बाघमारा : 43 गांव को पंचायत क्षेत्र में लाने की मांग, विधायक और मेयर की बैठक

NewsCode Jharkhand | 4 January, 2018 2:42 PM

नगर निगम में शामिल करने का विरोध

newscode-image

बाघमारा। पंचायत बचाव संघर्ष समिति के तत्वावधान में बाघमारा के भेलाटांड़ बस्ती में पंचायत बचाव सभा का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य रूप से धनबाद महापौर चन्द्रशेखर अग्रवाल, बाघमारा विधायक ढुलू महतो सहित आठ वार्डों के पार्षदगण उपस्थित हुये। सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण महिलाओं और पुरुषों ने भाग लिया।

Read More : बाघमारा : अवैध कोयला के साथ आठ साइकिल जब्‍त

सभा का आयोजन मुख्य रूप से एक विरोध के रूप में किया गया। धनबाद नगर निगम में 43 ऐसे गांव हैं जिसे पंचायत में रहना चाहिए था पर नगर निगम क्षेत्र में शामिल है। इसका विरोध एक स्वर में ग्रामीणों ने लगभग सात वर्षों से बुलंद किया हुआ है।

सभा के दौरान भी वक्ताओं ने उपस्थित जनप्रतिनिधियों के बीच भी इन 43 गांव को फिर से पंचायत क्षेत्र घोषित करने की मांग रखी। वहीं धनबाद मेयर और बाघमारा विधायक ने इस मांग पर ग्रामीणों को हर सम्भव मदद करने का आश्‍वासन दिया।

(न्यूज़कोड के मोबाइल ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

जमशेदपुर : सूर्य सिंह बेसरा ने तीसरा मोर्चा बनाया, कहा- पूरे 81 सीटों पर विस चुनाव लड़ेगी झारखंड पीपुल्स पार्टी

NewsCode Jharkhand | 22 July, 2018 6:18 PM
newscode-image

जमशेदपुर झारखंड में सत्ताधारी पार्टी बीजेपी और महा गठबंधन की दिशा में जा रहे जेएमएम और अन्य राजनीतिक पार्टियों के खिलाफ पूर्व विधायक सह आजसू के संस्थापक और वर्तमान में झारखंड पीपुल्स पार्टी के मुखिया सूर्य सिंह बेसरा ने आगामी चुनाव में जाने के लिए तीसरा मोर्चा का बिगुल फूंका।

उन्‍होंने कहा कि राजनीतिक, सामाजिक संस्थाओं का समर्थन ले झारखंड के मूल वासियों के उत्थान के लिए पूरे 81 सीटों पर विधान सभा चुनाव लड़ेगी झारखंड पीपुल्स पार्टी। यह आम लोगों के लिए तीसरा विकल्प है।

जमशेदपुर : जिला मुख्यालय सभागार में स्वच्छ्ता सर्वेक्षण 2018 को लेकर बैठक आयोजित

झारखंड में तमाम राजनीतिक पार्टियों के चुनावी रणनीति को चुनौती देने के लिए उभरे तीसरे विकल्प के रूप में झारखंड पीपुल्स पार्टी और अन्य सहयोगी संस्थाओं ने रविवार को जमशेदपुर के आदिवासी एसोसिएशन में झारखंड नवनिर्माण महासभा जनमतके नाम से एक सभा किया।

यहां मुख्य रूप से तीसरे विकल्प के मुखिया सूर्य सिंह बेसरा और कोल्हान के सुदूर क्षेत्रों से आये स्थानीय आदिवासी नेता उपस्थित हुए। महासभा में खतियानधारी को जनमत का विकल्प बताते हुए नेताओं ने सभा को संबोधित किया।

वहीं सूर्य सिंह बेसरा ने कहा अब झारखंड में अवसरवाद की राजनीति से यहां के मूलवासियों को छुटकारा चाहिए। इस कारण तीसरा विकल्प बनाना पड़ा और इसी विकल्प के माध्यम से आगामी 2019  के चुनाव को आम आदमी पार्टी की तरह झारखंड के सभी सीटों को जीत यहां के मूल भाषा भाषियों का उत्थान करेंगे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

चतरा : जेल अदालत का आयोजन, एक कैदी को मिली रिहाई

NewsCode Jharkhand | 22 July, 2018 6:15 PM
newscode-image

चतरा। मंडल कारा में रविवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकार के तत्वाधान में जेल अदालत  का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता रवि शंकर पांडेय न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी ने किया। इस अदालत में इटखोरी थाना क्षेत्र के टोनाटांड गांव निवासी मथुरी भुइयां के पुत्र इंदर भुईयां को रिहाई किया गया। जबकि इंदर भुइयां द्वारा चार हजार रुपया फाइन के तौर पर जमा किया गया।

चतरा : 24 पेटी शराब के साथ दो तस्कर गिरफ्तार

जेल अदालत में बंदियों को विभिन्न कानून की जानकारी भी दी गई। मौके पर कारा अधीक्षक बिपिन बिहारी मंडल, अधिवक्ता शिशिर कुमार पांडेय सहित अन्य न्यायिक कर्मी उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

छात्र संघ चुनाव तय समय पर हो – अभिनव भगत

NewsCode Jharkhand | 22 July, 2018 6:15 PM
newscode-image

रांची। एनएसयूआई के बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल के रीजनल मीडिया कोऑर्डिनेटर अभिनव भगत ने राँची विवि द्वारा नामांकन प्रक्रिया में चांसलर पोर्टल की जटिलता के वजह से छात्रों को हो रहे परेशानी एवं नामांकन तिथि बार-बार बढ़ाने से छात्र संघ चुनाव पर लगे संशय पर प्रेस बयान जारी की है।

रांची : जेसीआई के सदस्याओं ने आंचल शिशु आश्रम में किया भोजन वितरण

चांसलर पोर्टल पर सरकार ने करोड़ों रूपये खर्च कर दिये लेकिन नामांकन प्रक्रिया में छात्रों की परेशानी थमने का नाम ही नहीं ले रही है। विदित हो कि रांची विवि प्रशासन ने फार्म जमा करने की तिथि 18 से 30 जून तक निर्धारित की थी, लेकिन काफी कम आवेदन आने के बाद पहली बार 10 जुलाई तक तिथि बढ़ाई गई। दूसरी बार 17 जुलाई तक एडमिशन फार्म जमा करने तिथि बढ़ाई गई। लेकिन इसके बाद भी समस्या पहले की तरह यथावत रही, जिस कारण तीसरी बार 23 जुलाई तक तिथि बढ़ाई गई है।

रांची : जेसीआई के सदस्याओं ने आंचल शिशु आश्रम में किया भोजन वितरण

वहीं विश्वविद्यालयों द्वारा शून्य निवेश पर बच्चों का नामांकन लिया जाता था। सरकार का चांसलर पोर्टल बनाने के पीछे उद्देश्य था कि छात्रों का डेटा संग्रह करने के साथ नामांकन प्रक्रिया में पारदर्शिता लायी जाये। साथ ही सिंगल विंडो के माध्यम से एक शुल्क पर छात्रों का नामांकन सुनिश्चित किया जा सके, लेकिन वर्तमान में चांसलर पोर्टल से कोई भी कार्य नामांकन प्रक्रिया के माध्यम से सही तरीके से नहीं हो पा रहा है। जहां तक एक शुल्क की बात थी तो इस पोर्टल के माध्यम से प्रति कॉलेज या विभाग छात्रों को परीक्षा शुल्क देने पड़ रहे हैं।

छात्र संघ चुनाव पर पड़ सकता है असर

रांची विवि में बार-बार एडमिशन की तिथि बढ़ने के कारण अब अगस्त अंतिम सप्ताह तक एडमिशन प्रक्रिया चलेगी। इसका सीधा असर छात्र संघ चुनाव पर पड़ेगा। जबकि पिछले वर्ष भी बहुत कम छात्रों का एडमिशन होने  के कारण चुनाव स्थगित कर दिया गया था। इसके बावजूद विवि प्रशासन ने ढिलाई बरती इससे साफ़ पता चलता है कि छात्र संघ चुनाव को लेकर विवि की मंशा कभी छात्रों के लिए हितकर में नहीं है।

रांची : राजधानी सहित राज्य में बिजली संकट, लोगों की बढ़ी समस्या

एनएसयूआई छात्र संघ चुनाव को लेकर कटिबद्ध है। सरकार एवं विवि प्रशासन से माँग करती है कि छात्र संघ चुनाव हर हाल में तय समय पर कराया जाने की दिशा में आगे बढ़ते हुए अविलंब विभागीय आदेश जारी करें। अगर इस बार भी सरकार और विवि की रवैया की वजह से छात्र संघ चुनाव कराने में विलंब अथवा चुनाव नहीं करायी जाएगी तो एनएसयूआई महामहिम राज्यपाल महोदया से मिलकर इस मामले पर हस्तक्षेप करने की माँग करेगी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

धनबाद : मिशन 2019 की तैयारी में जुटी भाजपा, की बैठक 

more-story-image

सरिया : एसडीपीओ ने मिलन समारोह का किया आयोजन,  क्षेत्र...