विधि आयोग की सिफारिश- क्रिकेट सहित सभी खेलों में सट्टेबाजी हो लीगल, बैन से हुआ नुकसान

NewsCode | 6 July, 2018 12:24 PM
newscode-image

नई दिल्ली। विधि आयोग ने क्रिकेट सहित अन्य खेलों में सट्टेबाजी को वैध बनाने की सिफारिश की है। साथ ही सट्टे पर प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष कर लगाने की अनुशंसा की है। आयोग ने विदेशी प्रत्यक्ष निवेश (एफडीआई)आकर्षित करने के स्रोत के रूप में भी इसका इस्तेमाल करने की राय दी है।

आयोग की रिपोर्ट ‘लीगल फ्रेमवर्क: गैंबलिंग एंड स्पोर्ट्स बेटिंग इनक्लूडिंग क्रिकेट इन इंडिया’ में सट्टेबाजी के नियमन के लिए और इससे कर राजस्व अर्जित करने के लिए कानून में कुछ संशोधनों की सिफारिश की गई है।

रिपोर्ट में कहा गया है, ‘संसद सट्टेबाजी के नियमन के लिए एक आदर्श कानून बना सकती है। राज्य इसे अपना सकते हैं या वैकल्पिक रूप में संसद संविधान के अनुच्छेद 249 या 252 के तहत अपने अधिकारों का इस्तेमाल करते हुए विधेयक बना सकती है। यदि अनुच्छेद 252 के तहत विधेयक पारित किया जाता है तो सहमति वाले राज्यों के अलावा अन्य राज्य इसे अपनाने के लिए स्वतंत्र होंगे।’

कानून मंत्रालय को सौंपी रिपोर्ट में आयोग ने कहा है कि सट्टेबाजी पर प्रतिबंध से काले धन और अपराध को बढ़ावा मिलता है। बेहतर है कि इसे कानूनी बनाया जाए। क्रिकेट समेत दूसरे खेलों में सट्टेबाजी को इजाज़त देने पर अध्ययन का ज़िम्मा आयोग को सुप्रीम कोर्ट ने सौंपा था। कोर्ट ने ये आदेश BCCI में सुधार को लेकर चल रही सुनवाई के दौरान दिया था।

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की शांति भूषण की याचिका, कहा- CJI ही मास्टर ऑफ रोस्टर

तमाम सख्ती के बावजूद यह अवैध कारोबार मोबाइल और इंटरनेट के जरिए तेजी से मजबूत होता जा रहा है। बता दें कि दुनिया के कई देशों में सट्टेबाजी और जुआ कानूनी है। भारत में भी अवैध रूप में खेल में सट्टेबाजी खूब हो रही है। बीते साल सुप्रीम कोर्ट ने विधि आयोग से कहा था कि वह इसे वैध बनाने की संभावनाओं पर विचार करे।

अफसरों ने फाइल लौटाई तो केजरीवाल ने LG को लिखा- उम्मीद है आप सुप्रीम कोर्ट की सुनेंगे

रांची : मुख्यमंत्री आमंत्रण फुटबॉल कप प्रतियोगिता, रांची टीम ने जीता खिताब

NewsCode Jharkhand | 12 November, 2018 5:14 PM
newscode-image

रांची। पिछले डेढ़ महीने से चल रही मुख्यमंत्री आमंत्रण फुटबॉल कप प्रतियोगिता का फाइनल मैच रांची और सरायकेला के बीच रांची कॉलेज मैदान में खेला गया। बड़े ही रोमांचक मैच में रांची के पुरुष टीम ने सरायकेला को 2-0 से परकजीत कर वर्ष 2018 का खिताब अपने नाम कर लिया। इस प्रतियोगिता में महिला और पुरुष दोनों ही वर्ग में जीत हासिल किया।

खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करते हुए मुख्यमंत्री रघुवर दास ने अपने संबोधन में कहा कि जल्द ही बिरसा मुंडा सेंटर फॉर एक्सीलेंस जल्फ़ ही रांची में और सीडीओ कान्हू सेंटर फॉर एक्सीलेंस देवघर में स्थापित किया जाएगा।

वही उन्होंने घोषणा करते हुए कहा कि वर्ष 2019 से मुख्यमंत्री आमंत्रण फुटबॉल कप प्रतियोगिता में भाग लेने वाले महिला और पुरुष खिलाड़ियों को फुटबॉल किट दिया जाएगा। साथ ही बेहतर खिलाड़ियों के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था भी सरकार कर रही है। मुख्यमंत्री ने झारखंड के अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों को राज्य सरकार की नौकरी में 2 प्रतिशत आरक्षण देने की भी घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के युवाओं में खेल को लेकर असीम संभावनाएं है। उनको निखारने की जरूरत है ताकि वे राज्य और राष्ट्रीय स्तर के साथ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी राज्य का नाम रोशन कर सके। मुख्यमंत्री ने सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं देते हुए विजेता और उपविजेता टीम को भविष्य के प्रतियोगिता के लिए शुभकामनाएं दी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी युवाओ को लक्ष्य तय कर के खेल खेलें।

सांसद राम टहल चौधरी ने अपने संबोधन में कहा कि रांची के लिए यह गर्व की बात है कि इस आयोजन में रांची के पुरुष और महिला टीम दोनो ने जीत हासिल की है। मुख्यमंत्री और खेल मंत्री राज्य के ग्रामीण क्षेत्र के युवा खिलाड़ियों को प्रोत्साहित बाजार रहे है।

इस आयोजन के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहुचाने ने का काम राज्य सरकार कर रही है। इस मौके पर सांसद राम टहल चौधरी ने सभी टीम को शुभकामनाएं दी।

नगर विकास मंत्री सी पी सिंह ने भी अपने संबोधन में विजेता टीम को 51000 रुपये के प्रोत्साहन राशि की घोषणा करते हुए सभी टीम को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि हर खेल से युवा नेतृत्व करने सीखते है।

खेल मंत्री अमर कुमार बाउरी ने कहा कि 15 नवंबर को झारखंड में सेंटर फॉर एक्सीलेंस का गठन किया जा रहा है। जिसमे फुटबॉल, अलथेटिक्स, तीरंदाजी और बैडमिंटन को शामिल किया गया है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के दिशा निर्देश पर राज्य का विकास खेल के माध्यम से कीट जा रहा है। राज्य के सभी प्रखंड में कमल क्लब के गठन कर ग्रामीण क्षेत्र के खिलाड़ियों को मंच देने का काम सरकार कर रही है।

उन्होंने बताया कि इस वर्ष दो लाख युवा खिलाड़ियों ने भाग लिया है। जिसमे 25000 के करीब महिला खिलाड़ी ने भाग लिया है। सरकार खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लाने का प्रयास किया जा रहा है।

खेल मंत्री ने बताया कि जल्द ही सरकार अन्य खेलों के लिए भी इस तरह के आयोजन की तैयारी कर रही है। खेलमंत्री ने बताया कि सरकार खिलाड़ियों के प्रशिक्षण के साथ साथ उनके खान पर पर भी विशेष ध्यान दे रही है।

खेल सचिव राहुल शर्मा ने कहा कि इस वर्ष 2 लाख से ज्यादा खिलाड़ियों ने इस प्रतियोगिता में भाग लिया है। यह आयोजन पंचायत, प्रखण्ड, जिला और राज्य स्तर पर किया गया। इस वर्ष 11770 टीम ने भाग लिया। 2 लाख खिलाड़ियों में 15 प्रतिशत से ज्यादा महिला खिलाड़ियों ने भाग लिया।

इस वर्ष विजेता टीम को 3 लाख रुपये, फर्स्ट रनर अप को दो लाख सेकंड रनर अप को एक लाख रुपये और चौथे और पांचवे स्थान के टीम को 50 हजार रुपये दिए जा रहे है।

उन्होंने कहा कि कई जिले में पंचायत स्तर पर टीम बनाया गया। अच्छे खिलाड़ियों और टीम को प्रैक्टिस के लिए स्थान भी उपलब्ध करवाया जाएगा। यह आयोजन पिछले डेढ़ महीने से राज्य भर में चल रहा है।

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री और अन्य अतिथियों ने सलीमा टेट को 20 लाख, मधुमिता 10 लाख, निकी प्रधान को 10 लाख, जयंत तालुकदार को 5 लाख का चेक प्रदान किया।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री रघुवर दास, खेल मंत्री अमर कुमार बाउरी, नगर विकास मंत्री सी पी सिंह, सांसद रामटहल चौधरी, अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी सिलवानुस डुंगडुंग, मनोहर टोप्पोनो, खेल सचिव राहुल शर्मा, उपायुक्त सहित कई अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय खिलाड़ी उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

sun

320C

Clear

Jara Hatke

Read Also

बोकारो : भीषण डकैती मामले का खुलासा, जेवरात के साथ दो अपराधी गिरफ्तार

NewsCode Jharkhand | 12 November, 2018 7:46 PM
newscode-image

बोकारो। बीते 26 सितंबर को चास थाना क्षेत्र में ठेकेदार रामसेवक के घर हुई दिनदहाड़े 25 लाख की डकैती मामले का खुलासा हो गया है। रविवार को गिरफ्तार विभाष पासवान और पिंकू पांडेय की स्वीकारोक्ति बयान पर इस कांड में शामिल लूटे गए जेवरात के साथ अन्य दो अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है। इसकी जानकारी एसपी कार्तिक एस ने प्रेस वार्ता कर दी।

गिरफ्तार अपराधियों ने सेक्टर 12 में अधिवक्ता के घर और कॉपरेटिव कॉलोनी में चिकित्सक के घर डकैती का प्रयास करने के भी मामले में अपनी संलिप्तता स्वीकारी है।

एसपी ने बताया कि गिरफ्तार दोनों अपराधियों ने दोनों घर से लूटे गए मोबाइल फोन का आईईएमआई कोड बदलने के आरोप में दो दुकानदारों और एक ऑल्टो कार के मालिक को गिरफ्तार किया गया है।

कार्तिक एस ने बातया कि रविवार को गिरफ्तार किए गए अपराधियों के बयान पर ठेकेदार के घर रेकी करने वाले अख्तर हुसैन और एक अन्य साथी मोहम्मद जाहिद उर्फ मंटू को डकैती में लूटे गए तीन जोड़ी पायल और चार मोबाइल के साथ चास स्थित सिटी मॉल के पास से गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस के अनुसार लूटे गए मोबाइल का आईईएमआई कोड को बदलने वाले दुकानदार सिद्धेश्वर माहतो और सैयद हुसैन अंसारी को भी लैपटॉप, मोबाइल समेत अन्य सामानों के साथ गिरफ्तार किया गया है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

रांची : बीजेपी प्रदेश कार्यालय में अनंत कुमार को दी गई श्रद्धांजलि

NewsCode Jharkhand | 12 November, 2018 5:36 PM
newscode-image

रांची। बीजेपी के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार का निधन कैंसर से पीड़ित होने के कारण हुई। निधन की सूचना मिलने पर झारखंड बीजेपी प्रदेश कार्यालय में श्रद्धांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

जिसमें मुख्य रूप से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा, सीपी सिंह, रामटहल चौधरी, शिवपूजन पाठक, दीपक प्रकाश, दीनदयाल बरनवाल भाजपा के कार्यकर्ता उपस्थित थे सबों ने उनके चित्रों पर पुष्प अर्पित कर शोक संवेदना व्यक्त किए।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने कहा हमारी पार्टी के लिए अनंत कुमार के निधन से अपूरणीय क्षति हुई है। जिसका भरपाई हम लोग नहीं कर पाएंगे। वह एक ऐसे नेता थे। जो भाजपा के कार्यकर्ताओं में उत्साह भरने का कार्य करते थे।

संगठन को मजबूती प्रदान करने के लिए हमेशा रणनीति बनाते रहते थे। और कुछ वर्ष पूर्व झारखंड में चुनाव प्रभारी के रूप में हुई आए थे। फिलहाल कहा जाए तो राष्ट्रपति चुनाव के दौरान महामहिम कोविंद राम के साथ रांची दौरे पर आए थे।

बहुत ही मिलनसार व्यक्ति थे। राज्यसभा में कभी भी बोलते हुए उनके चेहरे पर किसी भी प्रकार का गुस्से का सिकन तक नहीं देखने को मिलते थे। बहुत ही शांत स्वभाव के व्यक्ति थे उनके साथ काम करने का मौका हमें भी मिला है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

More Story

more-story-image

रांची : बाबूलाल मरांडी ने कैंसर अस्पताल के शिलान्यास पर...

more-story-image

रांची : छठ महापर्व को लेकर तालाब में चडरी सरना...

X

अपना जिला चुने