रांची : लालू यादव के चहरे में आई सूजन, नही ले रहे हैं इंसुलिन

NewsCode Jharkhand | 26 March, 2018 6:18 PM
newscode-image

रांची। रिम्स में इलाजरत लालू यादव की तबियत में कोई सुधार नही आया है। रिम्स डायरेक्टर की माने तो लालू यादव की सर्जिकल प्रॉब्लम तो ठीक हो गयी है लेकिन उनका शुगर लेबल काफी बढ़ा हुआ है।  उनका शुगर लेबल 180 पाया गया है। क्रिटिन अभी भी 1 .7  है जबकि क्रिटिन लेवल 1.1 होना चाहिए। जो चिंता का विषय है।

रांची : समाज का नजरिया बदल रहे अविनाश, लाखों की नौकरी छोड़ शुरू किया खुद का जिम

 डायरेक्टर आरके श्रीवास्तव का कहना है कि शुगर लेबल बढ़ने और किडनी में समस्‍या होने के कारण लालू प्रसाद यादव के चहरे में सूजन आ गयी है। चारा घोटाला मामले सजा काट रहे पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को रिम्स के सुपर स्पेसिलिटी कर्डियोलॉज़ी विभाग में भर्ती कराया गया है। जिसके बाद रिम्स  डॉक्टरो द्वारा लगातार इलाज किया जा रहा है। रिम्स के डायरेक्टर ने कहा कि लालू इन्सुलिन लेने से मना कर रहे।

जो उनके लिए चिंता का विषय बना हुआ है। रिम्स प्रबंधन ने काफी पहले ही जेल प्रशासन को लालू यादव को एम्स या किसी उच्च संस्थान में ले जाने की बात कही थी। रिम्स निदेशक ने कहा लालू प्रसाद की स्थिति को देखते हुए आज फिर मेडिकल बोर्ड की बैठक होगी।जिसके बाद यह निर्णय लिया जाएगा कि आगे क्या एक्शन लिया जाए।

जेल प्रशासन ने भेजा पत्र, हो रही तैयारी, तब तक रिम्स में रखें

जेल प्रशासन ने रिम्स अधिकारियों को एक पत्र भेजा है। इसमें कहा गया है कि मेडिकल बोर्ड की अनुशंसा पर उन्हें एम्स भेजने की कार्रवाई की जा रही है। जब तक ऐसा नहीं हो जाता। उन्हें रिम्स में रखकर इलाज किया जाए। जेल प्रशासन के पत्र की सूचना उनका इलाज कर रहे डॉ. उमेश प्रसाद को दे दी गई है।

मुलाकात पर रोक

लालू से मिलने वालों पर भी लगभग रोक लगा दी गई है। शनिवार को जेल प्रशासन की अनुमति के बाद ही शत्रुघ्न सिन्हा और अन्य नेता मिल पाए थे। जेल प्रशासन की सख्ती के बाद किसी को भी लालू प्रसाद से नहीं मिलने दिया जा रहा है। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी, राजद नेता अन्नपूर्णा देवी, संजय यादव समेत कई नेताओं को मिलने नहीं दिया गया।

जमशेदपुर : छुुुुट्टी मांगी, न‍हीं मिली, गर्भावस्‍था के पांंचवें माह में ड्यूूटी करने को मजबूर सुरक्षाकर्मी

NewsCode Jharkhand | 26 September, 2018 3:58 PM
newscode-image

एमजीएम अस्पताल की संवेदनहीनता

जमशेदपुर। जमशेदपुर का एमजीएम अस्पताल इन दिनों फिर से सुर्खियों में है। वैसे इस बार यह अस्पताल अलग ही तरह के कारनामों को लेकर सुर्खियों में है।

इस अस्पताल की लापरवाही की खबरें तो आम बात है, लेकिन इस बार इस अस्पताल में काम कर रही महिला सुरक्षाकर्मियों की क्या स्थिति है, यह बता रहे हैं।

किस तरह 8 महीने की गर्भवती महिला सुरक्षाकर्मी ड्यूटी करने को मजबूर है। ऐसा नहीं है कि उस महिला कर्मी ने छुट्टी के लिए गुहार नहीं लगाई थी।

इस महिला ने प्रेगनेंसी लीव का आवेदन दिया था, लेकिन अस्पताल प्रबंधन या होमगार्ड  के वरीय अधिकारी इस महिला के आवेदन को निरस्त करते हुए इतना ही कहा कि जब तुम्हें परेशानी होगी तो तुम्हें छुट्टी दे दी जाएगी।

ठीक से खड़ी नहीं हो पा रही महिला ड्यूूटी करने को मजबूर

अब सवाल यह उठता है कि आखिर 8 महीने की गर्भवती महिला को क्या परेशानी नहीं हो रही होगी ?  क्या एमजीएम अस्पताल प्रबंधन और झारखंड सरकार का गृह रक्षा वाहिनी विभाग इतना संवेदनहीन हो गया है कि जो महिला अपने पैरों पर खड़ी नहीं हो पा रही, उसे अस्पताल की सुरक्षा में लगा दिया गया।

वैसे यह कोई पहली महिला नहीं है, जो गर्भवती होने के बाद भी ड्यूटी बजा रही है, बल्कि इनकी जैसी और भी एक महिला सुरक्षाकर्मी यहां ड्यूटी पर तैनात है।

पांचवें माह से ही प्रेगनेंसी लीव दिए जाने का है प्रावधान

ऐसे में सवाल उठना लाजिमी है कि आखिर सरकारी योजना जिसके तहत महिलाओं को पांचवें माह से ही प्रेगनेंसी लीव दिए जाने का प्रावधान है, उसका उल्‍लंघन हो रहा है। यदि महिला होमगार्ड की जवान के साथ कुछ अनहोनी हो जाए तो उसके लिए कौन जिम्मेवार होगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

NewsCode Jharkhand | 26 September, 2018 3:19 PM
newscode-image

लोहरदगा। शहर के बड़ा तालाब, जामा मस्जिद आदि क्षेत्रों में नगर परिषद की ओर से अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया गया। अभियान में लोहरदगा सदर अंचलाधिकारी परमेश्वर कुशवाहा, सदर थाना प्रभारी पुलिस निरीक्षक शैलेश प्रसाद, नगर परिषद के सिटी मैनेजर आफताब आलम सहित कई अधिकारी और पुलिस बल के जवान मौजूद थे। अतिक्रमण अभियान के दौरान किसी भी प्रकार की स्थिति से निपटने के लिए भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया था। अतिक्रमण का दोषी पाए जाने पर, ऑन द स्‍पॉट कई दुकानदारों पर जुर्माना भी लगाया गया। नगर परिषद के इस अभियान से दुकानदारों में भी डर का माहौल देखा जा रहा है।

लोहरदगा : अतिक्रमण हटाओ अभियान से दुकानदारों में हड़कंप

सर्वोच्च न्यायालय द्वारा अतिक्रमण को लेकर महत्वपूर्ण निर्देश दिए जाने के बाद से नगर परिषद अतिक्रमण हटाने को लेकर अभियान चला रहा है। इस दौरान क्षेत्र के अलग-अलग हिस्सों में दुकानदारों द्वारा अतिक्रमण किए जाने का मामला सामने आने पर, अतिक्रमण हटाने को लेकर अभियान चलाया जा रहा है। इससे पहले नगर परिषद ने कई बार दुकानदारों को चेतावनी देते हुए अतिक्रमण नहीं करने का निर्देश दिया था। बावजूद इसके अतिक्रमण होने की वजह से सड़कें संकरी हो गई थी और आए दिन दुर्घटनाएं हो रही थी। जिसकी वजह से नगर परिषद और अंचल प्रशासन ने अतिक्रमण हटाने को लेकर जोरदार अभियान चलाया।

लोहरदगा : टेबल-कुर्सी ही संभालते हैं कार्यालय, मत्स्य अधिकारी रहते हैं गायब 

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

चाईबासा : शहर का होगा सौंदर्यीकरण, मनोरंजन से लेकर खेल-कूद तक की सुविधाएं होंंगी उपलब्‍ध

NewsCode Jharkhand | 26 September, 2018 3:00 PM
newscode-image

आयुक्त और उपायुक्त ने  बहायेे  धूप में  पसीनेे

जनता की सुविधाओं का विशेष ख्याल रखने केे दियेे गयेे निर्देश

चाईबासा। राज्य सरकार ने आदिवासी बहुल कोल्हान प्रमंडल और प सिंहभूम जिला मुख्यालय व चाईबासा शहर के सौंदर्यीकरण के लिए एक योजना तैयार की है।

यहां आमजनता के लिए पार्क, मनोरंजन स्थल, मॉर्निंग वॉक स्थल, खेल केे  मैदान, जिमखाना, मैैरेेज हॉल, जिम, सामुदायिक हॉल सहित कई सुविधाएं शामिल होंगी।

आदिवासियों को सुविधा मुहैया कराने को लेकर  राज्य सरकार विशेष ध्यान

सभी योजनाओं मेें जनता की  सुविधा का विशेष ख्याल रखने का निर्देश दिया गया है। गौरतलब है कि चाईबासा में पीएम द्वारा मेडिकल कॉलेज की आधारशिला रखे जाने के बाद  आदिवासियों की सुविधाओं पर राज्य सरकार विशेष ध्यान देना चाहती है।

इसी के तहत आज कोल्हान आयुक्त विजय कुमार सिंह और उपायुक्त अरवा राजकमल ने सुबह आठ बजे से ही कड़़ी़ धूप में तीन घंटे तक पसीना बहाया।

इस मौके पर सदर एसडीओ, नगर पर्षद के अधिकारी, कई विभागों के अधिकारी और चाईबासा चैम्बर के पदाधिकारी मौजूद रहे।

चाईबासा :  स्वच्छता ही स्वस्थ जीवन का मूल मंत्र है-राम नारायण खलखो

आयुक्त और उपायुक्त ने कई स्थलों का निरीक्षण किया। जिसमें शहर के बीचोंं- बीच स्थित जोड़़ा तालाब को चिन्हित किया गया।  इसके बाद कोल्हान के सबसे बड़ेे डेली सब्जी मार्केट मंगला हाट का सौंदर्यीकरण करने के साथ सभी फुटपाथ व सब्जी दुकानदारों के लिए चबूूतरा बनाने का फैसला लिया गया।

अब सिंहभूम स्पोर्ट्स मैैदान में होगा गणतंत्र दिवस समारोह

सबसे बड़ा फैसला आयुक्त और उपायुक्त ने 26 जनवरी को होने वाले परेड और सरकारी विभाग के प्रदर्शनी को लेकर किया है। अब तक पुलिस लाइन में ही 26 जनवरी के परेड  और प्रदर्शनी होतेे रहेे हैंं, लेकिन इस बार पुलिस लाइन के बजाय सिंहभूम स्पोर्ट्स मैैदान में इस आयोजन को करने का फैसला लिया गया है।

पांच हजार  स्‍‍ट्रेंथ वाले बनेंगे दो गैलरी

इसके लिए दोनों अधिकारियों नेे सिंहभूम स्पोर्ट्स मैदान का भी निरीक्षण किया और मैदान के पूर्वी और पश्चिम दिशा में पांच हजार  स्‍‍ट्रेंथ वाले  दो गैलरी  बनाने का भी निर्देश दिया।

आम जनता के लिए पश्चिम दिशा में एक गेट बनाने का भी निर्णय लिया गया। चाईबासा चैम्बर ऑफ कॉमर्स ने राज्य सरकार, आयुक्त और उपायुक्त के इस पहल की सराहना करते हुए कहा कि चाईबासा प्रारंभ से ही उपेक्षित रहा है, लेकिन जोड़ा तालाब, मंगलाहाट, सिंहभूम स्पोर्ट्सस मैदान का सौंदर्यीकरण करना  बहुत बड़ी बात होगी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

चाईबासा : स्वच्छता ही स्वस्थ्य जीवन का मूल मंत्र है-रामनारायण...

more-story-image

चक्रधरपुर : आकर्षक मन्दिर रूपी पंडाल बना रहा है, श्रीश्री...