योगी सरकार की अनदेखी, उत्तर प्रदेश में ठंड से 24 घंटों में 70 मौतें

NewsCode | 6 January, 2018 3:36 PM

पिछले 24 घंटों में ठंड की वजह से पूर्वांचल में 22 लोगों की मौत हो गई, जबकि बरेली डिविजन में तीन इलाहाबाद डिविजन में 11 और बुंदेलखंड क्षेत्र में 28 लोगों की मौत हो गई

newscode-image

लखनऊ| उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। रैनबसेरों की कमी और ठंड से बचाव के उपायों की कमी के चलते पूरे प्रदेश में पिछले 24 घंटों के दौरान 70 बेसहारा लोगों की मौत हो गई। हालांकि, इसे लेकर कोई भी अधिकारी खुलकर बोलने को तैयार नही है।

पिछले 24 घंटों में ठंड की वजह से पूर्वांचल में 22 लोगों की मौत हो गई, जबकि बरेली डिविजन में तीन इलाहाबाद डिविजन में 11 और बुंदेलखंड क्षेत्र में 28 लोगों की मौत हो गई।

बाराबंकी के 40 वर्षीय राम किशोर रावत और 30 वर्षीय महेश की मौत ठंड की वजह से हो गई। फैजाबाद जिले के हरचंदपुर में एक व्यक्ति की मौत हो गई। अम्बेडकर नगर में एक जबकि रायबरेली और ऊंचाहार में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गयी।

एक सरकारी अधिकारी ने हालांकि यह दावा किया कि ठंड से बचाव के लिए हर जिले में पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं, लेकिन लोगों की ठंड की वजह से हो रही मौतों ने इन सारे दावों की पोल खोल दी है। 

लोगों द्वारा आरोप लगाने के बाद लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया ने नगर आयुक्त से इस संबंध में रिपोर्ट मांगी है। उन्होंने कहा कि लोगों की शिकायतें आ रही है कि सार्वजनिक जगहों पर अलाव नहीं जलाए जा रहे हैं। इसकी जल्द से जल्द व्यवस्था कराई जाएगी।

आईएएनएस

मंदसौर गैंगरेप: 8 साल की बच्ची से हैवानियत करने वाले युवकों को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा

NewsCode | 21 August, 2018 6:10 PM
newscode-image

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश में मंदसौर की विशेष अदालत ने आठ वर्षीय स्कूली छात्रा के साथ बर्बर गैंगरेप मामले में दोनों दोषियों को फांसी की सजा सुनाई है। मीडिया खबरों के मुताबिक, अदालत ने मामले में दोनों युवकों को बलात्कार का दोषी पाया। मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में था। कोर्ट ने दो महीने के भीतर ही दो युवकों को फांसी की सजा सुनाई है। बच्ची का अपहरण कर बलात्कार करने वाले आरोपियों की पहचान इरफान और आसिफ के रूप में हुई थी।

क्या था पूरा मामला

मंदसौर के सरस्वती शिशु मंदिर में पढ़ने वाली बच्ची 26 जून की शाम स्कूल की छुट्टी के बाद लापता हो गयी थी। वह 27 जून को स्कूल के पास की झाड़ियों में लहूलुहान हालत में मिली थी। मंदसौर पुलिस ने मामले में इरफान मेव उर्फ भय्यू (20) को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने बताया था कि मंदसौर के कोतवाली थाने में उसका पुराना आपराधिक रिकॉर्ड है। बच्ची से बलात्कार के मांमले में मंदसौर-नीमच क्षेत्र में लोगों का आक्रोशित होकर प्रदर्शन किया था। लोगों की मांग थी कि आरोपियों को फांसी दी जाए।

घटना के बाद उग्र भीड़ को देख पुलिस ने कोर्ट ने अस्थाई कोर्ट लगाने की गुजारिश की थी। जिसके बाद पुलिस कंट्रोल रूम में अस्थाई कोर्ट में सुनवाई की गई, जहां कोर्ट ने अारोपी को पुलिस रिमांड पर भेज दिया था। रिमांड पूरी होने पर उसे अजाक थाने में अस्थाई कोर्ट में पेश किया गया। जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया था।

बच्ची से की गई थी हैवानियत

घटना के बाद बच्ची का इलाज करने वाले डॉक्टरों ने बताया था कि यौन हमलावरों ने बच्ची के सिर, चेहरे और गर्दन पर धारदार हथियार से हमला किया था। इसके साथ ही, उसके नाजुक अंगों को भीषण चोट पहुंचायी थी जिसे मेडिकल जुबान में “फोर्थ डिग्री पेरिनियल टियर” कहते हैं।

बच्ची अभी भी एमवाय अस्पताल में भर्ती है, उसके स्वास्थ्य में लगातार सुधार हो रहा है। उपचार में लगी चार डॉक्टरों की टीम ने बताया कि बच्ची की हालत में काफी सुधार है। मुंबई के पीडियाट्रिक सर्जन डॉक्टर रवि रामा ने भी पीड़ित बच्ची के स्वास्थ्य का परीक्षण किया था। उन्होंने बताया कि बच्ची का बेहतर इलाज हो रहा है। वहीं मनोचिकित्सक डॉक्टर स्वाति प्रसाद और डॉक्टरों ने बच्ची और उसके माता-पिता की काउंसलिंग की।


हत्या के शक में भीड़ ने महिला की पिटाई कर नंगा घुमाया, 360 लोगों पर केस, 15 गिरफ्तार

सिगरेट की दुकान का पता पूछा तो नशे में धुत्त शख्स ने कर दी JNU स्टाफ की हत्या

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

रांची : मंत्री परिषद की बैठक, आठ प्रस्तावों पर लगी मुहर

NewsCode Jharkhand | 21 August, 2018 7:43 PM
newscode-image

रांचीमंत्री परिषद की बैठक में मंगलवार को कुल आठ प्रस्तावों पर मुहर लगी। बैठक से पूर्व झारखंड मंत्रिपरिषद में आज भारत के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर झारखंड की सवा तीन करोड़ जनता की ओर से गहरा शोक प्रकट करते हुए शोक संतप्त परिवार के प्रति हार्दिक संवेदनाएं व्यक्त की।

मंत्री परिषद की बैठक के बाद प्रेसवार्ता कर गृह सचिव एसकेजी रहाटे ने बताया कि कुल आठ प्रस्तावों पर मुहर लगी है जो इस तरह से है।

रांची : राज्य के सात जिलों में अभी ब्लड बैंक नहीं हैं, उन जिलों में जल्द से जल्द ब्लड बैंक खोेले-सीएम

मंगलवार को मंत्री परिषद की बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय

उर्जा विभाग द्वारा मुख्य विद्युत अभियंता-सह-मुख्य विद्युत निरीक्षक, रांची के कार्यालय को विभाग का संलग्न कार्यालय घोषित करने की स्वीकृति दी गई।

प.सिंहभूम जिलान्तर्गत पहाड़डीहा स्वर्ण खनिज ब्लॉक रकबा लगभग 272.651 हेक्टेयर (As per Revenue record 279.609) हेक्टेयर (As per DGPS/ETS Summary)  क्षेत्रफल पर सर्वश्री मैथन इस्पात लि. कोलकाता के पक्ष में समेकित अनुज्ञप्ति (Composite Licence)  की स्वीकृति दी गई।

केन्द्र प्रायोजित योजनान्तर्गत राज्य के 3 (तीन) जिलों यथा-दुमका, हजारीबाग एवं पलामू में निर्माणाधीन चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पतालों में तृतीय एवं चतुर्थ वर्ग के कुल-882 पदों के सृजन की स्वीकृति दी गई।

झारखण्ड राज्य अवर वन क्षेत्रकर्मी संवर्ग नियमावली, 2014 (अधिसूचना सं0-40 68 दिनांक 04.09.2017) के प्रभाव में आने से पूर्व से नियुक्त एवं कार्यरत वनरक्षियों के वनपाल के पद पर प्रोन्नति हेतु उक्त नियमावली की कंडिका-14 में शिथिलीकरण की स्वीकृति दी गई।

डॉ. अनवर हुसैन, झाप्रसे (कोटि क्रमांक-667/03) तत्कालीन प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, जरीडीह, बोकारो, सम्प्रति-बर्खास्त को सेवा से बर्खास्त करने मंजूरी दी गयी।

झारखण्ड राज्य में राजकीय उच्च पथ, वृहद जिला पथ एवं अन्य जिला पथों के राईट ऑफ़ वे में युटीलीटी बिछाने हेतु अनुज्ञप्ति निर्गत करने एवं समुचित फीस उदग्रहित करने के संबंध में पथ निर्माण विभाग के द्वारा निर्गत संकल्प संख्या-6578 दिनांक 10.09.2012 में संशोधन की स्वीकृति दी गई।

झारखण्ड पीड़ित प्रतिकर (संशोधन) स्कीम-2016 में संशोधन की स्वीकृति दी गई।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

धनवार : अवैध बालू लदे 4 ट्रैक्टर जब्त, वसूले गए फाइन

NewsCode Jharkhand | 21 August, 2018 7:41 PM
newscode-image

धनवार(गिरिडीह)। अवैध बालू के हो रहे कारोबार पर प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए चार बालू लदे ट्रैक्टरों को जब्त कर लिया। धनवार सीओ शशिकांत सिंकर एवं थाना प्रभारी कमलेश प्रसाद सिंह ने संयुक्त रूप से प्रखंड के सपामारण स्थित पहाड़पुर के बरसिंघी कला घाट में छापेमारी की थी।

अचानक हुई इस कार्रवाई से धंधेबाजों में हड़कंप मच गया। इस बाबत सीओ ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई कर ट्रैक्टरों को जब्त किया गया है, वहीं प्रावधान के तहत जुर्माना लेकर दंडाधिकारी के मौजूदगी में जब्त ट्रैक्टरों को छोड़ दिया गया है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

धनबाद : जमसं पूर्व प्रधानमंत्री की प्रतिमा स्‍थापित करेगा 

more-story-image

चक्रधरपुर : प्रत्याशी आप के द्वार कार्यक्रम के तहत मनोहरपुर...