएंगे पूर्व कर्मचारी

NewsCode Jharkhand | 22 May, 2018 7:58 PM

धनबाद : प्रधानमंत्री को अपनी समस्‍याओं से अवगत कराएंगे पूर्व कर्मचारी

धनबाद। बंद सिंदरी खाद कारखाना की जगह हर्ल द्वारा बनाये जाने वाले नये उर्वरक कारखाना का शिलान्यास आगामी 25 मई को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी करेंगे। यह सिंदरी वासियों के लिए गर्व की बात है। उक्त बातें एफसीआई वीएसएस इम्प्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष सह सिंदरी खाद कारखाना के वीएसएस कर्मी सेवा सिंह ने मंगलवार को प्रेस वार्ता में कही।

उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा हर्ल कारखाना के शिलान्यास से सिंदरी ही नहीं बल्कि झारखण्ड एवं पूरे देश को एक नई दिशा मिलेगी। सिंदरी खाद कारखाना से वीएसएस के तहत सेवानिवृत्त किये गये कर्मचारियों की समस्याओं से अवगत कराने एवं समाधान के लिए एसोसिएशन का प्रतिनिधिमंडल प्रधानमंत्री से मिलेंगे। इसके लिए हमने धनबाद सांसद पीएन सिंह के माध्यम से जिला प्रशासन से आग्रह किया है।

धनबाद : पीएम के कार्यक्रम में रहेगी चलंत शौचालय की व्‍यवस्‍था

सेवा सिंह ने कहा कि‍ हम मुख्य रूप से तीन विषयों की तरफ प्रधानमंत्री का ध्यान आकृष्ट कराना चाहते हैं। समय से पहले वीएसएस के तहत रिटायर्ड किये गये कर्मचारियों को जो आवास लीज पर दिया गया है, उसमें लीज की अवधि को लम्बे समय तक किया जाय। जो लीजधारक दिवंगत हो चुके हैं, उनकी विधवा/आश्रित के नाम लीज पर आवास आवंटित किया जाय। वीएसएस/पूर्व कर्मियों के लिए निःशुल्क चिकित्सा की व्यवस्था करायी जाय।

एफसीआई अस्पताल में कारखाना बन्दी के पहले यह सुविधा उपलब्ध थी। वर्ष 2013 में भाजपा द्वारा घोषित ईपीएस 95 के तहत मासिक पेंशन राशि कम से कम 3 हजार रुपये किया जाय। मौके पर आरसी प्रसाद, भरत प्रसाद आदि थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

टुंडी : रोजगार के क्षेत्र में आत्‍मनिर्भर बनेंगी ग्रामीण महिलाएं, मिल रहा मुफ्त प्रशिक्षण

NewsCode Jharkhand | 22 May, 2018 7:03 PM

टुंडी : रोजगार के क्षेत्र में आत्‍मनिर्भर बनेंगी ग्रामीण महिलाएं, मिल रहा मुफ्त प्रशिक्षण

बीना सरकारी सहयोग से चल रहा है चेतना महाविद्यालय

टुंडी (धनबाद)। चेतना महाविद्यालय शहराज में सृजन शोध संस्थान के तहत कौशल विकास प्रशिक्षण शुरू किया गया है। इसके जरिए आसपास के ग्रामीण क्षेत्र के महिला व पुरुष को स्वावलंबन से जोड़ने की दिशा में एक कदम बढ़ाई गई है। इस केन्द्र में महिलाओं के लिए मुफ्त सिलाई प्रशिक्षण की शुरुआत मंगलवार से की गई। शुरुआत के दिन में ही लगभग पच्चीस महिलाओं ने प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए नामांकन किया।

दिगंत पथ के संस्थापक एवं विद्यालय के संरक्षक शैलेन्द्र सिंह ने बताया कि यहां कौशल विकास के क्षेत्र में केन्द्रीय स्तर का केंद्र बनाया जाएगा, जहां लोगों को कई तरह के हुनर का प्रशिक्षण दिया जाएगा। उन्हें आवश्यक बाजार भी उपलब्ध कराया जाएगा, ताकि वे रोजगार के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बन सके।

महिलाओं के लिए सिलाई प्रशिक्षण से शुरुआत हो गई है। 27 मई से कम्प्यूटर प्रशिक्षण का कार्य भी शुरू कर दिया जाएगा। इसके लिए कुल तीस कम्प्यूटर सहित आवश्यक सारी व्यवस्था कर ली गई है। शैलेंद्र सिंह ने बताया कि यह सारा कार्य आपसी एवं समाज के सहयोग से किया जाएगा, इसमें सरकार का कोई सहयोग नहीं है।

आपको बता दें कि इस केंद्र में बच्चों की पढ़ाई के साथ-साथ कौशल विकास का नया कार्य आरंभ किया गया है। भविष्य में आयुर्वेद चिकित्सा एवं योग साधना के क्षेत्र में भी सेवा शुरू किये जाने की तैयारी हो चुकी है। ये सभी सेवा समाज के बुद्धिजीवी वर्ग एवं आर्थिक सम्पन्न लोगों के सहयोग से किया जा रहा है।

गोड्डा : पीएम की किताब ‘एग्जाम वारियर्स’ का वितरण, पुस्तक में परीक्षा तैयारी के टिप्स

महिलाओं को प्रशिक्षण के बाद बाजार उपलब्ध कराने के बारे में शैलेंद्र सिंह ने  कहा कि प्रशिक्षण उपरांत जब महिलाएं सिलाई में दक्ष हो जाएगी, तब इस संस्थान से जुड़े कई व्यापारी वर्ग उनके सहयोग करेंगे। उनके कार्यों की अच्छी कीमत भी देंगे, जिससे उन्हें रोजगार प्राप्त होगा। महिलाओं को सिलाई का प्रशिक्षण प्रशिक्षक के रूप में मास्टर कादिर अंसारी करेंगे। मौके पर किरीट चौहान, प्रसुन्न हेम्ब्रम, विलियम हांसदा, पदो मराण्डी आदि उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

X

अपना जिला चुने