निकाय चुनाव (रांची) : मेयर और डिप्टी मेयर ने किया मतदान

NewsCode Jharkhand | 16 April, 2018 10:22 AM

निकाय चुनाव (रांची) : मेयर और डिप्टी मेयर ने किया मतदान

मतदान को लेकर कहीं उदासीन तो कहीं उत्‍साह

रांची। नगर निकाय चुनाव में हर ओर गहमागहमी देखने को मिल रहा है। क्षेत्र के कुछ मतदान केंद्रों में मतदान करने में परेशानी आ रही है। वार्ड नंबर 10 कोकर के बिजली ऑफिस कार्यालय स्थित मतदान केंद्र में ईवीएम में खराबी होने के कारण मतदान में बाधा हुई।

मतदान को लेकर लोगों में कही उदासीन दिखे तो वही कुछ जगहों पर लोगों का उत्साह देखते बन रहा था। इस बीच मेयर आशा लकड़ा और डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय अपने अपने मतदान केंद्र पर मत का प्रयोग किया।

वहीं दूसरे बूथों पर मतदान की शुरुआती घंटो में मतदान काफी धीरे रहा। वार्ड 17 के कुछ मतदाता अपनी नामों को मतदाता लिस्ट में खोजते नजर आए तो कुछ जगहों पर ईवीएम खराब होने के कारण मतदान नहीं कर सके।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

झरिया : नगर निगम की टीम ने प्रतिबंधित पॉलिथीन की 100 बोरियां जब्त की

NewsCode Jharkhand | 21 April, 2018 7:55 PM

झरिया : नगर निगम की टीम ने प्रतिबंधित पॉलिथीन की 100 बोरियां जब्त की

पॉलिथीन से भरा 100 बोरे जब्‍त

झरिया (धनबाद)। स्टेशन रोड में नगर निगम की टीम और पुलिस ने प्रतिबंधित पॉलिथीन होने की सूचना पर मां अन्नपूर्णा ट्रांसपोर्ट में छापेमारी की। पुलिस को देखते ही सभी के होश उड़ गए।

गोदाम के कई कमरे पॉलिथीन से भरे थे। टीम ने पॉलीथिन बैग से भरा लगभग 100 बोरे को जब्‍त कर निगम के ट्रैक्टर से ले गई। जबकि गोदाम के दो कमरे को झरिया सीओ की उपस्थिति में सील किया गया।

धनबाद : निकाय चुनाव में हारे प्रत्याशी के रिश्‍तेदार ने लोगों को दी गाली-गलोज

बताया जाता है कि लगभग 20 लाख रुपये की कीमत की पॉलिथीन गोदाम में थी। टीम को उस वक्‍त सूचना मिली जब झरिया बाजार की पॉलिथीन की जांच की जा रही थी।

आपको बता दें कि आधी छापेमारी के बाद मामला रफा-दफ़ा कर दिया गया। लेकिन उच्‍च अधिकारी की जानकारी पर दोबारा छापेमारी की गई।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

गोड्डा : हार में जातीय समीकरण बनी बड़ी वजह- अजित सिंह

NewsCode Jharkhand | 21 April, 2018 7:23 PM

गोड्डा : हार में जातीय समीकरण बनी बड़ी वजह- अजित सिंह

गोड्डा। नगर निकाय चुनाव में भाजपा को मिली करारी हार को लेकर अध्यक्ष प्रत्याशी अजित सिंह काफी दुखी नजर आ रहे हैं, भाजपा के गढ़ में मिली बड़ी शिकस्त को अजित सिंह बड़ी चूक बताते नज़र आ रहे हैं। मीडिया से हुई विशेष बातचीत में उन्होंने कहा कि चुनाव में मिली हार के बहुत सारे कारण रहे हैं मगर चुनाव प्रबंधन में भारी गड़बड़ी के कारण गोड्डा नगर निकाय चुनाव में पार्टी दोनों सीट हार गई।

पार्टी के कार्यकर्ता और नेता एकजुटता के साथ जनता के बीच अपनी बात दमदार तरीके से नहीं रख पाए जिस कारण भाजपा को नुकसान हुआ। वोट समीकरण पर बोलते हुए अजित सिंह ने कहा कि पूरे चुनाव में भाजपा को सभी वर्गों का वोट मिला मगर जीत हार में जातीय समीकरण भी बड़ी वजह बनी। इन सबके साथ-साथ पार्टी के बिखराव के कारण भी पार्टी को बड़ा नुकसान हुआ।

कांग्रेस के अध्यक्ष प्रत्याशी ध्यान झा का नाम की चर्चा करते हुए, उन्होंने कहा कि ध्यान झा चुनाव से ठीक पहले भाजपा में ही थे मगर एन वक्त ध्यान झा का कांग्रेस में जाना भाजपा को नुकसान पहुंचा गया। जानकारी हो कि चुनाव परिणाम में भाजपा के अध्यक्ष प्रत्याशी को 4712 और कांग्रेस प्रत्याशी को 2611 वोट मिले जबकि निर्दलीय विजेता प्रत्याशी को 6386 वोट मिला था।

पलामू : कड़ी सुरक्षा के बीच शांतिपूर्ण तरीके से हुआ मतदान

हालांकि बातचीत के अन्त में विजयी प्रत्याशी को अनुभवी बताते हुए अजित सिंह ने कहा कि अध्यक्ष गुड्डू मंडल और उपाध्यक्ष वेणु चौबे दोनों को गोड्डा की जनता ने इस बार चुना है, दोनों जनता की उम्मीदों पर दोनों खरा उतरें यही आशा और उम्मीद है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

सरायकेला : ताजपोशी की तैयारी में जुटी नगर निगम, माननीयों का होगा स्‍वागत

NewsCode Jharkhand | 21 April, 2018 4:32 PM

सरायकेला : ताजपोशी की तैयारी में जुटी नगर निगम, माननीयों का होगा स्‍वागत

शपथ-ग्रहण की तिथि अभी नहीं हुई है घोषणा

सरायकेला। खरसावां जिले के आदित्यपुर नगर निगम मेयर और डिप्टी मेयर के साथ नव निर्वाचित पार्षदों के स्वागत की तैयारियों में जुट गयी है।

निगम कार्यालय में कार्यरत संगीता मिश्रा जो कि आदित्यपुर नगर परिषद बनने के पहले कार्यकाल से ही इस कार्यालय में काम कर रही है।

कमरों की साफ-सफाई और रंग रोगन का काम कराया जा रहा है। संगीता बतातीं हैं कि आदित्यपुर नगर परिषद बनने के बाद उनकी बहाली तत्कालीन अध्यक्ष रीता श्रीवास्तव के द्वारा किया गया था। जो कि वर्तमान मेयर विनोद कुमार श्रीवास्तव की पत्नी थी।

तीनों कार्यकाल में उनके बेहतर कार्यशैली से सभी खुश रहे। संगीता का कहना है कि मेयर यानि विनोद कुमार श्रीवास्तव के अनुभव का लाभ निगम को जरूर मिलेगा।

वहीं निगम के वर्तमान कार्यपालक पदाधिकारी का कहना है कि अभी शपथ-ग्रहण के लिए तिथि की घोषणा नहीं की गई है। वैसे साफ- सफाई का काम कराया जा रहा है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

© Copyright 2017 NewsCode - All Rights Reserved.