बड़कागांव : खेल से बच्चों में होता है शारीरिक और मानसिक विकास : BEO घनश्याम साहू

NewsCode Jharkhand | 7 July, 2018 2:50 PM

शिक्षा के साथ खेल अति आवश्यक : वीडियो अलका कुमारी, सुब्रतो मुखर्जी कप फुटबॉल टूर्नामेंट संपन्न

newscode-image

बड़कागांव (हजारीबाग) । बड़कागांव प्रखंड स्तरीय सुब्रतो मुखर्जी कप फुटबॉल टूर्नामेंट 2018 -19 का आयोजन प्लस टू उच्च विद्यालय बड़कागांव के मैदान में किया गया । जिसकी अध्यक्षता प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी घनश्याम साहू एवं संचालन प्लस टू उच्च विद्यालय के प्राचार्य बालेश्वर राम ने किया । बच्चों को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कहा कि फुटबॉल खेल से हाइपरटेंशन डिप्रेशन आदि से बच्चे को बचाया जा सकता हैं और इस खेल से एकाग्रता एवं किवनेस बढ़ती है साथ-साथ दिमाग स्वस्थ रहता है।

वही प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी एवं प्लस टू उच्च विद्यालय के प्राचार्य बालेश्वर राम ने कहा कि जब बच्चे भागते हैं तो बच्चों की नज़र बॉल पर बना रहता है । इस से बच्चों की स्टैमिना ताकत लंबाई संतुलन सहनशीलता आदि चीजें शरीर में उत्पन्न होती है जिससे मस्तिष्क स्वस्थ रहता है । यह खेल 14 वर्ष से लेकर 17 वर्ष के बालक एवं बालिका अलग-अलग ग्रुप में खेला गया बूट मोजा जर्सी के साथ खिलाड़ियों को भाग लेना था ।

जामताड़ा : मध्‍य विद्यालय में चोरी, बढ़ रही है स्‍कूलो में चोरी की घटनाए

इस प्रखंड स्तरीय सुब्रतो मुखर्जी कप फुटबॉल टूर्नामेंट मैच में प्लस टू हाई स्कूल बरकागांव हाई स्कूल जरजरा, हाई स्कूल शिवाडीह, हाई स्कूल जुगरा, प्लस टू हाई स्कूल कस्तूरबा गांधी होरम, उत्क्रमित मध्य विद्यालय हरली ,उत्क्रमित मध्य विद्यालय होरम ,उत्क्रमित मध्य विद्यालय कांडतरी, कन्या मध्य विद्यालय बड़कागांव सहित कुल 11 टीमों ने भाग लिया।

जिसमें अंडर 14  में बालिका वर्ग से उच्च विद्यालय शिवाडीह 01 से विजय प्राप्त किया वहीं बालक वर्ग उत्क्रमित मध्य विद्यालय हरली के खिलाड़ियों ने विजय प्राप्त किया। बालक वर्ग के  खेलों में जरजरा एवं हरली के बीच जबरदस्त मुकाबला हुआ।  दोनों टीमों ने दर्शकों का  मन मोह लिया ।और काफी मशक्कत के बाद जरजरा के खिलाड़ी रवि सोरेन  एवं कुलदीप मुर्मू ने खेल के अंतिम दौर में एक एक  गोल दागकर 02 से विजय हासिल किया ।

इधर बालिका वर्ग का खेल कस्तूरबा विद्यालय एवं हाई स्कूल शिवाडीह के बीच खेला गया, जिसमें कस्तूरबा की ओर से किरण कुमारी, लीलावती कुमारी, झिलमिल कुमारी एवं सरस्वती कुमारी ने जोरदार प्रदर्शन करते हुए  । गोल मार कर 06 से विजय प्राप्त किया।

विजय टीम जिला स्तरीय फुटबॉल प्रतियोगिता में भाग लेंगे। खेल को खिलाने में रेफ्री श्रीकांत निराला एवं रंजीत खलखो का अहम योगदान रहा। कार्यक्रम में मुख्य रूप से सहयोग करने वालों में बीआरपी अभय कुमार ,धनंजय कुमार दास CRP देवकी महतो, दीपक कुमार पारा शिक्षक महासंघ के प्रखंड अध्यक्ष मोहम्मद शमशेर आलम आदि कई लोग उपस्थित थे

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

सिमडेगा : महाराष्‍ट्र टीम को हराकर फाइनल में पहुंची झारखंड टीम

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 2:34 PM
newscode-image

सिमडेगा। हॉकी इंडिया द्वारा बेंगलुरु में आयोजित 3rd 5A साइड हॉकी इंडिया सीनियर नेशनल चैम्पियनशिप में झारखण्ड महिला हॉकी टीम महाराष्‍ट्र हॉकी टीम को 3-2से पराजित कर फाइनल में प्रवेश की।

झारखण्ड टीम का फाइनल आज शाम सात बजे चिरप्रतिद्वन्दी हॉकी हरियाणा के साथ होगा। झारखण्ड टीम की ओर से प्रमिला सोरेंग,पिंकी एक्का एवम बिरजनी एक्का  ने 1-1 गोल की।

झारखण्ड टीम से सोनल मिंज,बिरजनी एक्का, अल्का डुंगडुंग, पिंकी एक्का, सीमा कुमारी, सिमता मिंज, रीमा बखला, वेतन डुंगडुंग, प्रमिला सोरेंग,कोच-बिगन सोय, मैनेजर-अल्का डुंगडुंग है।

सेमिफाइनल में विजयी होने पर हॉकी सिमडेगा के अध्यक्ष असुंता लकड़ा, संयुक्त सह वरिष्ठ उपाध्यक्ष शशिकान्त प्रसाद, रजनीस कुमार सहित सिमडेगा के  समस्त पदाधिकारियों की ओर से शुभकामनाएं दी गई।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

गिरिडीह :  प्रधानमंत्री ने अपनी बहनों को भेजा तोहफा, राखी के बदले आया स्मार पत्र

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 6:08 PM
newscode-image

गिरिडीह।  देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गिरिडीह की दो बहनों को रक्षाबंधन का तोहफा भेजा है।  मोहलीचुआ की रहने वाली रामबाबू साहू की पुत्री सेजल कुमारी और चाहत कुमारी ने प्रधानमंत्री को राखी भेजी थी।

राखी मिलने के बाद पीएमओ से इन दोनों बहनों के लिए स्मार पत्र आया है। बताया गया कि पिछले साल भी इन दोनों बहनों ने प्रधानमंत्री को राखी भेजी थी और पिछले साल भी उन्हें स्मार पत्र मिला था।

इस बार भी स्मार पत्र मिलने से दोनों बहनें बेहद खुश हैं। इनका कहना है कि प्रधानमंत्री सहृदय व्यक्ति हैं और उन्होंने दिल से राखी स्वीकार की। इसी वजह से वहां से प्रमाण पत्र भेजा गया है।

स्मार पत्र मिलने से परिवार  के  सदस्य भी हर्षित हैं। बताया गया कि ये दोनों बहनें हर साल देश के सैनिकों को भी राखी भेजती हैं ताकि देश की रक्षा करने वाले सैनिकों की कलाईयाँ सूनी न रह जाए।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

रांची : पीएम की तस्वीर बनाकर भेंट करना चाहती थी छात्रा, सुरक्षा गार्ड ने रोका

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 6:06 PM
newscode-image

रांची। नरेंद्र मोदी देश वासियों के चहेते प्रधानमंत्री हैं। मोदी वैसे तो बच्चों और छात्रों में काफी लोकप्रिय है लेकिन पीएम मोदी के सभा स्थल से एक छात्रा को निराश होकर लौटना पड़ा। दरअसल प्रधानमंत्री का कार्यक्रम रांची के धुर्वा स्थित प्रभात तारा मैदान में हो रहा था।

कार्यक्रम के माध्यम से प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत स्वास्थ बीमा योजना का शुभारम्भ कर रहे थे। इस एतिहासिक पल का साक्षी बनाने के लिए सभा स्थल पर लाखों लोग मौजूद थे। वैसे भी मोदी जहाँ जाते है तो उनके चाहने वाले लोगों की ख़ुशी देखते ही बनती है।

रांची : प्रधानमंत्री ने रांची से की आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत

पीएम हमेशा छात्र हितों की बात करते है शायद इसी लिए मोदी से मिलने के लिए रातू रोड की डिम्पी नाम की छात्रा सभा स्थल तक पहुंची, लेकिन डिम्पी को प्रधानमंत्री के सुरक्षा गार्ड ने रोक दिया। डिम्पी के हाथ में नरेंद्र मोदी की तस्वीर थी जिसे डिम्पी ने खुद अपने हाथों से बड़े अरमान से बनाई थी। मोदी की तस्वीर में बड़े ही प्यार से रंग भरी लेकिन सुरक्षा गार्ड द्वारा रोके जाने के कारण मोदी के तस्वीर के साथ डिम्पी के अरमानों के रंग भी फीके पड़ गए।

फिलहाल डिम्पी रांची मारवाड़ी कॉलेज बायोटेक की छात्रा है। मैट्रिक 70% अंक से पास है, डिम्पी पढ़ाई में भी काफी अच्छी है इसके बावजूद डिम्पी अपने चहेते प्रधानमंत्री से नही मिल पायी क्योंकि उसके पास पीएम से मिलने के लिए कागज के टुकड़े वाले पास नही थे।

डिम्पी मोदी से मिलने के लिए सुरक्षा कर्मियों से लाख बिनती करती रही लेकिन किसी ने उस छात्रा की फरियाद तक नही सुनी और पीएम से अगली बार मुलाकात करने की उम्मीद लिए डिम्पी निराश होकर अपने घर पैदल लौट गई।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

More Story

more-story-image

तेनुघाट : आयुष्मान भारत योजना से गरीब भी करा पायेंगे...

more-story-image

साहेबगंज : सीएस ने सदर अस्पताल में पूछताछ केंद्र का...