भुवनेश्वर कुमार ने इस खिलाड़ी को बताया भारतीय टीम का सबसे बड़ा फेंकू

NewsCode | 9 June, 2018 1:57 PM
newscode-image

नई दिल्ली। भारतीय टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने एक शो में टीम इंडिया के ‘फेंकू’ खिलाड़ी के नाम का खुलासा किया है। हाल ही में भुवनेश्वर कुमार को एक फेमस वेब सीरीज में देखा गया था जिसका नाम ब्रेकफास्ट विद चैंपियंस है। भुवी ने यह भी बताया कि टीम में कौन खिलाड़ी सबसे ज्यादा भुलक्कड़ है।

इस एपिसोड के होस्ट गौरव कपूर ने भुवनेश्वर कुमार से पूछा की वह भारतीय ड्रेसिंग रूम के उस खिलाड़ी का नाम बताएं जिसे फेंकू का टैग मिला हुआ है। इसका जवाब देने में भुवनेश्वर कुमार ने ज्यादा समय नहीं लगाया। भुवनेश्वर कुमार ने भारतीय ड्रेसिंग रूम के फेंकू का नाम रविंद्र जडेजा बताया।

शिखर धवन को टीम का सबसे ज्यादा भुलक्कड़ खिलाड़ी बतात हुए कहा, “शिखर लोगों के नाम भूल जाता है। अगर अभी हम दोनों बात कर रहे हैं। तो अगर कुछ चाहिए, यार सुन क्या नाम है तेरा, वो देना, क्या नाम है तेरा, इसका नाम क्या है? इस तरीके की चीजें करता है। नॉर्मल है उसके लिए सबको पता है। कई बार धवन मसाज कराने गए और माने काका को भी रामू काका बोल देते हैं । रामू काका चाय- पानी देना जरा। फिर वो सॉरी बोलता है। नॉर्मल है उसके लिए। ”

बांग्लादेश के खिलाफ T20 सीरीज जीतने के बाद अफगानी खिलाड़ियों ने किया ‘नागिन डांस’

भुवी ने बताया कि विराट के सामने जडेजा कभी भी नहीं फैंकते हैं। भुवी ने कहा कि विराट कोहली सबसे ज्यादा जडेजा की बातें पकड़ लेते हैं और रट लगाकर उसका मजाक उड़ाते हैं। जडेजा को पता है कि विराट उसका मजाक उड़ाएगा और मिमिक्री भी करेगा।

हरियाणा सरकार का फरमान- विज्ञापन से आय का एक तिहाई सरकारी खजाने में दें खिलाड़ी

भारतीय क्रिकेट टीम के अगले 5 साल का पूरा प्रोग्राम जारी, जानिए कब-कब होगी भारत की सीरीज़

NewsCode | 21 June, 2018 7:08 PM
newscode-image

नई दिल्ली। वनडे और टी-20 के बाद आईसीसी ने अब टेस्ट चैंपियनशिप के आयोजन की भी घोषणा कर दी है। आईसीसी ने बुधवार को 2018 से 2023 तक के 5 सालों के लिए अपने फ्यूचर टूर प्रोग्राम (एफटीपी) का ऐलान किया। इसमें वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के अलावा 13 टीमों की वनडे इंटरनेशनल लीग भी शामिल है।

आईसीसी ने बताया कि डब्ल्यूटीसी के तहत भारत वेस्टइंडीज में दो टेस्ट सीरीज खेलेगा। 15 जुलाई 2019 से 30 अप्रैल 2021 तक चलने वाली टेस्ट चैंपियनशिप के पहले सत्र में नौ शीर्ष टीमें भाग लेंगी। वेस्टइंडीज सीरीज 2019 मे विश्व कप के बाद खेली जाएगी। इस दौरे में टेस्ट के अलावा भारत मेजबान टीम से तीन वनडे और इतने ही टी-20 भी खेलेगा।

डोप टेस्ट में फेल हुआ यह पाकिस्तानी खिलाड़ी, गांजा पीने का है आरोप

भारत इस साल के अंत में वेस्टइंडीज की मेजबानी भी करेगा, जिसमें चार टेस्ट, पांच वनडे और तीन टी-20 खेले जाएंगे। विश्व चैंपियनशिप में भारत का अगला मुकाबला दक्षिण अफ्रीका से होगा, जिसकी वह तीन टेस्ट के लिए मेजबानी करेगा। यह सीरीज अक्टूबर 2019 में होगी, जिसके बाद बांग्लादेश दो टेस्ट और तीन टी-20 खेलने के लिए भारत का दौरा करेगा। चैंपियनशिप में इसके बाद भारत की अगली दो सीरीज 2020-21 में न्यूजीलैंड (दो टेस्ट) और ऑस्ट्रेलिया (चार टेस्ट) में होंगी। इसके बाद वह घरेलू मैदान पर इंग्लैंड के साथ पांच टेस्ट मैच की सीरीज खेलेगा।

माना जा रहा है कि चैंपियनशिप में भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला नहीं होगा, हालांकि फाइनल में वे एक-दूसरे से भिड़ सकते हैं। भारत इस चैंपियनशिप में कुल 18 टेस्ट खेलेगा, जिसमें से 12 ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के खिलाफ होंगे।

वनडे लीग में भिड़ेंगी 13 टीमें

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के साथ ही वनडे लीग में विश्व क्रिकेट लीग चैंपियनशिप की विजेता नीदरलैंड्स के अलावा टेस्ट खेलने वाली सभी 12 टीमें भाग लेंगी। वनडे लीग एक मई 2020 से शुरू होकर 31 मार्च 2022 तक चलेगी। भारत वनडे लीग में अपनी शुरुआत जून 2020 में श्रीलंका दौरे से करेगा। यह लीग 2023 के वनडे विश्व कप में क्वालीफायर का भी काम करेगी। इस लीग में शीर्ष सात में रहने वाली टीमें और मेजबान भारत 2023 विश्व कप के लिए सीधे क्वालीफाई करेंगे।

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी डेव रिचर्डसन ने कहा, ‘द्विपक्षीय क्रिकेट शुरू करना नई चुनौती नहीं है, लेकिन इस एफटीपी के जारी होने के साथ, हमारे सदस्यों को एक वास्तविक हल मिला है। इससे दुनिया भर के प्रशंसकों को लगातार क्रिकेट से जुड़े रहने का मौका मिलेगा।’

आईसीसी की वनडे और टी-20 महिला क्रिकेट टीम में एकता इकलौती भारतीय

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

लातेहार : डीसी ने योग को अपनी दिनचर्या में शामिल करने की अपील की

NewsCode Jharkhand | 21 June, 2018 8:21 PM
newscode-image

पुलिस पदाधिकारियों व आम जनों ने किया योग

लातेहार। अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर जिला खेल स्टेडियम में योग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर उपायुक्त राजीव कुमार, पुलिस अधीक्षक प्रशांत आनंद  एवं उप विकास आयुक्त  अनिल कुमार सिंह समेत जिले के वरीय अधिकारियों, जन प्रतिनिधियों, आमजनों व पंतजलि योग पीठ के सदस्यों ने योगाभ्‍यास किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उपायुक्त ने कहा कि स्वस्थ जीवन जीने के लिए योग जरूरी है। लगातार योग करने से तन-मन स्‍वस्‍थ रहता है जिससे जीवन जीने में मजा आता है। उन्होंने लोगों से प्रत्येक दिन योग को अपने दिनचर्या में शामिल करने की अपील की।

पुलिस अधीक्षक  प्रशांत आनंद ने कहा कि योग आज के भागदौड़ की जिंदगी में मानसिक शक्ति प्रदान करता है जो मनुष्य को ऊर्जावान बनाता है। योग करने से मानसिक एवं शारीरिक क्षमता में बृद्धि होती है।

लोहरदगा : किस्को इंटर कॉलेज में सात दिवसीय निःशुल्क योग शिविर का समापन

कार्यक्रम के दौरान पंतजलि योग समिति व आर्ट ऑफ लिविंग के प्रतिनिधियों ने योग शिविर में पहुंचे लोगों को योग कराया।

मौके अपर समाहर्ता नेलशम एयोन बागे, डीआरडीए निदेशक संजय भगत, आइटीडीए निदेशक चंद्रशेखर प्रसाद, जिले के अन्य वरीय पदाधिकारियों, पंतजलि योगपीठ के सदस्यों, ऑफ लिविंग के प्रतिनिधियों समेत सैकड़ों लोग मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

जामताड़ा : बीजेपी सरकार राज्य संपदाओं को लूटने का काम की है- बाबूलाल मरांडी

NewsCode Jharkhand | 21 June, 2018 8:10 PM
newscode-image

2019 चुनाव की तैयारी पर पार्टी की मजबूती पर चर्चा

जामताड़ा। बीजेपी सरकार हमेशा राज्य संपदाओं को लूटने का काम किया है। इसी का परिणाम है कि गत दिनों प्रकाशित मैट्रिक व इंटर के परीक्षा परिणाम खराब आया है, जो राज्य के विकास की दिशा में अशुभ संकेत है। उक्त बातें जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने गुरूवार को दुमका रोड स्थित पटौदिया धर्मशाला में संपन्न कार्यकर्ताओं की समीक्षा बैठक में कहा।

राज्य में बिजली,पानी,सड़क,स्वास्थ्य आदि की व्यवस्था चरमरा गई है। कार्यकर्ताओं से कहा गांव,समाज एवं राज्य का विकास चाहते हैं तो झारखंड प्रदेश से बीजेपी सरकार को उखाड़ फेंकने की तैयारी आरंभ करें। भूमि अधिग्रहण कानून को रघुवर सरकार ने जबरदस्ती पारित किया है।

इसके विरोध में पार्टी गांव से जिला मुख्यालय तक विभिन्न माध्यमों से विरोध किया जायेगा। कार्यकर्ताओं से कहा कि 2019 चुनाव की तैयारी को हर क्षेत्रों में कार्यकर्ता सम्मेलन व चार-पांच पंचायतों के बीच छोटी-छोटी सभा का आयोजन कर बीजेपी सरकार के कारनामा को बताएं।

आने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी झारखंड में जेवीएम एक मजबूत पार्टी बनकर उभरेगी। सारठ विधानसभा की चर्चा करते हुए कहा कि आने वाले चुनाव में धोखा देने वाले को सबक सिखाया जाएगा। कार्यकर्ता इसकी तैयारी कर लें। बैठक की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष सुनील कुमार हांसदा ने की।

बैठक में केंद्रीय उपाध्यक्ष विनोद शर्मा,केंद्रीय कार्यसमिति सदस्य अब्दुल मन्नान अंसारी, तापस भट्टाचार्य,पवित्र महता, विजय ठाकुर आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

रांची : महिलाओं को खादी से जोड़कर स्वावलंबी बनाना है,...

more-story-image

'गृहलक्ष्मी' की 'ब्रेस्टफीडिंग' के खिलाफ दायर याचिका रद्द, हाईकोर्ट ने...