बेंगाबाद : बेहतर शिक्षा देने के उद्देश्य से खुला विशेष आवासीय विद्यायल

NewsCode Jharkhand | 16 May, 2018 4:58 PM
newscode-image

बेंगाबाद (गिरिडीह)। बेंगाबाद प्रखंड के डाकबंगला के समीप पिपराटोल स्थित विशेष आवासीय विद्यालय का उद्घाटन बुधवार को विधिवत रूप से किया गया। उद्घटान समारोह में गांडेय विधायक प्रो जयप्रकाश वर्मा, प्रखण्ड प्रमुख रामप्रसाद यादव बतौर अतिथि शरीक थे। यहां विद्यालय का उद्घाटन विधायक एवं प्रमुख ने सम्मिलत रूप से फीता काटकर एवं दीप प्रजवलित कर किया।

गरीब एवं कमजोर वर्ग के बच्चों को मिले बेहतर शिक्षा

उद्घटान समरोह में विधायक ने कहा कि बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा एवं बेहतर माहौल देने के उद्देश्य से विशेष आवासीय विद्यायल का निर्माण कराया गया है। इस विद्यायल में आर्थिक रूप से पिछड़े हुए परिवार को निःशुल्क शिक्षा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए प्रयासरत है। गरीब एवं कमजोर वर्ग के बच्चों को बेहतर शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए ही ऐसे आवासीय विद्यालयों को खोला जा रहा है।

शिक्षा के स्तर में होगा सुधार

कार्यक्रम में प्रमुख ने कहा कि बेंगाबाद में विशेष आवासीय विद्यालय के खुलने से शिक्षा के स्तर में सुधार होगा। गरीब परिवार एवं पिछड़े वर्ग को अब अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा दिलाने में सुविधा मिलेगी। गरीब और पिछड़े परिवार के प्रतिभावान बच्चे को विद्यालय में बेहतर शिक्षा ग्रहण कर अपना भविष्य संवारने का अवसर प्राप्त होगा।

Read More:- जमशेदपुर : भाजपा के कर्नाटक में शानदार प्रदर्शन से खुला दक्षिण विजय का द्वार- दिनेश

बताया गया कि अब तक इस विद्यालय में 21 बच्चों का नामंकन हो चुका है। इस विद्यालय में जिला के अलावे बाहर के बच्चे भी भी नामांकन करा सकते हैं। कार्यक्रम में बीईओ इशहाक अंसारी, बीपीओ कृष्णदेव सिंह, विधायक प्रतिनिधि रामरतन राम, सुधीर वर्मा, दिनेश वर्मा, हेमराज साव, जितेंद्र वर्मा सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

रांची : सिविल सर्विसेज की तैयारी को लेकर छात्रों में बढ़ रहा क्रेज- सिविल सर्विसेज टॉपर

Ramdin Kumar | 16 August, 2018 4:41 PM
newscode-image

रांचीनेशनल एसोसिएशन ऑफ  सिविल सर्वेंट बिहार एंड झारखंड के तत्वाधान में सिविल सर्विसेज की परीक्षा में भाग लेने की इच्छुक अभ्यर्थियों का मार्गदर्शन करने हेतु एक सेमिनार का आयोजन  रांची महिला महाविद्यालय साइंस ब्लॉक के सभागार में  आयोजन किया गया।

इस सेमिनार में सिविल सर्विसेज टॉपर द्वारा छात्राओं को सिविल सर्विसेज की तैयारी कैसे की जाए  और उनकी बारीकियों को कैसे समझा जाए, कितनी मेहनत की जाए,  कितने समय पढ़ाई में लगाया जाए, किन-किन बातों को ख्याल रखा। अपनी दिनचर्या को किस प्रकार पढ़ाई के प्रति लगाया जाए।  इन सब विषयों पर विस्तार पूर्वक चर्चा की गई।

रांची : वाजपेयी राजनीति के अजातशत्रु, अपराजेय वक्ता- रघुवर दास

सेमिनार में 5 सिविल सर्विसेज टॉपर भिन्न भिन्न तरह के आईडिया छात्रों को शेयर किये गए।  सेमिनार में रांची की प्रतिभा रानी जिन्होंने सिविल सर्विसेस में 79 वां  स्थान हासिल की है उन्होंने छात्रों को संबोधित करते हुए कहीं।

छात्राओं को किताब से फ्रेंडली होनी पड़ेगी।  सबसे पहले आप यह तय करें कि आप को सिविल सर्विसेज में क्यों जाना है।  आम जनता के बीच किस प्रकार का सहयोग करेंगे। पहले इन सब बातों को एक डायरी में मेंटेन करें। रिसर्च करें फिर आगे उस पर काम करें। आप दो ही 3 घंटा पढ़ाई करें लेकिन ध्यान से पढ़ें।

हर दिन जिस विषय को पढ़ें उसकी रिवाइज करें। अपनी पढ़ाई का मूल्यांकन स्वयं करें। ग्रुप में डिस्कस करें। उसकी समीक्षा करें इंटरनेट फ्रेंडली बनना बहुत ही जरूरी है। आप इंटरनेट के माध्यम से हर विषय के हर टॉपिक का ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं।

छात्राओं को पढ़ाई के समय ज्यादा स्ट्रेस नहीं लेनी चाहिए । इससे पढ़ाई में काफी बाधाएं आती है। फेसबुक  को करें इग्नोर और वाट्सएप्प भी एक माध्यम है।  पढ़ाई को मजबूत करने में आप वाट्सएप्प  ग्रुप के माध्यम से अपनी जो भी डाउट होती है।  उस ग्रुप के कोई भी साथी आपकी डाउट का हल कर सकते हैं।

आईएएस टॉपर रिशु प्रिया ने कहीं सिविल सर्विसेज की तैयारी में समय का ध्यान नहीं रखा जाता है।  आपका जब समय मिले आप पढ़ाई कर सकते हैं। बशर्ते बिना किसी स्ट्रेस लेकर आप पढ़ाई करें।  सिविल सर्विसेज की तैयारी के लिए डेली रूटीन बनाकर पढ़ाई करें। सफलता पाने का एक ही रास्ता है ईमानदारी से पढ़ाई करें।  दोस्तों के साथ जो भी डाउट हो उन्हें बताएं। आप शिक्षकों की मदद भी ले सकते हैं।  इंस्टिट्यूशन की भी आवश्यकता होती है उनके साथ -साथ सेल्फ स्टडी भी उतनी ही महत्वपूर्ण है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

गावां (गिरिडीह) : विभिन्न विभागों में झंडोत्‍तोलन को लेकर तालमेल का दिखा अभाव

NewsCode Jharkhand | 16 August, 2018 7:12 PM
newscode-image

 स्वतंत्रता दिवस समारोह पर दिखी अनुशासनहीनता

गावां गिरिडीह। गावां में स्वतंत्रता दिवस समारोह में इस बार पूर्वाभ्यास की पूरी कमी देखी गई। नतीजतन विभिन्न विभागों में झंझोत्‍तोलन को लेकर तालमेल का अभाव दिखा। इस कारण प्रखंड मुख्यालय में झंडोत्‍तोलन के वक्त झंडे को सलामी देने के लिए पुलिस जवान मौजूद नहीं रहे।

जबकि बीडीओ मोनी कुमारी सलामी दल को बुलाने के लिए थाना में फोन करती रहीं। वहीं गावां थाना द्वारा निर्गत आमंत्रण पत्र में दिये गये समय सारणी से एक घंटा पूर्व ही ध्‍वजारोहण कर दिया गया।

बोकारो : खेल के मामले में सरकार का रवैया उदासीन : मयूर शेखर झा

इस कारण थाना परिसर में झंडोत्‍तोलन देखने से लोग चूक गये। बता दें कि थानेदार द्वारा निर्गत आमंत्रण पत्र में झंडोत्‍तोलन का समय दिन के 10:10 बजे निर्धारित था, लेकिन तय समय से एक घंटा 4 मिनट पूर्व ही 09:06 बजे ही थाना में झंडोत्‍तोलन कर दिया गया। इस कारण तय समय पर थाने में झंडोत्तोलन में शामिल होने पहुंचे लोगों को मायूस होना पड़ा।

बैंक प्रबंधक को झंडोत्‍तोलन के बजाय घर भागना आया रास

वैसे तो तिरंगा फहराना गर्व की बात मानी जाती है और इसके लिए लोग लालायित भी रहते हैं, लेकिन समाज में कुछ ऐसे भी लोग हैं, जो स्वतंत्रता दिवस को महज एक सरकारी बंदिशों वाला कार्यक्रम मान लेते हैं। ऐसा ही नजारा गावां के इलाहाबाद बैंक में देखने को मिला।

प्रबंधक ने झंडोत्‍तोलन करने के बजाए 15 अगस्त को घर भागना ज्यादा मुनासिब समझा। फलत: गावां इलाहाबाद बैंक में एक आम सीनियर सिटीजन उमाशंकर अवस्थी ने झंडोत्‍तोलन किया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

चाईबासा : जिले के चार प्रखंडों में लगाए गए जनता दरबार

NewsCode Jharkhand | 16 August, 2018 7:01 PM
newscode-image

 चाईबासा । पश्चिमी सिंहभूम के उपायुक्त अरवा राजकमल के निदेशानुसार गुरूवार को जिले के चार प्रखण्डों में जनता दरबार का अयोजन किया गया। नोवामुंडी प्रखण्ड मुख्यालय जनता दरबार में विभिन्न विभागों के द्वारा शिविर का लगाया गया।

जिसमें मुख्य रूप से वृद्धा पेंशन, विधवा पेंशन,विकलांग पेंशन, दिव्यांग पेंशन, जाति, आवासीय, आय प्रमाण पत्रों, स्वास्थ्य, चिकित्सा, कृषि, पशुपालन, समाज कल्याण सहित अन्य विभागों के प्रखण्ड स्तरीय पदाधिकारियों ने लोगों के समस्या का समाधान किया।

जनता दरबार में बच्चों का आधार पंजीकरण भी कराया गया। जनता दरबार का आयोजन प्रखण्ड विकास पदाधिकारी नोवामुण्डी समरेश प्रसाद भण्डारी, तथा अंचलाधिकारी गोपी उरॉव के निर्देशन में सम्पन्न हुआ। वहीं जगन्नाथपुर प्रखंण्ड कार्यालय में लगे जनता दरबार में सूचना के अभाव में लोग नहीं पहुंचे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

More Story

more-story-image

पाकुड़ : अज्ञात वाहन की चपेट में आने एक की...

more-story-image

धनबाद : एनडीए सरकार में श्रम मंत्री रही रीता वर्मा...