बेरमो : भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष गिरफ्तार

NewsCode Jharkhand | 23 December, 2017 12:58 PM

बेरमो : भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष गिरफ्तार

बेरमो (बोकारो)। बोकारो थर्मल थाना के सअनि कमलेश सिंह ने गांधी नगर थाना क्षेत्र के कुरपनिया स्थित पेट्रोल पंप से रात्रि लगभग नौ बजे बैदकारो निवासी भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश नेता चेतलाल महतो को गिरफ्तार कर लिया है। किसान मोर्चा नेता की गिरफ्तारी स्थानीय थाना के कांड संख्या 145/2014 भादवि की धारा 385, 387 के तहत बेरमो सिविल कोर्ट के तेनुघाट न्यायालय से निर्गत वारंट के तहत की गयी है।

चेतलाल महतो के खिलाफ वर्ष 2014 में डीवीसी बोकारो थर्मल के डीजीएम मनोज कुमार श्रीवास्तव ने लोकसभा चुनाव में चुनाव खर्च हेतु बतौर पांच लाख रुपया रंगदारी मांगने की प्राथमिकी दर्ज करवायी थी। मामले में न्यायालय से वारंट निर्गत होने के बाद शुक्रवार की रात प्रदेश उपाध्यक्ष को गिरफ्तार किया गया।

ज्ञात हो की भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष चेतलाल महतो पूर्व मंत्री लालचंद महतो के अनुज हैं। जिनकी गिरफ्तारी से क्षेत्र में चर्चा का बाजार गर्म है।

(न्यूज़कोड के मोबाइल ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

गांडेय : जनसमस्याओं को लेकर जेवीएम ने दिया धरना, राज्यपाल के नाम बीडीओ को सौंपा ज्ञापन

NewsCode Jharkhand | 24 April, 2018 10:00 PM

गांडेय : जनसमस्याओं को लेकर जेवीएम ने दिया धरना, राज्यपाल के नाम बीडीओ को सौंपा ज्ञापन

गांडेय (गिरिडीह)। जनसमस्याओं को लेकर जेवीएम ने गांडेय प्रखंड मुख्यालय परिसर में एक दिवसीय धरना दिया। प्रखंड कमेटी के सदस्यों ने मांग किया है कि गैरमजरुवा जमीन पर अविलंब रसीद निर्गत करने, प्रधानमंत्री आवास योजना एवं अन्य योजनाओं में गड़बड़ी करने वाले पर कार्रवाई, गांडेय स्वास्थ्य केंद्र को सुविधा से लैस किया जाय।

कार्यक्रम के बाद धरनार्थियों ने राज्यपाल के नाम ग्यारह सूत्री मांग को लेकर बीडीओ को एक ज्ञापन भी सौंपा। इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपस्थित गांडेय के पूर्व विधायक सह जेवीएम नेता लक्ष्मण स्वर्णकार ने कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण विकास थम सा गया है। ग्रामीणों को मूलभूत सुविधाएं भी मयस्सर नहीं है।

उन्‍होंने कहा कि पानी, बिजली की समस्याओं से लोग जूझते दिख रहे हैं। सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल की कोई सुविधा नहीं है। अधिकांश चापानल खराब पड़े हैं। विकास योजनाओं में बिचौलिए हावी है। योजनाओं में लुट के कारण वास्तविक लाभुकों को योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है।

गिरिडीह : सड़क सुरक्षा सप्ताह शुरू, स्कूली बच्चियों को मिला ट्रैफिक नियम की जानकारी

कार्यक्रम में जेवीएम  नेताओं ने क्षेत्र के खराब सड़कों की मरम्मती, मानदेय कर्मी पारा शिक्षक, रोजगार सेवक, रसोइया, सेविका सहायिका, पोषण सखी, स्वंयसेवक, कम्प्यूटर आपरेटर, समेत अन्य कर्मियों को सरकारी कर्मी की तरह मानदेय तथा सुविधा उपलब्ध कराने की मांग की।

ये है मांगे

वहीं स्वास्थ्य सुविधा को लेकर गांडेय स्वास्थ्य केंद्र में सभी सुविधाएं उपलब्ध कराने,  मनरेगा योजना में समय पर मजदूरी एवं सामग्री उपलब्ध कराने, विधवा वृद्धा पेंशन में व्याप्त त्रुटियों को दूर करने, खराब पड़े चापानल की मरम्मत करने, मॉडल विद्यालय कस्तूरबा में शिक्षकों की कमी को दूर कर समुचित शिक्षा व्यवस्था बहाल करने समेत ग्यारह सूत्री मांग को लेकर महामहिम राज्यपाल के नाम बीडीओ को स्मारपत्र सौंपा गया।

इसके पूर्व धरना-प्रदर्शन में उपस्थित अतिथियों ने सरकार की गलत नीतियों पर निशाना साधा। मौके पर प्रखंड महामंत्री राजु राणा, मनोज कुमार सिंह, अवधेश राय, राजेश यादव, शंकर प्रसाद राय, वासुदेव मंडल, मिथिलेश मंडल, शंकर मंडल समेत कई लोग उपस्थित थे।

​​(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Read Also

रांची : पंचायती राज दिवस की 25वीं वर्षगांठ पर कांग्रेस द्वारा संगोष्ठी का आयोजन

NewsCode Jharkhand | 24 April, 2018 9:57 PM

रांची : पंचायती राज दिवस की 25वीं वर्षगांठ पर कांग्रेस द्वारा संगोष्ठी का आयोजन

रांची। पंचायती राज दिवस की 25वीं वर्षगांठ के अवसर पर रांची ग्रामीण जिला कांग्रेस कमिटी द्वारा कांग्रेस भवन आज संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी कार्यक्रम में प्रदेश कांग्रेस कमिटी के मीडिया प्रभारी प्रदीप तुलस्यान एवं प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद मुख्य रुप से शामिल हुए।

कार्यक्रम की अध्यक्षता रांची ग्रामीण अध्यक्ष सुरेश बैठा ने किया। कार्यालय समन्वयक राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की ग्राम स्वराज परिकल्पना के अनुरुप कांग्रेस पार्टी ने पंचायती राज व्यवस्था के माध्यम से लोकतंत्र की बुनियादी इकाई ग्राम पंचायतों को मजबूत बनाने का कार्य किया।

रांची : घायल बीजेपी नेता की मौत, सीएम ने जताया शोक

आज पंचायती राज दिवस की 25वीं वर्षगांठ है। हमारे प्रथम प्रधानमंत्री पं0 जवाहर लाल नेहरु ने जहां सामुदायिक विकास योजना के माध्यम से ग्राम पंचायतों को बल प्रदान किया, वहीं पंचायती राज व्यवस्था के प्रेरणाश्रोत हमारे प्रिय नेता भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी ने भी पंचायती संस्थाओं में महिलाओं, अनुसूचित जाति एवं पिछड़ों को आरक्षण प्रदान करने की व्यवस्था सुनिश्चित करने की दिशा में महत्वपूर्ण पहल की।

हमारी नेता सोनिया गांधी एवं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इसी परम्परा को आगे बढ़ाते हुए पंचायती राज संस्थाओं की मजबूती के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं।

संगोष्ठी को सम्बोधित करते हुए प्रदेश मीडिया प्रभारी प्रदीप तुलस्यान ने कहा कि 24 अप्रैल, 1993 को 73वां एवं 74वां संविधान संशोधन लागू हुआ। जिसके माध्यम से पंचायतों और नगर निकायों को संवैधानिक दर्जा मिला। ग्राम सभा स्थापित की गयी। वित्त कार्यक्रम, कर्मचारियों की जवाबदेही स्थानीय निकायों को सौंपने की शुरुआत हुई।

इसी के तहत पंचायतों एवं स्थानीय निकायों में महिलाओं, अनुसूचित जाति-जनजाति एवं पिछड़े वर्ग का निश्चित प्रतिनिधित्व तय किया गया। केन्द्र और राज्य की विपक्षी सरकारें सत्ता हस्तान्तरण की प्रक्रिया को रोकने का कुचक्र रच रही है।

रांची जिला ग्रामीण अध्यक्ष सुरेश बैठा ने कहा कि जिला कांग्रेस कमिटी संविधान प्रदत्त अधिकार जो स्थानीय जनप्रतिनिधियों को 73वें एवं 74वें संशोधन के अन्तर्गत प्राप्त है, को दिलवाने की लड़ाई कांग्रेस के झण्डे के नीचे लगातार जारी रखेगा।

आनेवाले दिनों में जिला कांग्रेस कमिटी प्रखण्ड स्तर पर भी इस प्रकार की संगोष्ठियों का आयोजन कर लोगों को उनके अधिकारों के बारे में जानकारी देगा।

 कार्यक्रम में अशोक मिश्रा, एनुल हक अंसारी, रीता चौधरी, राजेश कच्छप, सुन्दरी तिर्की, जाकीर हुसैन, विनोद मिश्रा, संजय सिंह, मनोहर महतो, अश्विनी महतो, मुजीबुल रहमान, शमीम अंसारी, सलीम अंसारी, हरिप्रसाद, रमेश उरॉंव, संजर खान, रामदेव सिंह, रमेश पाण्डेंय, शिवधन मुण्डा, अनिल लिण्डा सहित काफी संख्या में कांग्रेसजन शामिल थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

गावां : सरकारी दुकान में बियर की किल्लत, दोगुनी कीमत वसूल रहे हैं दुकानदार

NewsCode Jharkhand | 24 April, 2018 9:53 PM

गावां : सरकारी दुकान में बियर की किल्लत, दोगुनी कीमत वसूल रहे हैं दुकानदार

गावां (गिरिडीह)। सरकारी शराब दुकानों में लगभग एक माह से बियर की भारी किल्लत है। कहीं भी सरकारी काउंटर पर बियर नही मिल रहा है। वहीं ब्लैक में सरकारी दुकानों में बिकने वाला बियर की खुलेआम दोगुनी कीमत पर धड़ल्ले से बेची जा रही है। इससे सरकारी शराब दुकानों के संचालन से जुड़े लोगों का बियर को कालाबाजारी में खपाए जाने की आशंका को बल मिल रहा है।

बता दें कि गावां बाजार स्थित सरकारी शराब दुकान में लगभग एक माह से बियर की भारी किल्लत चल रही है। इस दौरान यहां मुश्किल से दो-चार दिन बियर उपलब्ध रहा होगा। परंतु गावां बाजार के बाईपास रोड स्थित विभिन्न होटलों सहित कई फास्ट-फुड की दुकानों में लोगों को असानी से बियर उपलब्ध हो जा रहा है। हलांकि सरकारी शराब दुकान में बियर की किल्लत का बहाना बना बियर की ब्लैक मार्केटिंग कर रहे है।

गिरिडीह : प्रधान डाक घर हुआ हाईटेक, विधिवत हुवा सीएसआई का उद्घाटन

फिलहाल शादी-ब्याह का सीजन चल रहा है, इस कारण इस क्षेत्र में पड़ोसी राज्य बिहार के लोगों का आना-जाना भी बढ़ा है। इसका भी फायदा बखुबी उठाया जा रहा है। लोकल कुछ चर्चित लोगों के पास बियर की कालाबाजारी करने के बजाए होटल वाले बाहरी लोगों को सहजता से बीयर उपलब्ध करा रहे हैं।

गावां में पुलिस प्रशासन व उत्पाद विभाग की अनदेखी के कारण कई होटल इन दिनों बीयरबार की भूमिका में नजर आ रहा है। सुबह से ही इन होटलों में खुलेआम लोग बैठकर जाम छलकाते नजर आते हैं। ऐसा नही है कि गावां पुलिस को इसकी जानकारी नही है। सबकुछ जानते हुए भी पुलिस अपनी आंख बंद किए हुए है और यहां होटलों में ब्लैक से शराब बेचे जाने का धंधा फलफुल रहा है।

गावां: मनरेगा कर्मियों ने की बैठक, आंदोलन का लिया निर्णय

उत्पाद अधीक्षक अवधेश कुमार सिंह के अनुसार सरकारी काउंटर पर एक माह से बीयर की किल्लह है। क्योंकि बीयर की आपूर्ति कुछ दिनों से नियमित नही मिल पा रही है। आज की बीयर की खेप मिली है। इसे जल्द ही सभी सरकारी दुकानों में बिक्री के लिए उपलब्ध कराया जाएगा। गावां के होटलों में बीयर को कालाबाजारी में बेचे जाने की जानकारी नही है। अब संज्ञान में आया है तो इसकी जांच करेगें कि आखिर होटलों में बीयर कहां से उपलब्ध हो रहा है।

गावां थानेदार राजकुमार ने बतया कि होटलों में शराब की बिक्री किसी भी कीमत पर नही होने दिया जाएगा। गावां के होटल में शराब बेचे जाने की जानकारी नही थी। अगर होटल में बैठाकर शराब पिलाया जा रहा है तो होटल संचालक पर कार्रवाई की जाएगी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

© Copyright 2017 NewsCode - All Rights Reserved.