पांच साल की इस नन्ही परी ने तीरंदाजी में बनाया अनोखा कीर्तिमान, रिकॉर्ड बुक में नाम दर्ज

NewsCode | 19 September, 2017 8:15 PM
newscode-image

अपना खाना सही तरीके से खुद खा लेना या फिर चीजें सही जगह पर रख देना! पांच साल का बच्चा इतना ही कर ले तो माँ-बाप राहत महसूस करते हैं। अब जरा एक नजर डॉली शिवानी चेरुकुरी पर डालें। ये सबसे कम उम्र की तीरंदाज हैं, और हैरतअंगेज बात ये है कि इस नन्ही बच्ची का नाम एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स और इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज हो चुका है।

सोशल मीडिया पर नव निर्वाचित उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू से इस पांच साल की डॉली को बड़ाई और बधाई मिली। लोग-बाग डॉली की उपलब्धियों को सराह रहे हैं। बता दें कि डॉली ने 10 मीटर की दूरी से 11 मिनट में 103 बार निशाना साधा। दूसरे राउंड में 20 मीटर की दूरी से 5 मिनट में 36 बार निशाना लगाया। ये अपने आप में एक रिकॉर्ड है। इन्होंने 360 पॉइन्ट्स में से 290 पॉइंट अर्जित किये।  जब वो तीन साल की भी नहीं हुई थीं, तब पांच और सात मीटर की दूरी से निशाना साधकर तीरंदाजी में नया रिकॉर्ड बनाया।

आसान नहीं रहा है शिवानी का ये सफर

परिवार में तीरंदाजी का ही प्रोफेशन रहा। पिता तीरंदाज हैं।  शिवानी ने जब खड़े होना भी नहीं सीखा था, तब से तीर-कमान के लिए अपनी दिलचस्पी जाहिर करनी शुरू कर दी। पिता के सामने समस्या थी कि जो बच्ची ठीक से खड़ी भी नहीं हो पा रही, वो धनुष कैसे संभालेंगी। ऊपर से उसका वजन भी कम था। यानी भारी तीर-कमान संभालना ही अपने में एक टास्क होता तो डॉली निशाने पर फोकस कैसे करती! माता-पिता ने मिलकर इसका एक हल निकाला।

बच्ची के लिए कार्बन के  हल्के तीर-कमान बनाए

निशाना लगाने की प्रैक्टिस भी बड़े लोगों की तरह लगातार नहीं करवाई जा सकती थी। तीरंदाजी की प्रैक्टिस के दौरान बड़े-बड़ों के कंधे, आंखें, पैर सब दर्द करते हैं, फिर ये तो नन्ही सी बच्ची थी। यही सोचकर पिता ने दिनभर में कई ब्रेक्स के साथ केवल 2 घंटे प्रैक्टिस करवानी शुरू की लेकिन डॉली की लगन उन्हें हैरान करती रही।  वो लगातार बिना रुके प्रैक्टिस करती।

डॉली अपनी उम्र के बच्चों से एकदम जुदा हैं। वे अभी से जानती हैं कि उन्हें भविष्य में क्या करना है।  डॉली की इसी लगन ने उन्हें सबसे कम उम्र की तीरंदाज का खिताब दिया।  आंध्रप्रदेश के विजयवाड़ा की वोल्गा आचर्री अकादमी में ये अभी से प्रशिक्षण ले रही हैं ताकि 2024 में होने वाले ओलंपिक में भाग ले सकें।

रांची : दो फुटबॉल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस प्रारंभ किया जाएगा- मुख्यमंत्री

NewsCode Jharkhand | 13 November, 2018 11:54 AM
newscode-image

अंतरराष्ट्रीय स्तर की प्रतिस्पर्धाओं में पदक विजेता खिलाड़ियों को नौकरी में 2 प्रतिशत का आरक्षण

रांची। झारखंड के मुख्यमंत्री  रघुवर दास ने कहा कि राज्य में फुटबॉल खेल को बढ़ावा देने के लिए दो फुटबॉल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस बनाया जाएगा। झारखंड खेल प्राधिकरण के द्वारा बिरसा मुंडा फुटबॉल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, रांची एवं सिदो-कान्हू फुटबॉल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस देवघर में प्रारंभ किया जाएगा।

राज्य सरकार ने वर्ष 2017 में ही झारखंड के सभी प्रखंडों में कमल क्लब का गठन किया है। कमल क्लब के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र की खेल प्रतिभा को राज्य स्तर पर निखारने का काम किया जा रहा है। झारखंड में फुटबॉल खेल को आगे ले जाना राज्य सरकार की प्राथमिकता है।

पंचायत, प्रखंड एवं जिला स्तर के मेधावी फुटबॉल खिलाड़ियों को ड्रेस, जूता, खेल कीट एवं फुटबॉल राज्य सरकार निशुल्क उपलब्ध कराएगी। खिलाड़ियों को प्रशिक्षण देने के लिए सरकार एक्सपर्ट कोच की भी व्यवस्था करेगी।

जनजातीय समाज के फुटबॉल खेलने वाले बच्चों को निशुल्क ड्रेस एवं खेल उपकरण दिया जाएगा।  मुख्यमंत्री सोमवार को रांची कॉलेज मैदान में मुख्यमंत्री आमंत्रण फुटबॉल टूर्नामेंट 2018 के समापन को संबोधित कर हरे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के वैसे खिलाड़ी जो अंतरराष्ट्रीय स्तर के प्रतिस्पर्धाओं में मेडल अथवा पुरस्कार जीत कर आएंगे उन्हें राज्य स्तरीय सरकारी नौकरी में 2 प्रतिशत का आरक्षण राज्य सरकार देगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड की बेटियों ने खेल के विभिन्न क्षेत्रों में बहुत ही अच्छा कार्य किया है. बेटियां निरंतर अच्छा खेलकर सुर्खियां बटोर रही हैं. राज्य सरकार ने यह निर्णय लिया है कि सभी प्रखंड एवं जिला स्तरों में लड़कियों का भी फुटबॉल टीम का गठन किया जाए।  लड़कियों की टीम को भी खेल से संबंधित सारी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी. झारखंड की नारी शक्ति में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है। इनकी प्रतिभा को राज्य स्तर पर पहचान देने का कार्य सरकार करेगी।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि फुटबॉल के क्षेत्र में भी अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी झारखंड से निकलें और राज्य एवं देश का प्रतिनिधित्व करें यह सरकार की सोच है. लक्ष्य को हमेशा आगे रखने की जरूरत है।

झारखंड खेल प्रतिभा का धनी राज्य रहा है। हॉकी, तीरंदाजी, क्रिकेट इत्यादि खेलों में झारखंड के कई खिलाड़ियों ने प्रसिद्धि प्राप्त की है और देश और दुनिया में झारखंड का नाम रोशन किया है। राज्य सरकार की यह सोच है कि फुटबॉल के क्षेत्र में भी ऐसे ही प्रसिद्ध खिलाड़ी उभर कर सामने आए और राज्य का मान बढ़ाएं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

sun

320C

Clear

Jara Hatke

Read Also

लाठी डंडे और भय दिखा कर सत्ता पर बने रहना चाहती है  भाजपा

Om Prakash | 18 November, 2018 6:45 PM
newscode-image

रांची :  महानगर कांग्रेस कमिटी ओबीसी विभाग के द्वारा किशोरगंज, बड़ा तालाब स्थित मोमिन हॉल, रांची में जनसमस्यओं को लेकर एक बैठक मुहल्ला समस्या निदान चैपाल आहूत की गई। बैठक में आमलोगों की जनसमस्याओं से अवगत होते हुए समाधान हेतु विचार-विमर्श किया गया। बैठक में कांग्रेस पार्टी नेता आदित्य विक्रम जयसवाल, पार्टी कार्यकर्तागण एवं मुहल्ला के समाजसेवी मुख्य रूप से उपस्थित थे।

बैठक में मुहल्ला वासियों ने बताया कि पानी सप्लाई समय पर नहीं होने से पेयजल की भारी किल्लत है, मुहल्ले में समुचित साफ सफाई नहीं होने से गंदगी का अम्बार है, सरकारी योजनाओं का लाभ सही लाभुक को नही मिल रहा है। भाजपा की सरकार में महंगाई चरम पर है, रोजगार की आशा में  मारें फिर रहे हैं।

इस मौके पर  जयसवाल ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार, राज्य के रघुवर की सरकार और भाजपा शासित रांची नगर निगम कभी अच्छी सोच के साथ गरीबों के उत्थान के लिएकार्य नही की है। भाजपा का जन आरोग्य योजना, मुद्रा लोन, जनधन योजना, स्वच्छ भारत योजना, मेक इन इंडिया सभी विफल साबित हुई है। भाजपा की सभी योजनाएं सिर्फ गरीब का परिवारों को लुभाने और ठगने का काम की है, यह भाजपा की सरकार बाहरी लोगों को लाभ पहुँचाती है और झारखंडियों की आवाज को लाठी डंडे के सहारे दबाना चाहती है। जो इनकी मंसूबे को जनता समझ चुकी है। आने वाले चुनाव में वोट देकर भाजपा को चोट पहुँचायगी। राजधानी के युवा साथी बदलाव की और अग्रसारित है।

प्रदेश कांग्रेस के योजना एवम रणनीति के सदस्य अमिताभ रंजन ने कहा कि भाजपा की नियत और नीति दोनों गरीबों के खराब है। लाठी डंडे और भय दिखा कर सत्ता पर बने रहना चाहती है, भाजपा का विकास खोखला है।

पुरानी रांची निवासी शमशेर ने कहा कि रोजगार के लिये नवयुवक दर दर भटक रहे हैं, महिला, बच्चें असुरक्षित महसूस कर रहे हैं, ब्यवसायिक वर्ग अपराधी के भय से जिय रहे हैं, राजधानी के लोग भय की साया में लिप्त हैं।

महानगर कांग्रेस नेता किशन अग्रवाल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी हमेशा गरीबों की उत्थान, दुख सुख की बात करती है , और अपनी राज्य लोकतांत्रिक तरीके से चलाने पर विश्वास करती है। कांग्रेस पार्टी ही राज्य का सही विकास करेगी, आंकड़े और दिखावे का काम सिर्फ भाजपा की झूठी सरकार करती है। कांग्रेस गरीबों के चेहरों पर भय नही मुस्कान भरने पर विश्वास करती है।

बैठक के अंत मोमिन हॉल में युवाओं के बीच क्रिकेट किट का वितरण किया गया था। श्री जायसवाल ने अपनी टीम के साथ मुहल्ला में पदयात्रा कर कांग्रेस की नीति और संदेश को जन जन को बताया और मोहल्ला की समस्या निदान का हर सम्भव मदद की आश्वाशन दिया।

बैठक की अध्यक्षता कांग्रेस ओ बी सी नेता नंद किशोर साहू  ने की तथा संचालन आसिफ जियाउल ने किया। वहीं धन्यवाद ज्ञापन अनिल सिंह ने की

इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से पुरानी रांची के सदर हाफिजुर रहमान ,नईम भाई ,रमजान अंसारी, शमशेर आलम, किशन अग्रवाल, अमिताभ रंजन, उमेश कुमार ,आसिफ जियाउल, तमन ,फैयाज, टीपू ,पिंटू ,इफ्तेखार ,आसिफ नंद किशोर साहू ,मेराज आलम, सदाब, अमरजीत सिंह, अनिल सिंह, चिंटू चौरसिया, प्रेम कुमार,रमजान, साद, फैयाज, रमीज, मिनटु, इफ्तिखार, मोकिम, बिक्की, तस्लीम, तमन्ना, सददाब, इसरार, मौसिन आदि उपस्थित थे।

 

 (अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

झारखण्ड प्रदेश चुनाव कमिटी की सदस्य गुंजन सिंह

Om Prakash | 18 November, 2018 5:46 PM
newscode-image

रांची:  रॉंची  महानगर  जिला  कांग्रेस  कमिटी  की  कार्यकारी  अध्यक्ष  विनीता  पाठक  ने  झारखण्ड प्रदेश  महिला  कांग्रेस  कमिटी  की अध्यक्ष  गुंजन सिंह  को  ऑल इंडिया  कांग्रेस  कमिटी  द्वारा झारखण्ड प्रदेश चुनाव कमिटी की सदस्य बनाए जाने पर बधाई  दी  है। साथ हीं साथ  इसके  लिए सोनिया  गॉंधी, अखिल  भारतीय  कांग्रेस  कमिटी  के  अध्यक्ष  राहुल  गॉंधी,  झारखण्ड  प्रभारी आर. पी. एन. सिंह  एवं  प्रदेश  कांग्रेस  अध्यक्ष  डा0  अजय कुमार  के  प्रति  आभार  प्रकट  किया  है।

महानगर  अध्यक्ष  ने  कहा  कि  कांग्रेस  पार्टी  की  एक  ऐसी  पार्टी  है,  जिसने  महिलाओं  को  मान-सम्मान  दिया  है  और  महिलाओं  के  हितों  के  लिए  काम  करती  है।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी नेहीं  पंचायतों  में  महिलाओं  को  पचास  प्रतिशत  आरक्षण  दिलाया  और  समय-समय  पर महिलाओं को सम्मान  देने  से  नहीं चुकती है।

More Story

more-story-image

लोहरदगा : अपने हजारों समर्थकों के साथ जेएमएम में शामिल...

more-story-image

रांची : लायंस इंटरनेशनल डिस्ट्रिक्ट द्वारा निकाली गई मेगा डायबिटीज...

X

अपना जिला चुने