10 लाख से ज्यादा बैंक कर्मचारी हड़ताल पर, जानिए क्या हैं मांगे

NewsCode | 22 August, 2017 12:22 PM
newscode-image

नई दिल्ली। बैंकों के विलय को लेकर विरोध एवं श्रम कानूनों में परिवर्तन को लेकर सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के कर्मचारी आज हड़ताल पर हैं। इसके कारण सामान्य बैंकिंग गतिविधियां प्रभावित हो रही हैं। हड़ताल की कॉल यूनाइटेड फोरम आफ बैंक यूनियन (यूएफबीयू) के तत्वाधान में विभिन्न यूनियनों ने किया है।

बैंक यूनियनों की मांग है कि केन्द्र सरकार द्वारा मर्जर की प्रक्रिया को रोका जाए और देशभर में बैंक कर्मियों को नोटबंदी के दौरान किए गए ओवरटाइम का भुगतान बतौर बोनस किया जाए।

हालांकि प्राइवेट बैंकों में इस हड़ताल का कोई असर देखने को नहीं मिलेगा। हड़ताल में उनके तीन मुद्दों पर विरोध और छह मांगे शामिल हैं। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन (यूएफबीयू) के आह्वान पर देश के 10 लाख बैंक कर्मचारी हड़ताल पर हैं।

इन बैंकों के कर्मचारी हैं हड़ताल पर-

एसबीआई, पीएनबी, बैंक ऑफ बडौदा, इलाहाबाद बैंक, यूनियन बैंक, यूको आदि बैंकों के अधिकारी- कर्मचारी यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन के बैनर तले आज हड़ताल पर हैं।

परेशानी से ऐसे बचे-

हड़ताल का असर बैंक ब्रांचों में कैश ट्रांजेक्‍शन और चेक क्‍लीयरिंग जैसे फाइनेंशियल सर्विसेज पर दिख रहा है, लेकिन इंटरनेट, मोबाइल बैंकिंग सर्विसेज, पीओएस मशीनों और एटीएम आदि के कारण कस्‍टमर पर ये असर सीमित है। ग्राहक इन सुविधाओं का उपयोग कर परेशानी से बच सकते हैं।

जम्मू-कश्मीर: कॉन्स्टेबल की अगवा कर आतंकियों ने की हत्या, 2 माह में तीसरा मामला

NewsCode | 21 July, 2018 7:40 PM
newscode-image

कुलगाम। जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में शुक्रवार रात जिस जवान का आतंकियों ने अपहरण किया था, उसके गोलियों से छलनी क्षत-विक्षत शरीर को कैमोह घाट क्षेत्र से बरामद कर लिया गया है। पुलिस कॉन्स्टेबल का नाम मोहम्मद सलीम है।

शनिवार शाम उनका गोलियों से छलनी शव मिला है। पिछले दो महीनों में आतंकियों ने मोहम्‍मद सलीम खान समेत तीन जवानों की अगवा करने के बाद हत्या कर दी है। इससे पहले दो जवानों औरंगजेब और जावेद डार की हत्‍या कर दी गई थी।

इस आतंकी वारदात की सूचना मिलते ही जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस, सीआरपीएफ और भारतीय सेना के जवानों की संयुक्‍त टीम ने कॉन्‍स्‍टेबल सलीम की सुरक्षित वापसी के लिए सघन तलाशी अभियान शुरू किया है। सुरक्षाबलों ने संयुक्‍त टीम ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर डोर टू डोर सर्च ऑपरेशन चला रही है।

पश्चिम बंगाल: शहीद दिवस पर गरजीं ममता बनर्जी, ‘बीजेपी हटाओ, देश बचाओ’ का दिया नारा

बता दें कि सेना और पुलिस द्वारा ऑपरेशन ऑलआउट से बौखलाए आतंकी लगातार जवानों को निशाना बना रहे हैं। इससे पहले शोपियां के कचडूरा इलाके के निवासी जम्मू-कश्मीर पुलिस के कॉन्स्टेबल जावेद हमीद डार को अगवा कर हत्या कर दी थी। उनका शव कुलगाम के परिवान में सुबह स्थानीय लोगों द्वारा पाया गया।

LIVE: चाहे साइकिल हो या हाथी, कोई भी हो साथी, स्वार्थ के इस पूरे स्वांग को देश समझ चुका है: पीएम मोदी

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

चतरा : शांतिपूर्ण संपन्न हुई हिंदी टिप्पण व प्रारूपण की परीक्षा

NewsCode Jharkhand | 22 July, 2018 6:20 PM
newscode-image

चतरा। स्थानीय प्लस टू हाई स्कूल में रविवार को कई सरकारी विभाग के कर्मचारियों की हिन्दी टिप्पण व प्रारूपण परीक्षा का आयोजन किया गया। परीक्षा शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न हुआ। इस परीक्षा में कुल 198 कर्मचारियों को परीक्षा देना था, जिसमें कि 131 परीक्षार्थी उपस्थित हुए। शेष बचे 67 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे।

चतरा : जेल अदालत का आयोजन, एक कैदी को मिली रिहाई

जबकि परीक्षा को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए केंद्राधीक्षक के रूप में सदर अंचलाधिकारी यामुन रविदास, मजिस्ट्रेट के रूप में हंटरगंज अंचलाधिकारी रामसुमन कुमार, विद्यालय के प्राचार्य देव कुमार मिश्रा समेत पुलस बल के जवान उपस्थित थे।

केंद्राधीक्षक व मजिस्ट्रेट ने बारी-बारी से परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण भी किया। अंचलाधिकारी ने बताया कि शांतिपूर्ण परीक्षा के लिए 29 वीक्षकों को लगाया गया था। इस परीक्षा में पुलिस प्रशासन, शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग, समाहरणालय सहित अन्य कई विभागों के कर्मचारी शामिल हुए।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

जमशेदपुर : सूर्य सिंह बेसरा ने तीसरा मोर्चा बनाया, कहा- पूरे 81 सीटों पर विस चुनाव लड़ेगी झारखंड पीपुल्स पार्टी

NewsCode Jharkhand | 22 July, 2018 6:18 PM
newscode-image

जमशेदपुर झारखंड में सत्ताधारी पार्टी बीजेपी और महा गठबंधन की दिशा में जा रहे जेएमएम और अन्य राजनीतिक पार्टियों के खिलाफ पूर्व विधायक सह आजसू के संस्थापक और वर्तमान में झारखंड पीपुल्स पार्टी के मुखिया सूर्य सिंह बेसरा ने आगामी चुनाव में जाने के लिए तीसरा मोर्चा का बिगुल फूंका।

उन्‍होंने कहा कि राजनीतिक, सामाजिक संस्थाओं का समर्थन ले झारखंड के मूल वासियों के उत्थान के लिए पूरे 81 सीटों पर विधान सभा चुनाव लड़ेगी झारखंड पीपुल्स पार्टी। यह आम लोगों के लिए तीसरा विकल्प है।

जमशेदपुर : जिला मुख्यालय सभागार में स्वच्छ्ता सर्वेक्षण 2018 को लेकर बैठक आयोजित

झारखंड में तमाम राजनीतिक पार्टियों के चुनावी रणनीति को चुनौती देने के लिए उभरे तीसरे विकल्प के रूप में झारखंड पीपुल्स पार्टी और अन्य सहयोगी संस्थाओं ने रविवार को जमशेदपुर के आदिवासी एसोसिएशन में झारखंड नवनिर्माण महासभा जनमतके नाम से एक सभा किया।

यहां मुख्य रूप से तीसरे विकल्प के मुखिया सूर्य सिंह बेसरा और कोल्हान के सुदूर क्षेत्रों से आये स्थानीय आदिवासी नेता उपस्थित हुए। महासभा में खतियानधारी को जनमत का विकल्प बताते हुए नेताओं ने सभा को संबोधित किया।

वहीं सूर्य सिंह बेसरा ने कहा अब झारखंड में अवसरवाद की राजनीति से यहां के मूलवासियों को छुटकारा चाहिए। इस कारण तीसरा विकल्प बनाना पड़ा और इसी विकल्प के माध्यम से आगामी 2019  के चुनाव को आम आदमी पार्टी की तरह झारखंड के सभी सीटों को जीत यहां के मूल भाषा भाषियों का उत्थान करेंगे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

चतरा : जेल अदालत का आयोजन, एक कैदी को मिली...

more-story-image

छात्र संघ चुनाव तय समय पर हो - अभिनव भगत