सरकारी नौकरियों के लिए ऑनलाइन भर्तियां 34 फीसदी घटी

NewsCode | 9 May, 2018 7:03 AM

सरकारी नौकरियों के लिए ऑनलाइन भर्तियां 34 फीसदी घटी

नई दिल्ली| सरकारी सेवाओं के लिए ऑनलाइन भर्तियों की गतिविधियों में अप्रैल में साल-दर-साल आधार पर 34 फीसदी गिरावट दर्ज की गई, जिसमें सरकारी कंपनियों और रक्षा सेवाओं की भर्तियां भी शामिल हैं।

मोंसटर डॉट कॉम की रपट में मंगलवार को यह जानकारी दी गई। अप्रैल के मोंसटर इंप्लाई इंडेक्स में कहा गया है, “सरकार या पीएसयू या रक्षा (34 फीसदी की गिरावट) ने सभी निगरानी उद्योग क्षेत्रों में सबसे ज्यादा सालाना गिरावट दर्ज की है।”

रपट में कहा गया है कि अप्रैल में देश में सभी प्रमुख उद्योगों में भर्तियों में पिछले साल के अप्रैल की तुलना में औसतन 11 फीसदी की तेजी दर्ज की गई।

रपट के मुताबिक, उत्पादन और विनिर्माण क्षेत्र में भर्तियों में समीक्षाधीन माह में सबसे अधिक तेजी दर्ज की गई है।

रपट में कहा गया है, “मोंस्टर इम्प्लायमेंट इंडेक्स अप्रैल 2018 में ऑनलाइन भर्ती गतिविधियों में साल-दर-साल आधार पर 11 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई, जिसमें उत्पादन और विनिर्माण क्षेत्र में सबसे अधिक 54 फीसदी की तेजी दर्ज की गई।”

इस देश में हुआ शिंजो आबे का अपमान, जूतों में परोसा खाना!

वहीं, दूरसंचार और इंटरनेट सेवा प्रदाताओं के क्षेत्र में ऑनलाइन भर्तियों में 28 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई।

शर्मनाक! टॉफी देने के बहाने चाचा ने 6 साल की बच्ची से किया दुष्कर्म, गिरफ्तार

आईएएनएस

VIDEO: भीड़ से भिड़कर सिख पुलिसवाले ने बचाई मुस्लिम लड़के की जान, लोग कर रहे सलाम

NewsCode | 25 May, 2018 8:25 PM

VIDEO: भीड़ से भिड़कर सिख पुलिसवाले ने बचाई मुस्लिम लड़के की जान, लोग कर रहे सलाम

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर एक सिख पुलिसकर्मी का वीडियो तेजी से वायरल हुआ है। इस वीडियो में एक पगड़ी वाला पुलिसकर्मी एक मुस्लिम लड़के को आक्रोशित भीड़ से बचाता दिख रहा है। अगर ये पुलिसकर्मी नहीं होता तो शायद लड़का भीड़ की भेंट चढ़ जाता। बताया जा रहा है कि ये वीडियो उत्तराखंड के नैनीताल जिले का है और पुलिसकर्मी की पहचान सब इंस्पेक्टर गगनदीप सिंह के रूप में हुई है। ये घटना 22 मई की बताई जा रही है।

मंदिर में बैठे थे मुस्लिम लड़का- हिंदू लड़की

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, 22 मई को नैनीताल जिले के रामनगर से 15 किलोमीटर दूर गिरिजा गाँव में एक मंदिर में लड़का-लड़की बैठे हुए थे। उन्हें साथ बैठा देख वहां मौजूद कुछ लोगों ने उनसे पूछताछ करना शुरू कर दी। बातचीत में खुलासा हुआ कि लड़का मुस्लिम और लड़की हिंदू है। ये दोनों मिलने के लिए मंदिर पहुंचे थे।

लोगों को जैसे ही पता चला कि लड़का मुस्लिम है तो उन्होंने उसे घेरना शुरू कर दिया और देखते ही देखते भीड़ जमा हो गयी है। उन्होंने उसके साथ धक्का-मुक्की शुरू कर दी। इस बीच लड़की ने बचाव करने की कोशिश की तो लोगों ने उसे धक्का देकर साइड कर दिया।

भीड़ ने युवक को पीटा

लोगों की भीड़ बढ़ती गई और उन्होंने मुस्लिम लड़के के साथ मारपीट शुरू कर दी। इस बीच सूचना मिलने पर सब इंस्पेक्टर गगनदीप सिंह और अन्य पुलिसकर्मी भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने स्थिति के नियंत्रित करने की कोशिश की लेकिन लोग बहुत गुस्से में थे। ऐसे में सबसे पहले गगनदीप ने मुस्लिम लड़के को अपने साथ ले जाने लगे।

इंस्पेक्टर ने खुद को बना लिया शील्ड

भीड़ में मौजूद लोग पुलिस के आने पर भी रुके नहीं और वो मुस्लिम युवक को मारते रहे। युवक को बचाने के लिए गगनदीप ने उसे अपने पास खींच लिया और सीने से चिपका लिया। वे उसे लोगों की मार से बचाते रहे और भीड़ के आगे अकेले वे डटे रहे और मुस्लिम युवक को खुद से अलग नहीं किया। जैसे-तैसे पुलिस युवक को भीड़ से बचाकर वहां से ले गई।

बताया जा रहा है कि लड़का और लड़की दोनों बालिग हैं। पुलिस ने थाने पहुंचकर लड़की के माता-पिता को सूचना दी और पूरी घटना के बारे में बताया। इसके साथ ही पुलिस ने युवक-युवती को भी समझाया, जिसके बाद उन्हें जाने दिया गया।

गगनदीप की बहादुरी की लोग जमकर तारीफ कर रहे हैं। खुद की परवाह किए बगैर चारों ओर भीड़ से घिरे होने के बावजूद उन्होंने युवक का बचाव करना नहीं छोड़ा। सोशल मीडिया पर लोगों ने राय दी कि इन जैसे पुलिसकर्मियों का सम्मान किया जाना चाहिए, ताकि वे एक मिसाल बन सकें।

रोजा तोड़कर जावेद ने कुछ यूं बचाई पुनीत की जिंदगी, पेश की कौमी एकता की मिसाल

पत्नी पर हुआ शक तो पति ने बेडरूम में लगवाया कैमरा, पता चलने पर बीवी ने कर दी एफआईआर

Read Also

रांची : बीएयू के नाराज कर्मचारियों का उग्र प्रदर्शन, कुलपति के खिलाफ आक्रोश

NewsCode Jharkhand | 25 May, 2018 8:20 PM

रांची : बीएयू के नाराज कर्मचारियों का उग्र प्रदर्शन, कुलपति के खिलाफ आक्रोश

कर्मचारियों पर की गई कार्रवाई का विरोध  

रांची। बिरसा कृषि विश्वविद्यालय प्रशासन की कार्रवाई से शिक्षकेतर कर्मचारियों उग्र हो गए है। प्रशासन द्वारा 6 कर्मचारियों पर की गई कार्रवाई और पूर्व में सात चौकीदारों की बर्खास्तगी से नाराज कर्मचारियों ने मुख्यालय के मुख्य द्वार पर किसी भी वाहन को प्रवेश नहीं करने दिया।

कुलपति के प्रति आक्रोश व्यक्त कर नारेबाजी की। धरना स्‍थल पर रांची के सांसद रामटहल चौधरी और मानवाधिकार आयोग और अपराध नियंत्रण संगठन के अध्यक्ष पहुंचे।

सांसद के साथ सांसद प्रतिनिधि नसीब लाल महतो और जिला परिषद सदस्‍य अनिल टाईगर भी थे। उन्होंने कर्मचारियों की मांगों को उचित बताया।

सांसद ने कहा कि सातवां वेतनमान सभी सरकारी विभाग में लागू हो चुका है। प्रमोशन, एमएसीपी, एसीपी की मांगें भी जायज है। रिटायमेंट उम्र सीमा 60 से 62 तुरंत लागू करना चाहिए, क्योंकि ये सभी विश्वविद्यालय में लागू है।

रांची : NSUI के नवनिर्वाचित उपाध्यक्ष इन्द्रजीत सिंह का हुआ अभिनंदन

कर्मचारियों पर एफआईआर और बर्खास्त करने की कार्रवाई विवि प्रशासन को नहीं करनी चाहिए। इसे यथाशीघ्र वापस ले लेना चाहिए। उन्‍होंने कुलपति से बात भी की।

वार्ता के बाद सांसद ने कहा कि सारी बातें कुलपति को बता दी है। वे कर्मचारियों से पुनः वार्ता करेंगे। उन्‍होंने एक सकारात्मक समझौते के साथ धरना स्थगित करने की उम्मीद जताई।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

रांची : NSUI के नवनिर्वाचित उपाध्यक्ष इन्द्रजीत सिंह का हुआ अभिनंदन

NewsCode Jharkhand | 25 May, 2018 8:04 PM

रांची : NSUI के नवनिर्वाचित उपाध्यक्ष इन्द्रजीत सिंह का हुआ अभिनंदन

‘पार्टी के लिए करेंगे इमानदारी से काम’

रांची। कांग्रेस भवन में NSUI के नवनिर्वाचित उपाध्यक्ष इन्द्रजीत सिंह का अभिनंदन किया गया। इन्द्रजित सिंह ने कहा कि अपनी पूरी टीम के साथ ऊर्जा के साथ पार्टी के लिए  मेहनत और ईमानदारी से काम  करूंगा।

उन्‍होंने कहा कि ये जीत छात्रों की जीत है। सभी ने उन पर भरोसा किया है। छात्रों के हित के लिए सदैव उपस्थित रहूंगा। गुलदस्ता देकर उन्हें सम्मानित किया गया।

रांची : रविवार को लगेगा निःशुल्क स्वास्थ्य सेवा शिविर, कई विशेषज्ञ करेंगे जांच

मौके पर कांग्रेस के प्रवक्ता राजेश ठाकुर, प्रवक्ता राजीव रंजन, प्रवक्ता शमशेर आलम, ग्रामीण अध्यक्ष सुरेश बैठा सहित कई कांग्रेस नेता मौजूद रहे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

X

अपना जिला चुने