लखनऊ के होटल में भीषण आग लगने से 5 की मौत, कई पर्यटक फंसे

NewsCode | 19 June, 2018 12:50 PM
newscode-image

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में स्थित विराट होटल में मंगलवार सुबह भीषण आग लग गई। आग में झुलसने से 5 लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। अभी पुलिस होटल में बचाव अभियान चला रही है। घायलों को सिविल व बलरामपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

हादसे के बाद दमकल ने आग बुझाने का काम शुरू करते हुए होटेल से कुछ लोगों को रेस्क्यू किया था, जिनमें से पांच ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। इनमें एक महिला तथा बच्ची भी है। यह दोनों मृत अवस्था में अस्पताल लाए गए थे जबकि तीन ने इलाज के दौरान दम तोड़ा। एसपी पश्चिम विकास चन्द्र त्रिपाठी ने पांच लोगों की मृत्यु होने की पुष्टि की।

स्थानीय लोगों के मुताबिक जिस वक्त यह घटना हुई, उस समय होटेल के सभी कर्मचारी और यहां ठहरे पर्यटक सो रहे थे। कुछ देर बाद जब आग फैलने लगी तो होटेल के अंदर मौजूद लोगों और आसपास के इलाकों में मौजूद स्थानीय लोगों को इसकी जानकारी हुई। प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि हादसा एक तेज धमाके के बाद हुआ था, लेकिन जब तक लोगों को कुछ समझ आता तब तक आग ने विकराल रूप ले लिया था।

इंडिगो की जयपुर-मुंबई फ्लाइट को मिली बम से उड़ाने की धमकी, जांच जारी

एसएसपी दीपक कुमार भी मौके पर मौजूद हैं। पूरे ऑपरेशन की अगुवाई कर रहे हैं। दीपक कुमार ने बताया कि प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक करीब 5.30 बजे के करीब होटल से धुआं निकलने लगा। पुलिस को सूचना करीब 6.15 बजे दी गई। फिलहाल, सर्च ऑपरेशन जारी है। पहली मंजिल पर सर्च चल रहा है। आग की वजहों का अभी पता नहीं चला है। कहा जा रहा है कि शार्ट सर्किट की वजह से आग लगी है।

इस हरकत की वजह से सोशल मीडिया पर हुई एयरटेल की फजीहत

अध्यक्ष विहीन है JPSC, तीन माह पहले ही आयोग ने सरकार को दी थी अध्यक्ष पद खाली होने की सूचना

Om Prakash | 19 November, 2018 1:37 PM
newscode-image

Ranchi : झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) के अध्यक्ष के विद्यासागर का कार्यकाल 13 नवंबर को समाप्त हो गया. के विद्यासागर के बाद वर्तमान में जेपीएससी अध्यक्ष पद रिक्त है. इसी दिशा में पहल करते हुए कार्मिक विभाग मुख्यमंत्री के पास जेपीएससी के अध्यक्ष पद पर नियुक्ति का प्रस्ताव भेज चुका है. मुख्यमंत्री सचिवालय द्वारा तीन नामों पर स्वीकृति होने के बाद इसे अंतिम रूप से निर्णय लेने के लिए राज्यपाल को भेजा जायेगा.

विगत 13 नवंबर को के विद्यासागर का कार्यकाल खत्म होने के बाद जेपीएससी अध्यक्ष के रूप में किसी ने योग्यदान नहीं दिया है. हालांकि, आयोग ने तीन माह पूर्व ही सरकार को अध्यक्ष पद के खाली होने की जानकारी दे दी थी. सूचना के बाद भी सरकार की ओर से इस दिशा में पहल नहीं की गयी. वहीं, किसी को अध्यक्ष पद का प्रभार भी नहीं सौंपा गया. नियमत: अध्यक्ष के हटने पर आयोग के ही वरीय सदस्य को अध्यक्ष का प्रभार दिया जाता है, लेकिन सरकार की तरफ से इस दिशा में पहल नहीं की गयी है. आयोग के वरीय सदस्य के रूप में डॉ एके चट्टोराज एवं डॉ सुखी उरांव कार्य कर रहे हैं. चार सदस्यों में से दो सदस्य ही कार्य रहे हैं, दो सदस्य के पद रिक्त हैं. वहीं, आयोग के सचिव जगजीत सिंह की चुनाव प्रक्रिया में शामिल होने  के लिए तेलंगाना में पदस्थापना कर दी गयी है, जो संभवत: 13 दिसंबर तक तेलंगाना में चुनाव डयूटी में रहेंगे.

 

के विद्यासागर के अध्यक्ष बनने के बाद यह उम्मीद की जा रही थी कि उनके कार्यकाल में ही छठी जेपीएससी सिविल सेवा की मुख्य परीक्षा संपन्न होगी, लेकिन उनका कार्यकाल खत्म होने के बाद ही छठी जेपीएससी सिविल सेवा की मुख्य परीक्षा जनवरी में होनी है. सबसे कमाल की बात रही कि तमाम विवाद के बाद के विद्यासागर द्वारा छठी जेपीएससी सिविल सेवा की मुख्य परीक्षा की तिथियों की घोषण की गयी. अब देखना है कि नये जेपीएससी अध्यक्ष छठी जेपीएससी सिविल सेवा की मुख्य परीक्षा के सफल आयोजन में कितने सफल होते हैं, साथ ही आयोग की कई परीक्षा को सुचारू रूप से कैसे आयोजन करते हैं.

 

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

sun

320C

Clear

Jara Hatke

Read Also

मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी को फिर एक्सटेंशन, मार्च तक बने रह सकते हैं चीफ सेक्रेटरी

Om Prakash | 19 November, 2018 1:32 PM
newscode-image

Ranchi: वर्तमान मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी को दूसरी बार एक्सटेंशन मिल सकता है. सूत्रों के अनुसार, केंद्र से इसकी हरी झंडी भी मिल गई है. फिलहाल सुधीर त्रिपाठी को दिसंबर तक का एक्सटेंशन मिला हुआ है. सूत्रों की मानें तो अगामी लोकसभा चुनाव को देखते हुए उन्हें दोबारा एक्सटेंशन दिया जायेगा. इससे पहले पूर्व मुख्य सचिव एसके चौधरी को तीन महीने का एक्सटेंशन मिला था.

सूत्रों के अनुसार, पीएमओ की पसंद सुधीर त्रिपाठी है. इससे पहले भी जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 23 सिंतबर को झारखंड आये थे, उसी दिन मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी को एक्सटेंशन देने की पटकथा लिखा जा चुकी थी. पीएमओ में कार्यरत वरिष्ठ आइएएस अफसर नृपेंद्र मिश्रा से चर्चा होने के बाद सुधीर त्रिपाठी का एक्सटेंशन कंफर्म हुआ था. सत्ता के गलियारों में चर्चा यह भी है कि पीएमओ में कार्यरत वरिष्ठ आइएएस अफसर नृपेंद्र मिश्रा मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी के संबंधी भी हैं.

वहीं नवंबर-दिसंबर तक केंद्र में भी कई महत्वपूर्ण पद खाली हो रहे हैं. चीफ इंफोरमेशन कमिश्नर(सीआइसी) का 24 नवंबर को कार्यकाल समाप्त हो रहा है. नेशनल कमिश्न फॉर वूमन के भी पांच पद खाली हो रहे हैं. वहीं पीएन संकुल को डिफेंस कंट्रोलर जनरल बनाये जाने की संभावना है.

राजीव गौबा, राजीव कुमार, बीके त्रिपाठी, यूपी सिंह, अलका तिवारी, अमित खरे और एनएन सिन्हा केंद्रीय प्रतिनियुक्ति में हैं. वहीं राज्य में इंदू शेखर चतुर्वेदी, डीके तिवारी, सुखदेव सिंह, केके खंडेलवाल, एल खियांग्यते और अरूण कुमार सिंह सीएस रैंक के अफसर हैं.

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

गुमला : अलग-अलग घटनाओं में तीन की मौत

NewsCode Jharkhand | 19 November, 2018 1:31 PM
newscode-image

गुमला। गुमला में रविवार को अलग अलग घटनाओं में तीन लोगों की मौत हो गई। सदर थाना क्षेत्र के बरिसा तालाब में विवेक एक्का डॉन बॉस्को स्कूल के आठवीं कक्षा के छात्र की नहाने के दौरान डूबने से मौत हो गई।

जबकि डुमरी थाना क्षेत्र के ओखरगढा गांव के एक वृद्ध दंपति की पत्थर से कूच कर हत्या कर दी गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर का सदर अस्पताल गुमला पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

मृतक के पुत्र ने अज्ञात लोगों के विरूद्ध थाने में मामला दर्ज कराया है। पुलिस छानबीन में जुट गयीं है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

More Story

more-story-image

रिश्ता लेकर आए तीन मानव तस्करों को ग्रामीणों ने पकड़ा

more-story-image

गिरिडीह : सड़क हादसे में मुखिया पुत्र की मौत

X

अपना जिला चुने